बजट 2019 / आयकर में छूट की सीमा 7.5 लाख रु. हो, 12 लाख तक 10% टैक्स लगे: बैंक कर्मचारी संघ



सिंबॉलिक इमेज। सिंबॉलिक इमेज।
X
सिंबॉलिक इमेज।सिंबॉलिक इमेज।

  • बैंक कर्मियों की एसोसिएशन ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण से मांग की 
  • कहा- 12 लाख रु. से 20 लाख तक आय पर टैक्स की दर 20% हो

Dainik Bhaskar

Jun 14, 2019, 09:23 AM IST

हैदराबाद. ऑल इंडिया बैंक एम्पलॉइज एसोसिएशन (एआईबीईए) ने बजट में वेतन भोगियों के लिए आयकर छूट सीमा बढ़ाकर 7.5 लाख रुपए करने की मांग की है। इसमें हाउसिंग, मेडिकल और शिक्षा सुविधाएं जैसे फ्रिंज बेनिफिट शामिल नहीं हैं। एआईबीईए ने वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण को लिखे पत्र में यह मांग रखी है। एसोसिएशन के जनरल सेक्रेटरी सीएच वेंकटचलम ने यह जानकारी दी।

 

उन्होंने कहा, 7.5 लाख रुपए से अधिक और 12 लाख रुपए तक सालाना आय वालों के लिए आयकर की दर 10% होनी चाहिए। 12 लाख रुपए से अधिक और 20 लाख रुपए तक आमदनी वालों के लिए 20% होनी चाहिए। 20 लाख रुपए से अधिक और 25 लाख रुपए तक आमदनी वालों के लिए 25% होनी चाहिए। 

 

वेंकटचलम ने कहा कि अमीरों के लिए आयकर स्लैब में इजाफा किया जाना चाहिए। ऐसे लोग जिनकी आमदनी 25 लाख रुपए से 1 करोड़ रुपए के बीच है आयकर की दर 35% होनी चाहिए। ऐसे लोग जिनकी आमदनी एक करोड़ रुपए से अधिक है आयकर की दर 40% होनी चाहिए। इसी के साथ एसोसिएशन ने फिक्स्ड डिपॉजिट पर मिले ब्याज को आयकर से मुक्त किया जाना चाहिए। उद्योगपतियों, हाई नेटवर्थ इंडिविजुअल (एचएनआई), कंपनियों आदि कानून के कानूनों के प्रावधानों को लागू कर टैक्स वसूलने के लिए कदम उठाने चाहिए।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना