• Hindi News
  • National
  • Narendra Modi Government Google Search Trends; Ayodhya Ram Mandir Verdict To Modi Lockdown Announcement

मोदी 2.0 का एक साल:10 मौके जब अपनी ही सरकार, साथियों और घटनाओं से ज्यादा गूगल पर सर्च किए गए खुद नरेंद्र मोदी

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
  • गूगल सर्च का मतलब है कि किसी खास पीरियड में लोग क्या सर्च कर रहे हैं। सबसे ज्यादा जिसे सर्च किया जा रहा हो उसे सर्चिंग में टॉप या ट्रेंडिंग में कहा जाता है
  • गूगल पर आप जो भी सर्च करते हैं पॉपुलैरिटी के हिसाब उसे 100 पाइंट्स की रेंज में नंबर मिलते हैं। ये डेट, टाइम, रीजन क्वेरीज के हिसाब से बदलती रहती है

तारीख 30 मई 2019...वक्त शाम के 7 बजे और जगह भारत का राष्ट्रपति भवन। एक इतिहास बन रहा था और नरेंद्र मोदी के माथे पर उस जीत का सेहरा बंध रहा था जिसे अभूतपूर्व कहा गया।

45% जनता की पहली पसंद बनकर उभरे नरेंद्र मोदी ने अगले 100 दिनों में इतने बड़े फैसले लिए कि लोगों को लगने लगा मानों, अब देश के सारे मसले सुलझ जाएंगे। देश को 5 ट्रिलियन इकोनॉकी का सपना दिखाया गया। कश्मीर से कन्याकुमारी तक एक राष्ट्र- एक ध्वज की सोच के साथ मोदी ने तेज कदम बढ़ाए तो कई धारणाएं टूटने लगीं। 

अब जब मोदी दूसरी पारी के 365 दिन पूरे कर चुके हैं तो सारी परीक्षाओं पर एक ही परीक्षा भारी पड़ रही है और वह है अदृश्य कोरोनावायरस की परीक्षा। आने वाले दिन और मुश्किल भरे होने के संकेत मिल रहे हैं। लॉकडाउन खुलने पर जिंदगी और गुजारे को लेकर चिंता लकीरें हर माथे पर हैं। ऐसे में एक पड़ताल गूगल की मदद से, जिसमें 10 बड़ी घटनाएं सिर्फ नरेंद्र मोदी नाम के इर्दगिर्द सिमटती नजर आती है।

23 मई की जीत और 30 मई की शपथ से एक साल पूरा होने के मौके पर गूगल ट्रेंड की मदद से मोदी की लोकप्रियता की पड़ताल। हर एक ग्राफ में नीली लाइन मोदी के गूगल सर्च की लोकप्रियता को बताती है।

  • 1. तारीख गुरुवार, 30 मई 2019 = मोदी की एकतरफा जीत और दोबारा शपथ
30 मई 2019 को अपनी दूसरी पारी की शपथ के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी की बॉडी लैंग्वेज पहले से ज्यादा गंभीर लगी।
30 मई 2019 को अपनी दूसरी पारी की शपथ के दौरान पीएम नरेंद्र मोदी की बॉडी लैंग्वेज पहले से ज्यादा गंभीर लगी।

इवेंट: 23 मई के दिन लोकसभा चुनाव के एकतरफा नतीजों में 353 सीटों के साथ एनडीए की जीत का दोबारा सेहरा मोदी के सिर बंधा।

सर्चिंग: गुरुवार से लेकर गुरुवार तक इस पूरे हफ्ते सर्च और ट्रेंड में मोदी छाए रहे। उन्हें 100% ट्रेंडिंग सर्च स्कोर मिला। भारत के बाद नेपाल और यूएई, कतर, सिंगापुर और बांग्लादेश के लोगों ने मोदी को सर्च किया। पाकिस्तान की मोदी सर्च रैंक 7वीं रहीं। दुनियाभर के यूजर्स ने इस दौरान मोदी सरकार, एक बार फिर मोदी सरकार, मोदी इन केदारनाथ, मोदी की सीट जैसे कीवर्ड भी सर्च किए।

  • 2. तारीख मंगलवार 30 जुलाई 2019 = तीन तलाक बिल पास
मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी की महिलाओं ने ट्रिपल तलाक बिल पास होने की खुशी इस तरह सेल्फी लेकर जताई।
मोदी के संसदीय क्षेत्र वाराणसी की महिलाओं ने ट्रिपल तलाक बिल पास होने की खुशी इस तरह सेल्फी लेकर जताई।

इवेंट: मुस्लिम महिलाओं को न्याय दिलाने के लिए तीन तलाक  (मुस्लिम महिला-विवाह अधिकार संरक्षण) बिल मोदी 1.0 सरकार का अधूरा काम था। उस समय ये बिल लोकसभा में पास होने के बावजूद राज्यसभा में अटक गया था। मोदी 2.0 में  30 जुलाई को राज्यसभा में पास होने के बाद ये कानून बन गया। वोटिंग  के दौरान बिल के पक्ष में 99 और विरोध में 84 वोट पड़े।

सर्चिंग: इस बिल के पास होने के बाद देश-दुनिया में मिली-जुली प्रतिक्रियाएं आईं। इनमें तारीफें भी थीं और गुस्सा भी। लेकिन इन दोनों का फायदा नरेंद्र मोदी को मिला और उनकी सर्च ने 100% का स्तर छू लिया। राज्यसभा में गूगल पर भारत के बाद पाकिस्तान और मलयेशिया के यूजर्स ने इस मामले में मोदी को खूब सर्च किया।

  • 3. तारीख सोमवार, 5 अगस्त 2019 = कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाना
दृश्य लोकसभा का है जब अनुच्छेद 370 हटाने को लेकर अमित शाह को बधाई देने मोदी स्वयं उठ खड़े हुए।
दृश्य लोकसभा का है जब अनुच्छेद 370 हटाने को लेकर अमित शाह को बधाई देने मोदी स्वयं उठ खड़े हुए।

इवेंट: मोदी सरकार ने सोमवार 05 अगस्त को अचानक बड़ा फैसला लेते हुए जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 के विशेष प्रावधान को हटा दिया। इसके बाद जम्मू-कश्मीर और लद्दाख अलग-अलग केंद्र शासित प्रदेश बना दिए गए। अमित शाह ने इसके लिए संसद में संकल्प पेश किया तो उधर गूगल पर नरेंद्र मोदी ट्रेंड करने लगे।

सर्चिंग: इसकी सबसे ज्यादा सर्च पाकिस्तान और खाड़ी देशों से आई। इसी दौरान अमित शाह और सरकार की तुलना में नरेंद्र मोदी को सबसे ज्रादा सर्च किया गया। यूजर्स ने अनुच्छेद 370 को धारा 370 हटाने के नाम से सर्च किया और सीधे मोदी से जोड़ दिया।

  • 4. तारीख सोमवार, 12 अगस्त 2019 = डिस्कवरी चैनल के शो Man vs Wild में मोदी का नया अंदाज
जिम कार्बेट पार्क में मैन vs वाइल्ड के होस्ट बेयर ग्रिल्स ने मोदी को भाला पकड़ाया तो वे बोले- हम प्रकृति प्रेमी हैं।
जिम कार्बेट पार्क में मैन vs वाइल्ड के होस्ट बेयर ग्रिल्स ने मोदी को भाला पकड़ाया तो वे बोले- हम प्रकृति प्रेमी हैं।

इवेंट: डिस्कवरी के शो ‘मैन वर्सेस वाइल्ड’ में 12 अगस्त सोमवार के दिन को होस्ट बेयर ग्रिल्स के साथ पीएम मोदी का विशेष ऐपिसोड टेलीकास्ट किया गया। उत्तराखंड के जिम कार्बेट नेशनल पार्क में शूट किए गए इस शो के दौरान मोदी ने ग्रिल्स के साथ बचपन की यादें साझा कीं।

सर्चिंग:  कांग्रेस ने आरोप लगाया था कि इस शो की शूटिंग 14 फरवरी को पुलवामा हमले वाले दिन हुई थी और इसे लेकर काफी बवाल भी मचा था। इस एपिसोड को 180 देशों में रिकॉर्ड 3.6 बिलियन सोशल मीडिया इंप्रेशन मिले। गूगल सर्च में भी लगभग ऐसा ही ट्रेंड रहा और मोदी ने  होस्ट बेयर ग्रिल्स को भी पीछे छोड़ दिया। Modi vs Wild जैसे कीवर्ड  के साथ पाकिस्तान और कनाडा के लोगों ने मोदी को सर्च किया।

  • 5. तारीख शनिवार, 9 नवंबर 2019 = राम मंदिर पर ऐतिहासिक फैसला
अयोध्या में राम मंदिर बनने का रास्ता साफ होने के बाद मोदी ने आगे की योजना को बहुत ठंडे तरीके से डील किया।
अयोध्या में राम मंदिर बनने का रास्ता साफ होने के बाद मोदी ने आगे की योजना को बहुत ठंडे तरीके से डील किया।

इवेंट: 134 साल पुराने अयोध्या मंदिर-मस्जिद विवाद पर शनिवार 9 नवंबर को सुप्रीम कोर्ट ने अपना आखिरी फैसला सुनाया था। चीफ जस्टिस रंजन गोगोई की अगुआई वाली पांच सदस्यीय संविधान पीठ ने अयोध्या की 2.77 एकड़ की पूरी विवादित जमीन राम मंदिर निर्माण के लिए दे दी।

सर्चिंग: इस मौके पर नरेंद्र मोदी कीवर्ड की सर्चिंग राम मंदिर से भी ऊपर रही। मोदी के फैंस ने यही माना और मनवाया कि राम मंदिर पर फैसला मोदी के कारण ही आया है। हालांकि इसमें न्यायपालिका की भूमिका बहुत अहम रही। लेकिन, सोशल मीडिया और सर्चिंग मोदी ही छाए रहे। भारत के बाद नेपाल, यूएई, पाकिस्तान और बांग्लादेश के लोगों ने मोदी और मोदी सरकार को सर्च किया।

  • 6. तारीख सोमवार, 9 से बुधवार 11 दिसंबर 2019 = नागरिकता संशोधन कानून पर अमल
दिल्ली की एक रैली में CAA को लेकर मोदी का अंदाज कुछ ऐसा था।
दिल्ली की एक रैली में CAA को लेकर मोदी का अंदाज कुछ ऐसा था।

इवेंट: ऐतिहासिक भूल को सुधारने के दावे के साथ 9 दिसंबर को नागरिकता संशोधन कानून लोकसभा में और 11 दिसंबर को राज्यसभा में पास हुआ। राज्यसभा में इस बिल पर 8 घंटे बहस चली, जबकि लोकसभा  में विधेयक पर 14 घंटे तक बहस के बाद रात 12.04 बजे वोटिंग हुई। बिल पास होने के बाद पीएम मोदी ने कहा- यह उत्पीड़न सहने वाले लोगों की पीड़ा दूर करेगा।

सर्च: इस इवेंट की सर्च में मोदी सिर्फ तीन दिनों तक ही नहीं, बाद के तीन महीनों तक सर्च में बने रहे। उनके साथ अमित शाह भी ट्रेंडिंग में थे। हालांकि इस दौरान यूजर्स ने 100 की स्कैल पर मोदी सरकार की बजाय नरेंद्र मोदी कीवर्ड को सबसे ज्यादा सर्च किया।

  • 7. तारीख शुक्रवार, 30 अगस्त, 2019 = मर्जर

इवेंट: मोदी सरकार ने  50 साल पहले के इंदिरा सरकार जैसा फैसला लेते हुए 30 अगस्त को 10 सरकारी बैंकों का विलय करके 4 बड़े बैंक बना दिए। इसमें 4 प्रमुख सरकारी बैंकों पीएनबी, केनरा, यूनियन बैंक और इंडियन बैंक में छह अन्य बैंकों का विलय कर दिया गया। देश में कुल 27 सरकारी बैंक थे, और इस फैसले के बाद ये 12 रह गए।

सर्चिंग: सरकार की ओर से  बैंकिंग सेक्टर में मर्जर में बड़ी घोषणा करने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण आईं, लेकिन सर्च में मोदी छाए रहे। बैंक मर्जर कीवर्ड को जहां 100 में से 33 लोगों ने सर्च किया जबकि 100 में से 97 लोगों ने नरेंद्र मोदी को सर्च किया। भारत के अलावा नेपाल, पाकिस्तान, श्रीलंका न्यूजीलैंड और सऊदी अरब से सबसे ज्यादा सर्च ट्रैफिक आया।

  • 8. तारीख रविवार, 22 मार्च 2020 = जनता कर्फ्यू का पालन और थाली-घंटी बजवाना
बेहद विनम्रता के साथ मोदी ने हाथ जोड़कर जनता कर्फ्यू और कोरोना वारियर्स के सम्मान की अपील की थी।
बेहद विनम्रता के साथ मोदी ने हाथ जोड़कर जनता कर्फ्यू और कोरोना वारियर्स के सम्मान की अपील की थी।

इवेंट: पीएम मोदी की अपील पर रविवार, 22 मार्च को पूरे दिन देश थम गया। कोरोनावायरस के खिलाफ लड़ाई में हर इंसान ने अपनी भूमिका निभाई। शाम के 5 बजे पूरे देश में 5 मिनट तक लगभग पूरे देश ने थाली, शंख, तालियां बजाकर कोरोना वॉरियर्स का हौसला बढ़ाया।

सर्चिंग:  कोरोना से मुकाबले के लिए मोदी की अपील को भारी समर्थन मिला और सोशल मीडिया पर सिर्फ जनता कर्फ्यू की बात हुई। सारा श्रेय मोदी के खाते में गया जो उस दिन के सर्च ट्रेंड में 100% नरेंद्र मोदी कीवर्ड के रूप में दिखा। दिलचस्प बात यह रही कि इस दिन भारत के ज्यादा मोदी की सर्च इटली, जर्मनी, कनाडा और ऑस्ट्रेलिया से रही।

  • 9. तारीख मंगलवार, 24 मार्च 2020 = महा लॉकडाउन की घोषणा
24 मार्च के दिन लॉकडाउन का पालन करने के लिए मोदी की ये अपील राष्ट्रव्यापी नारा बन गई।
24 मार्च के दिन लॉकडाउन का पालन करने के लिए मोदी की ये अपील राष्ट्रव्यापी नारा बन गई।

इवेंट: 24 मार्च को रात के 8 बजे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने रात के 12 बजे से 21 दिन के पहले लॉकडाउन की घोषणा की थी। जनता कर्फ्यू के ठीक दो दिन बाद इस फैसले ने सबको सकते में डाल दिया। मोदी ने कहा था कि कोरोना की चेन तोड़ने के लिए कोई रोड पर न निकलें और एक लक्ष्मण रेखा का पालन करें।

सर्चिंग: जनता कर्फ्यू की सफलता के बाद भारत में लॉकडाउन जैसा कदम उठाने के बारे में कम ही लोगों ने सोचा था। मोदी ने इस बोल्ड फैसले का श्रेय मोदी को देते हुए सही कदम करार दिया। इसी वजह 24 मार्च की शाम को सर्च में मोदी ने सभी को पीछे छोड़ दिया। कनाडा, यूएई, सिंगापुर और इटली के लोगों ने भी मोदी को लॉकडाउन के बहाने खूब सर्च किया।

  • 10. तारीख मंगलवार, 12 मई 2020 = आत्मनिर्भर भारत- 20 लाख करोड़ का पैकेज
12 मई को राष्ट्र के नाम संबोधन में मोदी कुछ ऐसे समझाने वाले अंदाज में नजर आए थे।
12 मई को राष्ट्र के नाम संबोधन में मोदी कुछ ऐसे समझाने वाले अंदाज में नजर आए थे।

इवेंट: प्रधानमंत्री मोदी इस दिन 54 दिन में पांचवीं बार देश के सामने आए। उन्होंने अपने 33 मिनट के भाषण में आत्मनिर्भर भारत अभियान चलाने और 20 लाख करोड़ रुपए के आर्थिक पैकेज की घोषणा की। लॉकडाउन की तीसरे फेज में मोदी ने अगले 5 दिन बाद 18 से 31 मई के बीच नए लॉकडाउन के बारे में भी बताया।  

 सर्चिंग: देश की डूबती इकोनॉमी को संभालने के लिए आत्मनिर्भर भारत अभियान शब्द लोगों के लिए चौंकाने वाला था। इस दिन ज्यादा इंट्रेस्ट 20 लाख करोड़ के पैकेज में दिखा, लेकिन मोदी ने भाषण में अपने पत्ते नहीं खोले और इसी कारण उनकी आलोचना भी हुई। इसी वजह से वे 12 मई को सर्च में सबसे ऊपर बने रहे। भारत के अलावा कतर, यूएई, कुवैत, सिंगापुर के लोगों ने पैकेज से ज्यादा मोदी को सर्च किया।