• Hindi News
  • National
  • Gopal Rai | Arvind Kejriwal Gopal Rai AAP National Executive Meeting Latest News and Updates; Eyes On Panchayat Nagar Nikay Chunav

रणनीति / आप की राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक आज; पार्टी भाजपा की तरह काडर तैयार करेगी, देशभर में निकाय चुनाव लड़ेगी

दिल्ली में जीत के बाद पार्टी दफ्तर में जश्न मनाते आप कार्यकर्ता। दिल्ली में जीत के बाद पार्टी दफ्तर में जश्न मनाते आप कार्यकर्ता।
X
दिल्ली में जीत के बाद पार्टी दफ्तर में जश्न मनाते आप कार्यकर्ता।दिल्ली में जीत के बाद पार्टी दफ्तर में जश्न मनाते आप कार्यकर्ता।

  • आम आदमी पार्टी विधानसभा चुनाव में 62 सीटें जीतकर लगातार तीसरी बार दिल्ली की सत्ता में आई
  • आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल रामलीला मैदान में रविवार को दिल्ली के मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे
  • दिल्ली में बड़ी जीत से उत्साहित आप सकारात्मक राष्ट्रवाद का प्रचार कर देशभर में भाजपा को चुनौती देगी

दैनिक भास्कर

Feb 16, 2020, 07:31 AM IST

नई दिल्ली. दिल्ली विधानसभा चुनाव में जीत की हैट्रिक लगाने के बाद आम आदमी पार्टी (आप) अब भाजपा की तर्ज पर देशभर में अपना कैडर तैयार करेगी। इस दौरान पार्टी विकास की राजनीति, सकारात्मक राष्ट्रवाद जैसे मुद्दों का जोरशोर से प्रचार करेगी और भाजपा के सामने एक चुनौती पेश करेगी। इस पर मंथन करने के लिए रविवार को मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल के शपथ ग्रहण समारोह के बाद दिल्ली में राष्ट्रीय कार्यकारिणी की बैठक बुलाई गई है। आप ने साफ कर दिया है कि अब वह देशभर में स्थानीय निकाय चुनावों पर फोकस करेगी और इसी रास्ते राष्ट्रीय स्तर पर पहुंचेगी।

आप के दिल्ली संयोजक गोपाल राय ने शनिवार को बताया कि अब हम पार्टी के सकारात्मक राष्ट्रवाद के संदेश को जनता के बीच लेकर जाएंगे। इसके जरिए नफरत और विभाजनकारी राजनीति पर आधारित भाजपा के राष्ट्रवाद को चुनौती देंगे। हमारे राष्ट्र निर्माण अभियान में शामिल होने के लिए लोग 9871010101 पर मिस्ड कॉल कर रहे हैं। एक बार बड़े स्तर पर वॉलेंटियर्स की नियुक्त और ट्रेनिंग हो जाएं, उसके बाद आप देशभर में निकाय चुनाव लड़ेगी। फिलहाल, हम मध्य प्रदेश और गुजरात में आगामी स्थानीय निकायों के चुनाव पर फोकस कर रहे हैं।

'हमारा राष्ट्रवाद समाज के हर वर्ग के लिए बेहतर जिंदगी की गारंटी'

राय ने न्यूज एजेंसी से कहा कि आप के राष्ट्रवाद का एजेंडा भाजपा के बिल्कुल अलग है। दिल्ली चुनाव में हमने प्यार और सम्मान के सकारात्मक राष्ट्रवाद का प्रचार किया। जबकि भाजपा अपने नफरज और विभाजनकारी राष्ट्रवाद के एजेंडा पर काम करती रही। दिल्ली में किया गया हमारा प्रयोग पूरे देश के लिए रोल मॉडल बन चुका है। हमारा राष्ट्रवाद अच्छी शिक्षा, इलाज और किसानों समेत समाज के हर वर्ग को बेहतर जिंदगी की गारंटी देता है। जबकि भाजपा देशवासियों की भावनाओं का सम्मान नहीं करती है और उन्हें केवल वोट बैंक मानती है।

आप को 62 और भाजपा को 8 सीटें मिलीं
दिल्ली में इस बार आप को 62 और भाजपा को 8 सीटें मिली हैं। जबकि कांग्रेस को लगातार दूसरे चुनाव में 70 में से कोई सीट नहीं मिली। लोकसभा चुनाव 2019 में आप को दिल्ली की 7 में से एक भी सीट पर जीत हासिल नहीं हुई थी। आप के राष्ट्रीय संयोजक अरविंद केजरीवाल लगातार तीसरी बार रविवार को मुख्यमंत्री पद की शपथ लेंगे।

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना