आगरा / उप्र बार काउंसिल की पहली महिला अध्यक्ष दरवेश यादव की हत्या, साथी वकील ने गोली मारी

Dainik Bhaskar

Jun 13, 2019, 02:18 PM IST



दरवेश ने 2004 में वकालत शुरू की थी। दरवेश ने 2004 में वकालत शुरू की थी।
X
दरवेश ने 2004 में वकालत शुरू की थी।दरवेश ने 2004 में वकालत शुरू की थी।

  • दरवेश की हत्या के आरोपी वकील ने खुद को भी मारी गोली, अस्पताल में भर्ती
  • दरवेश दो दिन पहले ही उत्तर प्रदेश बार काउंसिल की अध्यक्ष चुनी गईं थीं 

आगरा. दो दिन पहले उत्तर प्रदेश बार काउंसिल की पहली महिला अध्यक्ष चुनी गईं दरवेश यादव की बुधवार को साथी वकील ने गोली मारकर हत्या कर दी। हमला करने वाले वकील मनीष बाबू शर्मा ने खुद को भी गोली मार ली। उसे अस्पताल में भर्ती कराया गया, जहां उसकी हालत गंभीर है। हत्या के कारणों का पता नहीं चल पाया है।

 

दरवेश के नाम एक रिकॉर्ड यह भी था कि बार काउंसिल के 24 सदस्यों में वे अकेली महिला थीं।

 

दरवेश के स्वागत का कार्यक्रम था

बुधवार को दीवानी परिसर में दरवेश के स्वागत का कार्यक्रम था। कार्यक्रम के बाद वे वरिष्ठ अधिवक्ता अरविंद कुमार मिश्रा के चैंबर में बैठी हुई थीं। प्रत्यक्षदर्शियों का कहना है कि एडवोकेट मनीष बाबू शर्मा उसी समय दरवेश के पास पहुंचा और उन पर लाइसेंसी पिस्टल से एक के बाद एक तीन राउंड फायर कर दिए। इसके बाद शर्मा ने खुद को भी गोली मार ली। दरवेश को गंभीर हालत में पुष्पांजलि हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।


 

रिटायर्ड डीएसपी की बेटी थीं दरवेश
दरवेश मूल रूप से एटा की रहने वाली थीं। उनके पिता डीएसपी थे। दरवेश 2016 में बार काउंसिल की उपाध्यक्ष और 2017 में कार्यकारी अध्यक्ष भी चुनी गई थीं। वे पहली बार 2012 में सदस्य बनीं और तभी से बार काउंसिल में सक्रिय रहीं। बीएएलएलबी और एलएलएम कर चुकीं दरवेश ने 2004 में वकालत शुरू की थी।

COMMENT