• Hindi News
  • National
  • Air Force Airlifted Civilians Who Were Stranded In A Train At Ditokcherra Railway Station IN Dima Hasa Assam

असम में बाढ़ से जान पर बनी:दीमा हसाओ में रेलवे लाइन बही, ट्रेन में फंसे यात्रियों को एयरलिफ्ट किया; देखिए PHOTOS

गुवाहाटी3 महीने पहले

असम कई इलाकों में भारी बारिश हो रही है। इसकी वजह से इन इलाकों में बाढ़ के हालात हैं। राज्य के होजाई और पश्चिम कार्बी आंगलोंग जिलों के कई गांवों में पानी भर गया। स्टेट डिजास्टर मैनेजमेंट अथॉरिटी ने बताया कि लैंडस्लाइड से हाफलोंग में करीब 80 घर प्रभावित हुए हैं। भूस्खलन में 3 लोगों की मौत हुई है। दीमा हसाओ जिले में बाढ़ से रेलवे लाइन बह गईं।

कई स्टेशनों की पटरियों पर कीचड़ और पानी भर दिखा। डिटोकचेरा रेलवे रूट पर कई यात्री ट्रेन में फंस गए। इन्हें एयरलिफ्ट कर बाहर निकाला गया। पहाड़ी इलाकों में भूस्खलन से पटरियों के नीचे के जमीन धंस गई और पटरियां हवा में झूलने लगीं। कुछ तस्वीरों के जरिए हम आपको असम में बाढ़ की भयावहता दिखा रहे हैं।

असम के गुवाहाटी में भारी बारिश के कारण भूस्खलन के बाद पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे की लाइन हवा में लटकने लगी।
असम के गुवाहाटी में भारी बारिश के कारण भूस्खलन के बाद पूर्वोत्तर सीमांत रेलवे की लाइन हवा में लटकने लगी।
बारिश के चलते दीमा हसाओ के डिटोकचेरा रेलवे पर कई यात्री ट्रेन में फंस गए, जिन्हें एयरलिफ्ट कर बाहर निकाला गया।
बारिश के चलते दीमा हसाओ के डिटोकचेरा रेलवे पर कई यात्री ट्रेन में फंस गए, जिन्हें एयरलिफ्ट कर बाहर निकाला गया।
ट्रेन में फंसे यात्रियों को बाहर निकालते एयरफोर्स के जवान। इन लोगों को एयरफोर्स ने सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है।
ट्रेन में फंसे यात्रियों को बाहर निकालते एयरफोर्स के जवान। इन लोगों को एयरफोर्स ने सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है।
होजाई और पश्चिम कार्बी आंगलोंग सहित कई जिलों में बारिश के बाद ऐसी ही तस्वीरें देखने को मिल रही हैं।
होजाई और पश्चिम कार्बी आंगलोंग सहित कई जिलों में बारिश के बाद ऐसी ही तस्वीरें देखने को मिल रही हैं।
असम में बारिश और बाढ़ के चलते रेल सुविधा प्रभावित हुई है। राज्य के कई हिस्सों में ट्रेन सेवा फिलहाल बंद कर दी गई है।
असम में बारिश और बाढ़ के चलते रेल सुविधा प्रभावित हुई है। राज्य के कई हिस्सों में ट्रेन सेवा फिलहाल बंद कर दी गई है।
कई इलाकों में भूस्खलन हुआ, जिससे हाफलोंग में करीब 80 घर टूट गए हैं।
कई इलाकों में भूस्खलन हुआ, जिससे हाफलोंग में करीब 80 घर टूट गए हैं।