• Home
  • National
  • Submit all documents for passport within 90 days of application
--Advertisement--

तीन माह के अंदर नहीं जमा किए पूरे दस्तावेज तो पासपोर्ट का आवेदन हो जाएगा कैंसिल

आवेदक को अगली बार आवेदन करने पर दोबारा देनी पड़ेगी फीस।

Danik Bhaskar | Sep 07, 2018, 05:41 PM IST
तीन माह के अंदर नहीं जमा किए पू तीन माह के अंदर नहीं जमा किए पू

भोपाल. पासपोर्ट की प्रोसेस के दौरान अधूरे दस्तावेज प्रस्तुत करने वाले आवेदक यदि तीन माह के अंदर सभी दस्तावेज जमा नहीं करते हैं तो उनकी फाइल ऑटोमेटिक क्लोज हो जाएगी। आवेदक को पासपोर्ट के लिए फिर से ऑनलाइन आवेदन करना पड़ेगा। विदेश मंत्रालय ने देश भर में सालों से पड़ी होल्ड फाइलों की पेंडेंसी खत्म करने के लिए तीन माह की समय सीमा निर्धारित कर दी है। यह नियम तत्काल प्रभाव से लागू हो गया है। पासपोर्ट बनवाने की प्रोसेस को विदेश मंत्रालय ने बहुत ही सरल कर दिया है। इसके बावजूद कई आवेदक पासपोर्ट की प्रोसेस के दौरान तीन दस्तावेज भी लेकर नहीं पहुंचते। दोबारा करना होगा अप्लाई


सारे दस्तावेज जमा न करने पर आवेदक को एक नोटिस दिया जाएगा। इसके बाद भी आवेदक अपने दस्तावेज जमा नहीं कराता तो उसकी फाइल बंद कर दी जाएगी। इसके बाद आवेदक को नए सिरे से आवेदन करना होगा। जिसके लिए आवेदक को दोबारा फीस देनी होगी।

क्यो बढ़ी है पेंडेंसी
पासपोर्ट बनवाते समय कई आवेदक कुछ दस्तावेज बाद में जमा कराने की बाद या लिखित देकर चले जाते थे। इसके बाद लोद कभी दस्तावेज जमा कराने नहीं आते थे। इसके कारण विदेश मंत्रालय ने होल्ड फाइलों को क्लोज करने के लिए यह कदम उठाया है।

पहले मैनुअली क्लोज हो जाती थी फाइल
इससे पहले पासपोर्ट की क्लोज फाइल के लिए आवेदक को एक साल का समय दिया जाता था। इसके बाद अदालत लगाई जाती थी, जिसके बाद ही फाइल को क्लोज किया जाता था। पासपोर्ट बनने की प्रक्रिया सरल होने के बावजूद लोग पूरे दस्तावेज लेकर नहीं पहुंचते हैं।

पासपोर्ट बनवाने के लिए जरूरी दस्तावेज
1. डेटऑफ बर्थ के लिए 10वीं की मार्कशीट, आधार कार्ड, पैन कार्ड, वोटर आईडी कार्ड या ड्राइविंग लाइसेंस। (इनमें से कोई एक दस्तावेज)।
2. पते के प्रूव के लिए बिजली या पानी का बिल, राशन कार्ड, इनकम टैक्स विभाग का असेसमेंट ऑर्डर, वोटर आईडी, आधार कार्ड, बैंक पासबुक।
3. एनेक्चर फार्मेट-1 : भारत की नागरिकता और क्रिमिनल रिकार्ड न होने का एफिडेविट।