पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • Amit Shah Kashmir Visit | Union Minister Amit Shah Visits Martyr Arshad Khan Family In Kashmir

शाह अनंतनाग आतंकी हमले में शहीद एसएचओ के परिवार से मिले, कहा- देश को अरशद खान पर गर्व

एक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
शहीद एसएचओ अरशद खान के परिजनों से मुलाकात करते अमित शाह।
  • अरशद खान 12 जून को अनंतनाग में हुए आतंकी हमले में शहीद हुए थे
  • अमित शाह ने राज्यपाल सत्यपाल मलिक, सेना-पुलिस और खुफिया एजेंसियों के अधिकारियों के साथ बैठक की
  • जम्मू-कश्मीर में शांित पर चर्चा के अलावा, अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा-व्यवस्था की समीक्षा की  

श्रीनगर. गृहमंत्री बनने के बाद जम्मू-कश्मीर का पहला दौरा कर रहे अमित शाह ने गुरुवार को शहीद एसएचओ अरशद खान के परिवार से मुलाकात की। खान 12 जून को अनंतनाग में हुए फिदायीन हमले में शहीद हुए थे। शाह ने कहा कि अरशद खान की वीरता और साहस पर पूरे देश को गर्व है। शाह दो दिन के कश्मीर दौरे पर हैं। वे बुधवार को श्रीनगर पहुंचे। 

1) खान के बलिदान ने कई जिंदगियां बचाईं- शाह

शाह ने खान के परिजनों से मुलाकात के बाद ट्वीट किया, "श्रीनगर के अनंतनाग में शहीद एसएचओ अरशद खान के घर गया। वे आतंकी हमले में शहीद हुए थे। मैंने उनके परिवार के प्रति संवेदना जाहिर की। देश की सुरक्षा के लिए उनके बलिदान ने कई लोगों की जिंदगी बचाई। पूरा देश उनके साहस पर गर्व करता है।"

शाह के अनंतनाग दौरे पर सुरक्षा के कड़े बंदोबस्त किए गए थे। आतंकी हमले की आशंका के मद्देनजर अरशद खान के घर की तरफ जाने वाले हर रास्ते को सील कर दिया गया था। 

अनंतनाग आतंकी हमले में 5 जवान शहीद हुए थे। मुठभेड़ के दौरान एक आतंकी मारा गया था, हालांकि उसकी पहचान नहीं हो पाई। इस हमले का जिम्मा स्थानीय आतंकी संगठन अल-उमर ने लिया था। 

अरशद खान हमले में बुरी तरह घायल हो गए थे। उन्हें िदल्ली एम्स में भर्ती कराया गया था, जहां 16 जून को उनकी मृत्यु हो गई। उनके अलावा दो एएसआई रमेश कुमार, नीरू शर्मा, कॉन्स्टेबल सतिंदर कुमार, एमके कुशवा और महेश कुमार हमले में शहीद हुए थे।

14 फरवरी को पुलवामा में हुए सीआरपीएफ के काफिले पर हुए हमले के बाद कश्मीर में यह पहला बड़ा आतंकी हमला था। पुलवामा हमले में 40 सीआरपीएफ जवान शहीद हुए थे। 

अमित शाह ने गुरुवार को जम्मू-कश्मीर की ओवरऑल सुरक्षा-व्यवस्था की समीक्षा की। इस दौरान अमरनाथ यात्रा की सुरक्षा पर भी चर्चा की गई। यह यात्रा 1 जुलाई से शुरू हो रही है।

बैठक में राज्यपाल सत्यपाल मलिक, मुख्यसचिव, नॉर्दर्न आर्मी कमांडर लेफ्टिनेंट जनरल रनबीर सिंह, डीजीपी दिलबाग सिंह और खुफिया एजेंसियों के चीफ मौजूद थे। 

सूत्र ने न्यूज एजेंसी को बताया कि सुरक्षा के अलावा बैठक में कश्मीर में शांति कायम करने और प्रदर्शनों को लेकर भी चर्चा की गई।

0

आज का राशिफल

मेष
मेष|Aries

पॉजिटिव - आज पिछली कुछ कमियों से सीख लेकर अपनी दिनचर्या में और बेहतर सुधार लाने की कोशिश करेंगे। जिसमें आप सफल भी होंगे। और इस तरह की कोशिश से लोगों के साथ संबंधों में आश्चर्यजनक सुधार आएगा। नेगेटिव-...

और पढ़ें