पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Allahabad High Court Seeks Reply From The UP Government, The Disappearance Of IPS Is A Serious Matter, What Did It Do To Find It?

इलाहाबाद HC ने मांगा जवाब:IPS का लापता होना गंभीर मामला, ढूंढने के लिए क्या किया; UP सरकार को 14 जून तक बताने को कहा

एक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
जस्टिस मनोज मिश्रा और सैयद आफताब हुसैन रिजवी की बेंच ने एक बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका पर सुनवाई की। - Dainik Bhaskar
जस्टिस मनोज मिश्रा और सैयद आफताब हुसैन रिजवी की बेंच ने एक बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका पर सुनवाई की।

इलाहाबाद हाईकोर्ट ने उत्तर प्रदेश के एक आईपीएस अधिकारी के लापता होने के मामले पर चिंता जताई है। हाईकोर्ट ने कहा कि यह गंभीर मामला है। राज्य सरकार इस मामले में 14 जून तक जवाब दाखिल करे कि उनकी तलाश मे शासन ने क्या कदम उठाए हैं। जस्टिस मनोज मिश्रा और सैयद आफताब हुसैन रिजवी की बेंच एक बंदी प्रत्यक्षीकरण याचिका पर सुनवाई कर रही थी।

यह याचिका वकील डॉ. मुकुतनाथ वर्मा ने दायर की है। इसमें कहा गया है, ‘महोबा के निलंबित पुलिस अधीक्षक मणिलाल पाटीदार लापता हैं। उन्हें कोर्ट में पेश करने के आदेश दिए जाएं। साथ ही मामले की जांच सीबीआई को सौंपें। पाटीदार खनन माफिया के खिलाफ अभियान चला रहे थे। इससे प्रशासन के कुछ लोगों के साथ उनके संबंध खराब हो गए। पाटीदार को कुछ मामलों में फंसा दिया गया। संभव है कि उच्च अधिकारियों ने कुछ गलत किया हो, जिससे पाटीदार लापता हो गए।’

खबरें और भी हैं...