• Hindi News
  • National
  • Arvind Kejriwal VS BJP Operation Lotus; AAP Govt Wins Trust Vote In Delhi Assembly | Delhi News

केजरीवाल सरकार ने जीता विश्वासमत:4 दिन की चर्चा के बाद सपोर्ट में मिले 58 वोट; वोटिंग से भाजपा का वॉकआउट

नई दिल्ली3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

दिल्ली विधानसभा में प्रस्ताव पेश होने के तीन दिन बाद गुरुवार को केजरीवाल सरकार ने विश्वासमत जीत लिया है। सरकार के सपोर्ट में 58 वोट पड़े हैं, जबकि भाजपा ने वोटिंग से वॉकआउट कर दिया। 70 सीटों वाली दिल्ली विधानसभा में AAP के 62 और भाजपा के 8 विधायक हैं।

गुरुवार को सदन शुरू होते ही भाजपा विधायक शराब घोटाले की चर्चा को लेकर हंगामा करने लगे, जिसके बाद डिप्टी स्पीकर राखी बिरला ने भाजपा के 2 विधायकों को मार्शल आउट कर दिया। विधायकों के मार्शल आउट के बाद दिल्ली असेंबली में नेता प्रतिपक्ष रामवीर विधूड़ी ने कहा कि 2000 करोड़ रुपए का शराब घोटाला है और हमारे विधायकों को बोलने नहीं दिया जा रहा है।

अहम अपडेट्स...

  • दिल्ली असेंबली में विश्वासमत पर चर्चा के बीच भाजपा नेताओं ने सड़क पर प्रदर्शन किया।
  • AAP के सभी विधायक उप-राज्यपाल से मिलेंगे। मुलाकात में विधायक ज्ञापन सौपेंगे।

केजरीवाल ने गुजरात चुनाव से CBI रेड को जोड़ा
विश्वासमत प्रस्ताव पर चर्चा के दौरान मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने कहा कि CBI के अधिकारी मनीष सिसोदिया को गिरफ्तार कर सकती है। केजरीवाल ने आगे दावा किया कि अगर सिसोदिया को गिरफ्तार किया गया तो गुजरात चुनाव में हमारे वोट पर्सेंटेज बढ़ेंगे। उन्होंने आगे कहा कि मेरे खिलाफ भी इन्होंने 16 केस किए गए थे, 12 केस में मैं बरी हो गया।

AAP का आरोप- ऑपरेशन लोटस से MLAs खरीदने की कोशिश
मनीष सिसोदिया के घर पर 19 अगस्त को CBI रेड के बाद AAP ने भाजपा पर ऑपरेशन लोटस का आरोप लगाया। AAP ने कहा कि भाजपा 800 करोड़ रुपए खर्च कर हमारे 40 विधायकों को खरीदना चाहती है। भाजपा के लोगों ने 12 विधायकों को 20-20 करोड़ रुपए का ऑफर भी दी है।

19 अगस्त से दिल्ली में AAP और BJP के बीच तकरार
आबकारी नीति को लेकर दिल्ली में पहली बार 19 अगस्त को मनीष सिसोदिया के घर पर CBI ने छापेमारी की थी। यह छापेमारी करीब 14 घंटे तक चली थी, जिसके बाद CBI ने इस मामले में PMLA कानून के तहत केस दर्ज कर लिया था।