• Home
  • National
  • Police cracks Nizam Museum theft, arrests two history-sheeters
--Advertisement--

ये चोर 50 करोड़ रु. की टिफिन में खाते थे खाना, सोने के कप में पीते थे चाय, इस वजह से कुछ दिनों के लिए बदल गई थी इनकी किस्मत

अजान की आवाज सुनकर बदल गया था इन चोरों का प्लान

Danik Bhaskar | Sep 12, 2018, 12:17 PM IST

नेशनल डेस्क, हैदराबाद. पुलिस ने हैदराबाद के निजाम संग्रहालय से रविवार को चोरी हुआ सोने का टिफिन बॉक्स और जवाहरात जड़ा कप बरामद कर लिया। पुलिस ने दो चोरों को गिरफ्तार किया। पुलिस के मुताबिक, चोर निजाम के टिफिन का इस्तेमाल खाना खाने में कर रहे थे।

- गिरफ्तारी के बाद चोरों ने बताया कि वे म्‍यूजियम के अंदर सोने के केस के अंदर रखी पवित्र कुरान को चोरी करना चाहते थे लेकिन उसी समय नजदीकी मस्जिद से अजान की आवाज सुनकर उन्‍होंने अपना इरादा बदल दिया।


- अंतरराष्ट्रीय बाजार में टिफिन और कप की कीमत 50 करोड़ रुपए होने का अनुमान है। यह सामान सातवें निजाम मीर उस्मान अली खान को तोहफे में मिला था। संग्रहालय का प्रबंधन देखने वालों ने सोमवार को इस संबंध में शिकायत दर्ज कराई थी। टिफिन करीब दो किलो वजनी है। उसमें हीरे और माणिक जड़े हैं। यह संग्रहालय की चौथी मंजिल पर रखा था। इस संग्रहालय में अभी करीब 450 वस्तुएं प्रदर्शनी में रखी हैं। इनमें से कुछ छठे निजाम मीर महबूब अली खान की हैं।

संग्रहालय में सामान देखकर आकर्षित हुआ था चोर : पुलिस कमिश्नर अंजनी कुमार ने बताया कि मोहम्मद गौस पाशा (23) और उसके रिश्तेदार मुबीन को हिमायत सागर इलाके से गिरफ्तार किया गया है। पाशा चोरी की 15 से ज्यादा घटनाओं को अंजाम दे चुका है। मुबीन को चार महीने पहले साऊदी अरब से डिपोर्ट कर के लाया गया था। उस पर वहां एक पाकिस्तानी युवक के साथ मारपीट का आरोप लगा था। मुबीन चोरी की घटना के कुछ दिन पहले संग्रालय घूमने गया था। वह इन महंगे सामानों को देखकर आकर्षित हो गया।