माल्या-जेटली मुलाकात : भाजपा ने कहा - किंगफिशर एयरलाइंस का मालिकाना गांधी परिवार के पास / माल्या-जेटली मुलाकात : भाजपा ने कहा - किंगफिशर एयरलाइंस का मालिकाना गांधी परिवार के पास

राहुल गांधी के आरोपों के बाद संबित पात्रा ने प्रेस कॉन्फ्रेंस की

DainikBhaskar.com

Sep 13, 2018, 04:39 PM IST
UPA gave sweet deal to Kingfisher Airlines to keep it afloat: BJP

- राहुल पर आरोप, किंगफिशर एयरलाइंस के मामले में उन्होंने कदम पीछे खींचे

नई दिल्ली. कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी ने कहा कि वित्त मंत्री अरुण जेटली को माल्या ने लंदन जाने की बात बताई थी। जवाब में भाजपा ने गांधी परिवार पर विजय माल्या के बचाव का आरोप लगाया। भाजपा प्रवक्ता संबित पात्रा ने कहा कि कर्ज में डूबी किंगफिशर एयरलाइंस को बचाने के लिए कांग्रेस ने अपने कार्यकाल में माल्या के साथ ‘डील’ की थी। उन्होंने कहा, ‘कभी-कभी लगता है कि किंगफिशर एयरलाइंस माल्या की नहीं थी, अप्रत्यक्ष रूप से उस पर गांधी परिवार का मालिकाना हक था।’

माल्या के प्रति नरमी की वजह बताएं राहुल: संबित पात्रा ने आरोप लगाया कि कांग्रेस की पिछली सरकार और गांधी परिवार ने विजय माल्या और उसकी किंगफिशर एयरलाइंस के लिए नियम-कानूनों को दरकिनार किया। पात्रा ने राहुल गांधी से सवाल किया कि किंगफिशर एयरलाइंस और माल्या के प्रति गांधी परिवार की नरमी की क्या वजह थी? यह बात उन्हें प्रेस कॉन्फ्रेंस करके स्पष्ट करनी चाहिए। पात्रा ने कहा कि नेशनल हेराल्ड मामले में राहुल खुद जमानत पर बाहर हैं। उन्हें भ्रष्टाचार की बात करने का कोई हक नहीं है।

किंगफिशर में फ्री अपडेट होता था गांधी परिवार का टिकट: भाजपा प्रवक्ता के मुताबिक, कोलकाता के आयकर विभाग ने पता लगाया था कि डोटेक्स कंपनी से राहुल गांधी ने एक करोड़ का लोन लिया। शेल कंपनी डोटेक्स के प्रमोटर उदयशंकर महावर ने पूछताछ में कबूला कि उसकी 200 से अधिक शेल कंपनियां हैं। 194वें नंबर पर डोटेक्स कंपनी का नाम दर्ज है। इसी वजह से नोटबंदी के समय राहुल हायतौबा मचा रहे थे। पात्रा ने आरोप लगाया कि गांधी परिवार का कोई भी सदस्य जब विदेश जाता था तो उनका टिकट किंगफिशर एयरलाइंस के बिजनेस क्लास में फ्री अपडेट हो जाता था।

माल्या के लिए भूले नियम : इस संबंध में आरबीआई और एसबीआई ने भी कई पत्र लिखे। इससे पता चला कि माल्या और किंगफिशर एयरलाइंस को लेकर सोनिया गांधी और मनमोहन सिंह ने नियमों को दरकिनार किया। पात्रा ने दावा किया कि नियम-कानून पूरे सेक्टर के लिए बनते हैं, लेकिन कांग्रेस ने सिर्फ किंगफिशर एयरलाइंस के लिए कानून में बदलाव किया। किंगफिशर के लिए गांधी परिवार ने 'स्वीट डील' का दबाव बनाया। वहीं, माल्या की एयरलाइंस के लिए सेकंड रीस्ट्रक्चरिंग को छिपाया गया।

X
UPA gave sweet deal to Kingfisher Airlines to keep it afloat: BJP
COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना