कश्मीर / 100 जवानों ने 4 घंटे बर्फ में चलकर गर्भवती को अस्पताल पहुंचाया, मोदी ने कहा- मां-बेटी स्वस्थ रहें

100 सेना के जवानों के साथ 30 स्थानीय लोग भी थे। 100 सेना के जवानों के साथ 30 स्थानीय लोग भी थे।
X
100 सेना के जवानों के साथ 30 स्थानीय लोग भी थे।100 सेना के जवानों के साथ 30 स्थानीय लोग भी थे।

  • एक गर्भवती महिला शमीमा को प्रसव का दर्द शुरू हुआ तो स्थानीय लोगों ने सेना को मदद के लिए बुलाया
  • चिनार कॉर्प्स के 100 जवान, 30 स्थानीय लोगों के साथ मदद के लिए पहुंचे, सुरक्षित अस्पताल पहुंचाया

Dainik Bhaskar

Jan 15, 2020, 01:41 PM IST

श्रीनगर.  कमर तक बर्फीले रास्ते में चलकर सेना के 100 जवानों और 30 नागरिकों ने मंगलवार को मिलकर एक गर्भवती को सुरक्षित अस्पताल पहुंचाया। भारी बर्फबारी के बीच जवानों ने यह साहस और जज्बा दिखाया। दरअसल, गर्भवती शमीमा को प्रसव का दर्द शुरू हो गया। ऐसे में लोगों ने सेना को मदद के लिए बुलाया था। 

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने गर्भवती महिला को अस्पताल तक पहुंचाना वाला चिनार कॉर्प्स का वीडियो रीट्वीट किया है। उन्होंने लिखा, ‘‘जब भी लोगों को मदद की जरूरत पड़ी, सेना ने उस मौके पर आगे बढ़कर जो भी संभव हो सका वह किया। मैं बच्चे और मां के अच्छे स्वास्थ्य की कामना करता हूं।’’

चिनार कॉर्प्स के 100 जवान, 30 स्थानीय लोगों के साथ मदद के लिए पहुंचे। वे अपने साथ स्ट्रेचर लेकर पहुंचे। गर्भवती को स्ट्रेचर पर लिटाकर जवान 4 घंटे बाद सुरक्षित अस्पताल पहुंचे। वहां महिला ने एक बच्चे को जन्म दिया। अब दोनों स्वस्थ्य हैं।  

जम्मू-कश्मीर में बर्फबारी से हिमस्खलन 

इधर, जम्मू-कश्मीर में बर्फबारी के बीच सोमवार रात से हुए हिमस्खलन (एवलांच) की 4 घटनाओं में 12 लोगों की जान चली गई। इससे पहले माछिल सेक्टर में मंगलवार को नियंत्रण रेखा के पास एवलांच में सेना की चौकी चपेट में आ गई। इसकी चपेट में आए सेना के पांचों जवान बचाव अभियान चलाए जाने के बावजूद बच नहीं सके थे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना