आतंकी बेटे के एनकाउंटर में घिरने की खबर सुनी तो पिता की दिल का दौरा पड़ने से मौत

आतंकी जीनत नायकू को बचाने का मस्जिद से ऐलान किया गया

DainikBhaskar.com| Last Modified - Jul 14, 2018, 11:39 AM IST

Man dies after hearing militant son trapped in encounter
आतंकी बेटे के एनकाउंटर में घिरने की खबर सुनी तो पिता की दिल का दौरा पड़ने से मौत

श्रीनगर. कश्मीर के एक गांव में बीते तीन दिनों में तीन आम नागरिकों की की मौत हुई है। सात साल के एक बच्चे की ग्रेनेड से खेलते वक्त हुए धमाके से जान चली गई। 60 साल के एक पिता की आतंकी बेटे के एनकाउंटर में फंसे होने की खबर सुनकर हार्ट अटैक से मौत हो गई। वहीं, 16 साल का एक लड़का सेना की गोली से मारा गया। वह आतंकियों के समर्थन में पत्थरबाजी कर रहा था। 

दक्षिण कश्मीर में शोपियां जिले के कुनदलान गांव में दो दिन पहले एक एनकाउंटर चल रहा था। वॉट्सएप पर मैसेज चला कि गांव के युवक जीनत नायकू को सुरक्षाबलों ने घेर लिया है। मस्जिद से उसे बचाने का ऐलान किया गया। यह खबर सुनकर जीनत के पिता मोहम्मद इशाक के सीने में दर्द हुआ। अस्पताल ले जाया गया, लेकिन उन्हें बचाया नहीं जा सका। बाद में पता चला कि एनकाउंटर में दो आतंकी मारे गए, लेकिन उनके साथ जीनत नहीं था। जीनत ने दो महीने पहले ही आतंकी संगठन जैश-ए-मोहम्मद ज्वाइन किया है। एनकाउंटर मंगलवार से बुधवार तक चला। इसमें आतंकियों को बचाने के लिए सुरक्षाबलों पर पत्थरबाजी की गई। जवाबी कार्रवाई में सुरक्षाबलों की एक गोली 16 साल के तमशील खान को लगी। उसकी मौत हो गई। 

 

Topics:
दैनिक भास्कर पर Hindi News पढ़िए और रखिये अपने आप को अप-टू-डेट | अब पाइए News in Hindi, Breaking News सबसे पहले दैनिक भास्कर पर |

Trending Now