विज्ञापन

तेलंगाना / अमित शाह का ऐलान- राज्य की सभी 119 सीटों पर अकेले चुनाव लड़ेगी भाजपा

Dainik Bhaskar

Oct 19, 2018, 03:07 PM IST


Amit Shah Rally For Telangana assembly election news and updates
रैली के पहले शाह ने हैदराबाद के देवी महाकाली मंदिर में पूजा की। रैली के पहले शाह ने हैदराबाद के देवी महाकाली मंदिर में पूजा की।
'स्वच्छता ही सेवा' के तहत बेगमपेट हैदराबाद में सफाई अभियान में शाह। 'स्वच्छता ही सेवा' के तहत बेगमपेट हैदराबाद में सफाई अभियान में शाह।
शाह ने तेलंगाना के मेहबूब नगर से भाजपा के चुनावी अभियान की शुरुआत की। शाह ने तेलंगाना के मेहबूब नगर से भाजपा के चुनावी अभियान की शुरुआत की।
X
Amit Shah Rally For Telangana assembly election news and updates
रैली के पहले शाह ने हैदराबाद के देवी महाकाली मंदिर में पूजा की।रैली के पहले शाह ने हैदराबाद के देवी महाकाली मंदिर में पूजा की।
'स्वच्छता ही सेवा' के तहत बेगमपेट हैदराबाद में सफाई अभियान में शाह।'स्वच्छता ही सेवा' के तहत बेगमपेट हैदराबाद में सफाई अभियान में शाह।
शाह ने तेलंगाना के मेहबूब नगर से भाजपा के चुनावी अभियान की शुरुआत की।शाह ने तेलंगाना के मेहबूब नगर से भाजपा के चुनावी अभियान की शुरुआत की।
  • comment

  • तेलंगाना चुनाव के नौ महीने पहले मुख्यमंत्री केसीआर ने विधानसभा भंग की
  • शाह ने कहा- पिछले कुछ सालों में भाजपा का यहां जनाधार बढ़ा

हैदराबाद. भाजपा अध्यक्ष अमित शाह ने आज तेलंगाना के मेहबूब नगर में विधानसभा चुनाव के लिए रैली की। शाह ने कहा- राज्य की सभी 119 सीटों पर भाजपा अकेले चुनाव लड़ेगी। इससे पहले शाह ने हैदराबाद में देवी महाकाली के मंदिर में पूजा भी की।

केसीआर ने राजनीतिक फायदे के लिए विधानसभा भंग की : शाह

  1. अमित शाह ने कहा- 9 महीने बाद तेलंगाना में लोकसभा चुनाव के साथ ही विधानसभा चुनाव होने थे। लेकिन मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव (केसीआर) ने राजनीतिक हित के चलते विधानसभा भंग कर दी। केसीआर ने दो चुनावों का बोझ जनता पर डाल दिया।

  2. 'भाजपा तेलंगाना चुनाव में मजबूत पार्टी बनकर उभरेगी। पिछले कुछ सालों में इस राज्य में हमारा जनाधार बढ़ा है। जिस तरह से साढ़े चार साल चंद्रशेखर राव ने सरकार चलाई, उससे लगता है कि यहां उनकी वापसी नहीं होगी।''

  3. "केसीआर सरकार ने एआईएमआईएम के इशारे पर तेलुगु उत्सव बंद कर दिया। क्या ये वोट बैंक की राजनीति नहीं है? उन्होंने धर्म आधारित आरक्षण का प्रस्ताव भेजा, लेकिन कानून में इसकी मान्यता नहीं है।"

  4. "2014 में टीआरएस ने किसी दलित को मुख्यमंत्री बनाने का वादा किया था, क्या अब 2018 में क्या इसे पूरा करेंगे। अंधश्रद्धा में केसीआर शायद इस वादे को भूल गए।"
     

  5. शाह ने कहा- पेट्रोल डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी और डॉलर के मुकाबले रुपए में गिरावट को लेकर केंद्र सरकार भी चिंतित है। इन्हें नियंत्रित करने के लिए सरकार जल्द ही एक्शन प्लान लाएगी। 

  6. तेलंगाना के चुनाव लोकसभा चुनाव के साथ होने थे। लेकिन मुख्यमंत्री के चंद्रशेखर राव ऐसा नहीं चाहते थे। लिहाजा, विधानसभा तय वक्त से पहले भंग करने का प्रस्ताव रखा गया, जिसे राज्यपाल ने 6 सितंबर को मंजूर कर लिया।

  7. तेलंगाना भाजपा अध्यक्ष के लक्ष्मण ने बताया कि मोदी के नेतृत्व में केंद्र सरकार 'सबका साथ-सबका विकास' की दिशा में काम कर रही है। पार्टी का फोकस सत्ताधारी टीआरएस का विकल्प बनने पर है।

  8. भाजपा तेलंगाना में हिंदुत्व के मुद्दे पर चुनाव लड़ सकती है। पार्टी इस मुद्दे से ही 2014 के बाद हरियाणा, असम, मणिपुर, अरुणाचल प्रदेश और त्रिपुरा में पहली बार अपने दम पर सरकार बनाने में कामयाब रही।

  9. तेलंगाना की पहली विधानसभा की स्थिति

     

    पार्टी सीटें वोट शेयर
    टीआरएस 63 34.3%
    कांग्रेस 21 25.2%
    एआईएमआईएम 7 14.7%
    भाजपा 5 7.1%
    तेदेपा 15 5%
    अन्य 8 9.9%

     

  10. तीन समीकरण संभव

    पहला: टीआरएस अकेले सरकार बनाए
    तेलंगाना आंदोलन में अहम भूमिका निभाने वाली टीआरएस के नेताओं का मानना है राज्य में राव प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी से ज्यादा लोकप्रिय हैं। जनता उन्हें दोबारा जनादेश देगी। 

  11. दूसरा: कांग्रेस-तेदेपा सरकार बनाएं

    तेलंगाना 2014 में आंध्रप्रदेश से अलग हुआ। इसी वजह से राज्य के कुछ हिस्सों में तेदेपा का दबदबा है। आंध्र को विशेष पैकेज न मिलने की वजह से वह एनडीए से अलग हो गई। अब वह कांग्रेस के साथ है। पिछले चुनाव में कांग्रेस को 21 और तेदेपा को 15 विधानसभा सीटें मिली थीं।

  12. तीसरा: टीआरएस-भाजपा का गठजोड़ हो
    कांग्रेस-तेदेपा के गठजोड़ से इसकी संभावनाएं बढ़ गई हैं कि टीआरएस अगर पूर्ण बहुमत में नहीं आती तो वह भाजपा के साथ मिलकर सरकार बना सकती है। तेदेपा ने नोटबंदी, जीएसटी, राष्ट्रपति चुनाव और उप राष्ट्रपति चुनाव में एनडीए का समर्थन किया था।

COMMENT
Astrology

Recommended

Click to listen..
विज्ञापन
विज्ञापन