• Home
  • National
  • 1994 espionage case SC gave relief to Former ISRO scientist Nambi Narayanan
--Advertisement--

जासूसी केस / इसरो के पूर्व वैज्ञानिक नम्बी की गिरफ्तारी गैरजरूरी थी, उन्हें 50 लाख मुआवजा दें: सुप्रीम कोर्ट



  • 24 साल पहले गोपनीय दस्तावेज की जासूसी का आरोप लगा था
  • सीबीआई जांच में सामने आया था कि जासूसी हुई ही नहीं थी
Danik Bhaskar | Sep 14, 2018, 05:51 PM IST

नई दिल्ली. इसरो में 1994 के कथित जासूसी मामले में सुप्रीम कोर्ट ने पूर्व वैज्ञानिक नम्बी नारायण को राहत दी। अदालत ने कहा कि नम्बी नारायण को गिरफ्तार करना गैरजरूरी था। उन्हें मानसिक रूप से प्रताड़ित किया गया। सुप्रीम कोर्ट ने केरल सरकार से कहा कि वह नम्बी को 8 हफ्ते के भीतर 50 लाख रुपए का मुआवजा दे।