• Hindi News
  • National
  • Another Investigation Ordered In India Against Google Competition Commission Of India Said The Company Cannot Abuse The Monopoly

गूगल के खिलाफ भारत में एक और जांच के आदेश:भारतीय प्रतिस्पर्धा आयाेग ने कहा- एकाधिकार का दुरुपयोग नहीं कर सकती कंपनी

9 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
आयोग ने कहा, लोकतंत्र में न्यूज मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका को कम नहीं आंका जा सकता। - Dainik Bhaskar
आयोग ने कहा, लोकतंत्र में न्यूज मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका को कम नहीं आंका जा सकता।

सर्च इंजन गूगल अपने क्षेत्र में एकाधिकार की वजह से भारत में भी अनुचित लाभ कमा रहा है। भारतीय प्रतिस्पर्धा आयाेग (सीसीआई) ने इस मामले में जांच के आदेश दे दिए हैं। डिजिटल न्यूज पब्लिशर्स एसाेसिएशन (डीएनपीए) की शिकायत के बाद सीसीआई ने माना कि प्रथमदृष्ट्या प्रतिस्पर्धा कानून के कुछ प्रावधानों का उल्लंघन नजर आ रहा है।

ऑनलाइन विज्ञापन और ऐप डेवलपर्स से प्लेस्टोर के नाम पर मनमाना कमीशन वसूलने को लेकर गूगल भारत में पहले से जांच के घेरे में है। आयाेग ने ताजा आदेश में माना है कि गूगल एकाधिकार का दुरुपयाेग कर डिजिटल न्यूज पब्लिशर्स पर अनुचित शर्तें थाेप रहा है। आयाेग ने गूगल और इसकी मूल कंपनी अल्फाबेट के विरुद्ध जांच रिपाेर्ट 60 दिन के भीतर तलब की है।

डीएनपीए ने शिकायत में कहा कि गूगल एल्गोरिदम से मनमाने तरीके से तय कर देता है कि कोई जानकारी खोजने पर कौन सी वेबसाइट ऊपर दिखेगी। यही नहीं, भारतीय न्यूज प्रकाशक गुणवत्तापूर्ण कंटेंट के लिए बड़ा निवेश करते हैं, लेकिन विज्ञापन राशि का काफी बड़ा हिस्सा गूगल रख लेता है, जबकि वह कंटेंट क्रिएट नहीं करता।

गूगल न्यूज जैसे प्लेटफॉर्म पर भी वह पब्लिशर्स का ही कंटेंट दिखाकर अनुचित लाभ ले रहा है। आयोग ने कहा, लोकतंत्र में न्यूज मीडिया की महत्वपूर्ण भूमिका को कम नहीं आंका जा सकता। यह सुनिश्चित किया जाना चाहिए कि बड़ी टेक कंपनियां अपने एकाधिकार का दुरुपयोग न करने पाएं। सभी स्टेकहोल्डर्स में विज्ञापन राजस्व का उचित बंटवारा होना चाहिए।

फ्रांस, ऑस्ट्रेलिया में भुगतान करना पड़ा
सीसीआई ने अपने आदेश में फ्रांस और ऑस्ट्रेलिया के नए नियमों का भी उल्लेख किया, जिसके बाद गूगल को स्थानीय समाचार प्रकाशकों को उचित भुगतान के लिए राजी हाेना पड़ा। वहीं, यूराेपियन यूनियन भी टेक कंपनियाें के द्वारा पब्लिशर्स काे भुगतान करने का कानून बना रही है जिससे बचने के लिए गूगल विराेध कर रहा है।

खबरें और भी हैं...