• Hindi News
  • National
  • Agneepath Protest Vs Coaching Centers: FIR Against Two Institutes In Bihar Telangana

फेक न्यूज फैलाने पर एक्शन:अग्निपथ के बारे में फर्जी खबरें सर्कुलेट करने वाले 35 वॉटसऐप ग्रुप बैन, कोचिंग सेंटर्स पर राज्यों में कार्रवाई

पटना/हैदराबाद5 महीने पहले

अग्निपथ स्कीम पर फेक न्यूज फैलाने वाले 35 वॉट्सऐप ग्रुप पर केंद्र सरकार ने बैन लगा दिया है। सरकारी सूत्रों ने बताया कि इन ग्रुप्स पर ​​​​​​अग्निपथ स्कीम को लेकर भ्रामक मैसेज फैलाए जा रहे थे। हालांकि इन ग्रुप्स के एडमिन पर क्या एक्शन ली गई ये अभी स्पष्ट नहीं है। यह एक्शन गृह मंत्रालय ने लिया है।

इधर, प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने दिल्ली में एक कार्यक्रम में कहा कि हमारे देश का दुर्भाग्य है कि बहुत सी अच्छी चीजें, अच्छे उद्देश्य से की गई चीजें, राजनीति के रंग में फंस जाती हैं।

हालांकि प्रधानमंत्री ने सीधे-सीधे अग्निपथ योजना उल्लेख नहीं किया। उनका भाषण दिल्ली में किए गए विकास कार्यों को लेकर था।

बिहार में अग्निपथ स्कीम को लेकर हो रहे विरोध के बीच रविवार को कहीं हिंसा नहीं हुई। 16 जून से 18 जून के बीच हुई हिंसा के मामले में अब तक 145 FIR दर्ज की गई हैं। कुल 804 लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

बिहार और तेलंगाना में कोचिंग संस्थानों पर कार्रवाई
बिहार और तेलंगाना में हिंसा के पीछे कोचिंग संस्थानों की भूमिका सामने आई है। बिहार में 3 कोचिंग संस्थानों और तेलंगाना में एक के खिलाफ FIR दर्ज की गई है। तेलंगाना में एक कोचिंग संचालक को गिरफ्तार भी किया गया है। पुलिस ने बताया कि संचालक ही हिंसा के पीछे का मास्टरमाइंड था।

पटना के करीब तारेगना स्टेशन पर हुए उपद्रव के बाद मसौढ़ी के अंचलाधिकारी के बयान पर मसौढ़ी थाने में एक FIR दर्ज हुई है। इसमें तीन कोचिंग पैराडाइज, आदर्श, बीडीएस के संचालकों सहित 70 नामजद और 500 अज्ञात शामिल हैं। मसौढ़ी ASP के अनुसार, उपद्रवियों को गिरफ्तार करने के लिए रात में कई जगहों पर छापेमारी चलेगी।

बिहार के ADG (लॉ एंड आर्डर) संजय सिंह ने बताया कि बीते तीन दिनों में करीब 620 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और 130 प्राथमिकी दर्ज की गई है।
बिहार के ADG (लॉ एंड आर्डर) संजय सिंह ने बताया कि बीते तीन दिनों में करीब 620 लोगों को गिरफ्तार किया गया है और 130 प्राथमिकी दर्ज की गई है।

पटना के DM बोले- वॉट्सऐप चैट की जांच करेंगे
पटना के जिलाधिकारी चंद्रशेखर सिंह ने मीडिया से कहा- मसौढ़ी मामले में 6-7 कोचिंग संस्थानों की भूमिका सामने आई है। पुलिस केस की जांच कर रही है। हमें जानकारी मिली है कि वॉट्सऐप ग्रुप में मैसेज कर लोगों को भड़काया गया है। जांच के बाद सख्त कार्रवाई की जाएगी।

एक अनुमान के मुताबिक बिहार में करीब 4 हजार कोचिंग संस्थान है, जिसमें ज्यादा राजधानी पटना में है। वहीं इन संस्थानों का सालाना कारोबार करीब 500 करोड़ रुपए का है।

कोचिंग से छुट्टी के बाद हुआ था भारी बवाल
पटना के मसौढ़ी में तारगेना स्‍टेशन के शनिवार सुबह पत्‍थरबाजी और फायरिंग हुई। प्रदर्शनकारी स्टेशन में तोड़फोड़ करने लगे। पार्किंग में खड़ी गाड़ियों को आग के हवाले कर दिया। प्रदर्शनकारियों ने पुलिस पर पथराव किया है। बचाव में पुलिस ने 100 से ज्यादा राउंड गोलियां चलाई।

सेना में भर्ती की योजना अग्निपथ का सबसे ज्यादा विरोध UP, बिहार, MP, राजस्थान समेत 7 राज्यों में हो रहे हैं।
सेना में भर्ती की योजना अग्निपथ का सबसे ज्यादा विरोध UP, बिहार, MP, राजस्थान समेत 7 राज्यों में हो रहे हैं।

तेलंगाना से एक कोचिंग संचालक गिरफ्तार
तेलंगाना के सिकंदराबाद में हिंसा मामले में पुलिस ने एक कोचिंग संचालक सुब्बाराव को गिरफ्तार किया है। सुब्बाराव आर्मी के जवान रहे हैं और आंध्र-तेलंगाना में करीब 8 कोचिंग संस्थान के मालिक हैं। पुलिस के मुताबिक सुब्बाराव ने हकीमपेट आर्मी सोल्जर्स नाम का एक वॉट्सएप ग्रुप बनाया था, जिसमें लोगों को प्रदर्शन के लिए बुलाया था।

ट्रेन के समय में बदलाव, रात 8 बजे तक नहीं चलेंगी
ट्रेनों और यात्रियों की सुरक्षा को देखते हुए अब बिहार में पूर्व मध्य रेल क्षेत्राधिकार से गुजरने वाली ट्रेनें आज से 20 जून तक रात 8 बजे से सुबह 4 बजे तक ही चलेंगी। पूर्व मध्य रेलवे के CPRO वीरेंद्र कुमार ने बताया कि ट्रेनों को गुजारने के लिए सेफ कॉरीडोर बनाया गया है। दूसरे जोन की ट्रेनें रि-शेड्यूल करके आएंगी तो उन्हें बिहार गुजारा जाएगा। यहां 5 बजे से पत्थर चलाने लगते हैं।

अग्निवीरों ने 4 दिनों में फूंके रेलवे के 700 करोड़

सिर्फ बिहार में 700 करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान
हिंसक आंदोलन से सिर्फ बिहार को 700 करोड़ रुपए से ज्यादा का नुकसान हुआ है। अब तक 4 दिन में ट्रेनों की 60 बोगियों के साथ 11 इंजन को आग के हवाले किया गया है। इसके अलावा, 20 से अधिक जगह रेल संपत्ति, दानापुर में पार्सल की एक दर्जन से अधिक गाड़ियां और पटना सहित राज्य के 15 जिलों में रेल संपत्ति को जलाया गया है।

खबरें और भी हैं...