जस्टिस गीता मित्तल ने जम्मू-कश्मीर हाईकोर्ट की पहली महिला मुख्य न्यायाधीश की शपथ ली

तीन अगस्त को ही सिंधू शर्मा जम्मू-कश्मीर हाईकोर्ट की पहली महिला जज बनी थीं

DainikBhaskar.com| Last Modified - Aug 14, 2018, 11:06 AM IST

Justice Gita Mittal oath as First woman Chief Justice of JnK High Court
जस्टिस गीता मित्तल ने जम्मू-कश्मीर हाईकोर्ट की पहली महिला मुख्य न्यायाधीश की शपथ ली

श्रीनगर.  जस्टिस गीता मित्तल ने शनिवार को जम्मू-कश्मीर हाईकोर्ट के मुख्य न्यायाधीश पद की शपथ ली। वे पहली महिला जज हैं, जिन्हें इस हाईकोर्ट में चीफ जस्टिस नियुक्त किया गया। जस्टिस बदर दुरेज अहमद के मार्च में रिटायरमेंट के बाद से यह पद खाली था। जस्टिस मित्तल इससे पहले दिल्ली हाईकोर्ट में कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश थीं। कॉलेजियम ने चार अगस्त को उनकी नियुक्ति का आदेश जारी किया था।

जस्टिस मित्तल ने दिल्ली विश्वविद्यालय से लॉ की पढ़ाई करने के बाद 1981 में वकालत शुरू की। जुलाई 2004 में दिल्ली हाईकोर्ट में एडिशनल जज नियुक्त हुईं। फरवरी 2006 में वह स्थायी जज बनाई गईं। अप्रैल 2017 में चीफ जस्टिस जी रोहिणी के रिटायरमेंट के बाद कार्यवाहक मुख्य न्यायाधीश की जिम्मेदारी मिली। जस्टिस मित्तल कानून और न्याय प्रक्रिया से जुड़ी पहली महिला हैं, जिन्हें देश में सर्वोच्च नारी शक्ति पुरस्कार मिला। इसी साल राष्ट्रपति रामनाथ कोविंद ने उन्हें यह पुरस्कार दिया था। 

 


 

दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now