केरल में बाढ़ से अब तक 37 लोगों की मौत, 31 हजार को राहत कैंपों में भेजा; 72 घंटे तक रेड अलर्ट

राज्य में कई जगह बारिश रुकी, लेकिन बाढ़ का खतरा अब भी बरकरार

DainikBhaskar.com| Last Modified - Aug 11, 2018, 08:11 PM IST

1 of
Kerala : Red alert till August 14 for Wayanad and August 13 for Idukki
वायनाड जिले में 14 अगस्त और इडुक्की जिले में 13 अगस्त तक रेड अलर्ट घोषित किया गया है।

- केरल के आठ जिलों में आर्मी तैनात, मुन्नार में फंसे 54 पर्यटक निकाले गए
- नेवी, एयरफोर्स, कोस्टगार्ड और एनडीआरएफ की टीमें तैनात

 

कलपेट्‌टा. केरल में शनिवार को बारिश नहीं हुई, लेकिन आधे राज्य में बाढ़ के हालात बने हुए हैं। इडुक्की में एक दिन पहले एशिया के सबसे बड़े बांध के पांचों गेट खोले गए थे। इससे हर सेकंड पांच लाख लीटर पानी बाहर आया। बारिश और बाढ़ के चलते राज्य में अब तक 37 लोगों की मौत हुई। जबकि 31 हजार को सेना और एनडीआरएफ ने राहत शिविरों में पहुंचाया। गृह मंत्री राजनाथ सिंह रविवार को केरल के बाढ़ प्रभावित इलाकों का दौरा करेंगे। मौसम विभाग ने अगले 72 घंटों में भारी बारिश का अलर्ट जारी किया है।

मुख्यमंत्री पी विजयन ने शनिवार को नेता विपक्ष रमेश चेन्निथला के साथ उत्तरी केरल के वायनाड, कलपेट्‌टा समेत अन्य बाढ़ग्रस्त इलाकों का हवाई दौरा किया। पहले वे इडुक्की जा रहे थे, लेकिन खराब मौसम की वजह से दौरा रद्द कर दिया। फिलहाल वायनाड जिले में 14 अगस्त और इडुक्की जिले में 13 अगस्त तक रेड अलर्ट घोषित किया गया है। केरल के ऊर्जा मंत्री एमएम मणि ने कहा कि बारिश की रफ्तार अब धीमी हो गई है। इस वजह से इडुक्की डैम का जलस्तर भी घट गया है।

राज्य में बारिश, बाढ़ और भूस्खलन से 54 हजार से ज्यादा लोग बेघर हुए हैं। इनके लिए 439 राहत शिविर बनाए गए हैं। बाढ़ प्रभावित इडुक्की, कन्नूर, कोझीकोड, पनामारम, वायनाड और मलप्पुरम जिलों में राहत और बचाव के लिए सेना की आठ टुकड़ियां तैनात की गई हैं। नेवी की चार और कोस्टगार्ड की तीन टीमों को भी अलर्ट पर रखा गया है। जवानों ने मुन्नार में फंसे 54 पर्यटकों को सुरक्षित निकाल लिया है। इनमें 24 विदेशी हैं। 

इडुक्की के पांचों गेट खोले गए : 40 साल में पहली बार शुक्रवार को इडुक्की बांध के सभी पांचों गेट खोल दिए गए। इससे पांच लाख लीटर पानी हर सेकंड छोड़ा जा रहा है। फिलहाल डैम का जलस्तर 2401 फीट है। एक दिन में इसमें सिर्फ दो फीट पानी कम हुआ है।  मुख्यमंत्री विजयन ने बताया कि पेरियार नदी का जलस्तर लगातार बढ़ रहा है। ऐसे में इडुक्की बांध से तय सीमा से तीन गुना पानी छोड़ने की जरूरत है। 

सात राज्यों में अब तक 718 लोगों की मौत : गृह मंत्रालय ने शुक्रवार को सदन में बताया कि इस साल मानसून के दौरान सात राज्यों में 718 लोगों की मौत हुई है। सबसे ज्यादा केरल में 178 लोगों ने जान गंवाई। इसके बाद उत्तर प्रदेश है, जहां 171 लोगों की मौत हो गई। 

राज्य मौतें
केरल 178
उत्तरप्रदेश 171
बंगाल 170
महाराष्ट्र 139
गुजरात 52
असम 44 
नगालैंड 8
कुल 718
Kerala : Red alert till August 14 for Wayanad and August 13 for Idukki
कोचिकोड जिले में ऐसा हाल है।
Kerala : Red alert till August 14 for Wayanad and August 13 for Idukki
शनिवार को इडुक्की डैम में जलस्तर 2403 से 2401 फीट हो गया।
Kerala : Red alert till August 14 for Wayanad and August 13 for Idukki
केरल में हर तरफ बाढ़ का पानी भरा हुआ है।
Kerala : Red alert till August 14 for Wayanad and August 13 for Idukki
एर्नाकुलम जिले में लोग घुटनों तक पानी में रह रहे हैं।
Kerala : Red alert till August 14 for Wayanad and August 13 for Idukki
पेरियार नदी का पानी अलुवा जिले में घुस गया है।
Kerala : Red alert till August 14 for Wayanad and August 13 for Idukki
पलक्कड में बुजुर्ग महिला को इस तरह बाढ़ग्रस्त इलाके से बाहर निकाला गया।
Kerala : Red alert till August 14 for Wayanad and August 13 for Idukki
कई इलाकों में भूस्खलन की वजह से मकान ढह गए हैं।
Kerala : Red alert till August 14 for Wayanad and August 13 for Idukki
बाढ़ की वजह से इडुक्की में काफी वाहन भी डूब गए।
Kerala : Red alert till August 14 for Wayanad and August 13 for Idukki
कई जिलों में इतना पानी भर गया है कि अधिकतर घर डूब गए हैं।
Kerala : Red alert till August 14 for Wayanad and August 13 for Idukki
डैम से छोड़े गए पानी के कारण इडुक्की के निचले इलाकों में पानी भर गया है।
prev
next
Topics:
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now