• Hindi News
  • National
  • Bipin Rawat: Army Chief Bipin Rawat Warning to Pakistan, Says Indian Army is ready to deal with any threat

सुरक्षा / पाक ने एलओसी पर सैन्य क्षमता बढ़ाई, भारत के सेना प्रमुख ने कहा- परेशान न हों, हम तैयार हैं



Bipin Rawat: Army Chief Bipin Rawat Warning to Pakistan, Says Indian Army is ready to deal with any threat
X
Bipin Rawat: Army Chief Bipin Rawat Warning to Pakistan, Says Indian Army is ready to deal with any threat

  • पाकिस्तान कश्मीर में ब्लास्ट और फिदायीन हमलों के जरिए हालात बिगाड़ने की कोशिश कर सकता है
  • कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान ने एलओसी पर अतिरिक्त सेना तैनात की

Dainik Bhaskar

Aug 13, 2019, 06:16 PM IST

नई दिल्ली. सेना प्रमुख जनरल बिपिन रावत ने मंगलवार को कहा कि भारतीय सेना किसी भी खतरे से निपटने के लिए तैयार है। उन्होंने कहा कि पाकिस्तान जम्मू-कश्मीर में लाइन ऑफ कंट्रोल (एलओसी) के पास पिछले कुछ दिनों से अपनी सैन्य क्षमता में इजाफा कर रहा है। यह सामान्य है और हम इस क्षेत्र में दी गई किसी भी चुनौती से निपटने के लिए तैयार हैं। 

हर देश अपनी सुरक्षा के लिए कदम उठाता है- सेना प्रमुख

  1. सेना प्रमुख ने कहा- हर देश किसी भी खतरे को ध्यान में रखते हुए सुरक्षा के कदम उठाता है। अगर पाकिस्तान एलओसी पर अतिरिक्त सेना की तैनाती कर रहा है तो इसमें परेशान होने वाली कोई बात नहीं है। 

  2. एक कार्यक्रम के दौरान सेना प्रमुख से पूछा गया था कि जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद से पाकिस्तान लगातार एलओसी के पास अपनी क्षमताओं में इजाफा कर रहा है। इस पर जनरल रावत ने कहा- हमें इस बारे में बहुत ज्यादा परेशान होने की जरूरत नहीं है। 

  3. आने वाले दिनों में एलओसी पर सैन्य गतिविधियां बढ़ने के सवाल पर उन्होंने कहा- जहां तक सेना की बात है तो हम हमेशा तैयार रहते हैं। अगर कुछ गलत होता है तो हम इससे निपटने की क्षमता रखते हैं। अगर सैन्य गतिविधियां बढ़ती हैं तो यह पाकिस्तान का चयन होगा।

  4. जनरल रावत ने कहा- अगर शत्रु एलओसी पर गतिविधियां चाहता है, तो यह उसकी इच्छा है। एलओसी पर सेना हाई अलर्ट पर है। अगर पाकिस्तान कोई हिमाकत करता है तो उसका करारा जवाब देने के लिए सेना को तैयार रखा गया है। 

  5. भारतीय सेना के टॉप कमांडर हालात पर लगातार नजर बनाए हुए हैं। इसके अलावा इस इलाके में किसी तरह के नागरिक विरोध का सामना करने के लिए भी सुरक्षा बल तैनात हैं। 

  6. सूत्रों के मुताबिक, मोदी सरकार द्वारा जम्मू-कश्मीर से अनुच्छेद 370 हटाए जाने के बाद पाकिस्तान घाटी में अशांति फैलाने की कोशिश कर सकता है। वह हिंसा, धमाकों या फिदायीन हमलों के जरिए राज्य के हालात बिगाड़ने की कोशिश कर सकता है।

     

    DBApp

     

     

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना