RBI issues new guidelines : ATM कार्ड से होने वाले ट्रांजैक्शन के लिए RBI ने जारी की नई गाइडलाइन, आपको किसी को नहीं देना होगी अपने कार्ड की डिटेल, जानें अब कैसे होगा ऑनलाइन पेमेंट / RBI issues new guidelines : ATM कार्ड से होने वाले ट्रांजैक्शन के लिए RBI ने जारी की नई गाइडलाइन, आपको किसी को नहीं देना होगी अपने कार्ड की डिटेल, जानें अब कैसे होगा ऑनलाइन पेमेंट

कोई भी पेमेंट करते वक्त मिलेगा 16 अंकों का ये खास नंबर, ऐसे होगा पेमेंट

dainikbhaskar.com

Jan 14, 2019, 12:01 AM IST
RBI allows tokenisation

न्यूज डेस्क। रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने डेबिट, क्रेडिट कार्ड से होने वाले ट्रांजैक्सन को सिक्योर करने के लिए कदम उठाया है। आरबीआई ने टोकनाइजेशन को कार्ड पेमेंट्स में अलाउ कर दिया है। इससे कस्टमर्स को अपने कार्ड का ओरिजिनल नंबर किसी के भी साथ शेयर करने की जरूरत नहीं होगी। अब मास्टरकार्ड और वीजा जैसे बड़े कार्ड नेटवर्क अपने कस्टमर को टोकन नंबर जारी कर सकेंगे। इसके बाद कस्टमर को किसी भी तरह का चार्ज नहीं देना होगा।

कैसे सुरक्षित होगा ट्रांजैक्शन

आरबीआई के नोटिफिकेशन के मुताबिक, टोकनाइजेशन प्रॉसेस के तहत एक यूनिक टोकन नंबर बैंक द्वारा ग्राहक को पेमेंट के वक्त दिया जाएगा। इसके बाद ग्राहक को कार्ड के ओरिजिनल नंबर के बजाए यही टोकन नंबर पेमेंट करते वक्त देना होगा। अभी यह सुविधा सिर्फ मोबाइल और टैबलेट पर ही मिलेगी। भविष्य में इसे आगे बढ़ाया जाएगा।

ग्राहक को क्या करना होगा
नई प्रॉसेस के बाद कोई भी मर्चेंट ग्राहक का ओरिजिनल डेबिट और क्रेडिट कार्ड नंबर नहीं मांग सकेगा। इसकी जगह 16 अंकों का डिजिटल पेमेंट अकाउंट नंबर बैंक द्वारा जारी किया जाएगा। इसी नंबर का ग्राहक पेमेंट में इस्तेमाल करेगा। हर ट्रांजैक्शन में यह नंबर बदल जाएगा। ऑनलाइन शॉपिंग में यही नंबर कस्टमर को डालना होगा। हालांकि पिन डालना इसमें भी अनिवार्य होगा।

X
RBI allows tokenisation
COMMENT