• Hindi News
  • National
  • 3 Terrorists Killed In Jammu And Kashmir's Bandipora, 4 Civilians Injured in Pakistan Army Ceasefire Violation

कश्मीर / सेना ने घुसपैठ कर रहे 3 आतंकी मारे; पाक ने युद्ध विराम का उल्लंघन किया, 5 नागरिक जख्मी



3 Terrorists Killed In Jammu And Kashmir's Bandipora, 4 Civilians Injured in Pakistan Army Ceasefire Violation
X
3 Terrorists Killed In Jammu And Kashmir's Bandipora, 4 Civilians Injured in Pakistan Army Ceasefire Violation

  • आतंकियों ने बांदीपोरा के गुरेज सेक्टर में घुसपैठ की कोशिश की
  • पाकिस्तानी सेना ने लगातार चौथे दिन संघर्ष विराम का उल्लंघन किया

Dainik Bhaskar

Jul 31, 2019, 02:27 PM IST

श्रीनगर. जम्मू-कश्मीर में सेना ने नियंत्रण रेखा (एलओसी) के पास आतंकियों की घुसपैठ को नाकाम कर दिया। मंगलवार रात बांदीपोरा जिले के गुरेज सेक्टर में मुठभेड़ में तीन आतंकियों मारे गए। इसी दौरान पाकिस्तानी सेना ने तंगधार सेक्टर में युद्ध विराम का उल्लंघन करते हुए मोर्टार दागे। पाक फायरिंग में 4 आम भारतीय जख्मी हो गए। सीमा पार से हुई गोलाबारी का भारतीय सेना ने भी माकूल जवाब दिया।

 

पाक ने लगातार चौथे दिन संघर्ष विराम का उल्लंघन किया। पाक ने तंगधार के बाद बुधवार तड़के गुरेज सेक्टर में भी युद्ध विराम का उल्लंघन किया। इसमें एक भारतीय महिला जख्मी हो गईं। इससे पहले रविवार को पुंछ के शाहपुर सेक्टर में गोलाबारी में 12 दिन के बच्चे की मौत हो गई थी, जबकि दो अन्य लोग घायल हुए थे।

 

जवान नाइक कृष्ण लाल शहीद

एलओसी पर मंगलवार सुबह भी पाकिस्तानी सेना ने राजौरी जिले के सुंदरबनी सेक्टर में सीजफायर उल्लंघन किया था। इसमें भारतीय जवान नाइक कृष्ण लाल (34) शहीद हो गए। वे अखनूर के घागरिया गांव के रहने वाले थे। सेना के सूत्रों ने बताया कि जवाबी कार्रवाई में पाकिस्तान के दो जवान मारे गए। रिपोर्ट के मुताबिक मंगलवार सुबह ही सुरक्षाबलों ने बांदिपोरा जिले के गुरेज ब्लॉक के कंजलवान में दो आतंकियों को मार गिराया।

 

ARMY

 

आतंकी संगठन जैश के दो आतंकी मारे

इससे पहले 27 जुलाई को शोपियां में सुरक्षाबलों और आतंकियों के बीच मुठभेड़ हुई थी। इसमें जैश-ए-मोहम्मद के कमांडर मुन्ना लाहौरी उर्फ बिहारी समेत 2 आतंकी मारे गए थे। जम्मू-कश्मीर के डीजीपी दिलबाग सिंह ने बताया था कि मुन्ना लाहौरी ने घाटी में कई नागरिकों की हत्या की थी। वह पुलवामा में हुए कार ब्लास्ट के अलावा 30 मार्च को बनिहाल में हुए धमाके में भी शामिल रहा था।

 

कश्मीर में 10 हजार अतिरिक्त सुरक्षाबल तैनात
जम्मू-कश्मीर में फिलहाल राष्ट्रपति शासन लागू है। रिपोर्ट के मुताबिक- केंद्र सरकार ने राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार अजीत डोभाल के कश्मीर दौरे के बाद राज्य में 10 हजार अतिरिक्त सुरक्षाबलों की 100 कंपनियां तैनात करने का फैसला लिया है। सूत्रों की मानें तो 15 अगस्त से पहले श्रीनगर में 15, पुलवामा और सोपोर में 10-10, बाकी 10 जिलों में 5-5 कंपनियां तैनात होंगी। सरकारी सूत्र ने दावा किया कि राज्य में अनुच्छेद 35ए हटाने के बाद की स्थिति से निपटने के लिए जवान कश्मीर भेजे जा रहे हैं।

 

पांच साल में 963 आतंकी मारे गए: सरकार

केंद्रीय गृह राज्यमंत्री जी. किशन रेड्‌डी ने हाल ही में सदन में बताया था कि जम्मू कश्मीर में पांच साल में 963 आतंकवादी मारे गए, जबकि 413 सुरक्षाकर्मी शहीद हुए। सरकार आतंकवाद के खिलाफ जीरो टॉलरेंस की नीति पर काम कर रही है। तीन साल में 400 से अधिक घुसपैठ की घटनाएं हुईं। इनमें 2016 में 119, 2017 में 136 और 2018 में 143 बार कोशिश की गई।

 

DBApp

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना