पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • AN 32 Aircraft: AN 32 Aircraft Rescue Team Stuck In Arunachal Pradesh\'s West Siang An 32 Crash Site

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

शहीदों के शव लाने गई रेस्क्यू टीम भी खराब मौसम के कारण 9 दिन से 12 हजार फीट पर फंसी

2 वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
अरुणाचल के सियांग जिले में स्थित परी पहाड़ों पर फंसी है रेस्क्यू टीम। - Dainik Bhaskar
अरुणाचल के सियांग जिले में स्थित परी पहाड़ों पर फंसी है रेस्क्यू टीम।
  • - कई दिनों से मौसम खराब रहने की वजह से रेस्क्यू टीम को एयरलिफ्ट नहीं किया जा सका है
  • - वायुसेना ने 12 जून को एएन-32 के मलबे वाली जगह पर 12 लोगों की टीम उतारी थी
  • - इस टीम ने 20 जून को सभी शहीदों के शव लौटा दिए थे

ईटानगर. अरुणाचल प्रदेश में क्रैश हुए वायुसेना के विमान एएन-32 में सवार शहीदों के शव लाने गई रेस्क्यू टीम खराब मौसम के चलते 9 दिन क्रैश साइट पर फंसी रही। हादसे में शहीद जवानों की पार्थिव देह 20 जून को भेज दी गई थीं। शनिवार को वायुसेना के हेलिकॉप्टरों से रेस्क्यू टीम के 15 सदस्यों को एयरलिफ्ट किया गया। इनमें सेना, वायुसेना और पर्वतारोही शामिल हैं।

 

वायुसेना ने विमान का मलबा दिखने के बाद 12 जून को सियांग जिले के जंगलों में दो हेलिकॉप्टर के जरिए 12 लोगों की टीम दुर्घटना वाली जगह के पास उतारा था। सियांग जिले के परी पहाड़ों से 19 जून को 6 पार्थिव शरीर निकाल लिए गए थे। इसके बाद 20 जून को 7 अन्य पार्थिव देह मिलीं।

 

3 जून को लापता हुआ था विमान, 8 दिन खोज के बाद मिला
एएन-32 ने 3 जून को असम के एयरबेस से उड़ान भरी थी। यह अरुणाचल में लापता हो गया था। इसमें वायुसेना के 8 क्रू समेत 13 लोग सवार थे। वायुसेना ने खोज के लिए सुखोई-30, सी130 जे सुपर हर्क्युलिस, पी8आई एयरक्राफ्ट, ड्रोन और सैटेलाइट्स के जरिए विमान का पता लगाने की कोशिश की। इस मिशन में वायुसेना के अलावा नौसेना, सेना, खुफिया एजेंसियां, आईटीबीपी और पुलिस के जवान लगे हुए थे। तीनों सेनाओं की मदद से आठ दिन तक बड़े पैमाने पर तलाशी अभियान चलाया गया था। इस दौरान एमआई-17 हेलिकॉप्टर को अरुणाचल के जंगल में विमान का मलबा दिखाई दिया था।

 

इस इलाके में ज्यादा टर्बुलेंस, इसलिए उड़ान मुश्किल
कई शोध में एक बात सामने आई है कि अरुणाचल के इस इलाके में बहुत ज्यादा टर्बुलेंस है। 140 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से चलने वाली हवा यहां की घाटियों के संपर्क में आने पर ऐसी स्थितियां बनाती है कि उड़ान मुश्किल हो जाती है। दूर-दूर तक जंगल और आबादी नहीं होने से किसी की खोज भी कठिन होती है। इसमें काफी समय लग जाता है।

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- जिस काम के लिए आप पिछले कुछ समय से प्रयासरत थे, उस कार्य के लिए कोई उचित संपर्क मिल जाएगा। बातचीत के माध्यम से आप कई मसलों का हल व समाधान खोज लेंगे। किसी जरूरतमंद मित्र की सहायता करने से आपको...

और पढ़ें

Open Dainik Bhaskar in...
  • Dainik Bhaskar App
  • BrowserBrowser