• Hindi News
  • National
  • Superstar Shahrukh Khan Son । Aryan Khan । Narcotics Control Bureau (NCB) । Bombay High Court । Drugs on cruise Case । Mumbai Arthur Road Prison । Anti drugs Agency । WhatsApp Chats । Foreign Drugs Cartel

आर्यन NCB ऑफिस में 78 मिनट रहे:जांच एजेंसी की डायरी में अटेंडेंस लगाई, मुनमुन और अरबाज की भी पेशी हुई

मुंबई24 दिन पहले

क्रूज ड्रग्स केस में जमानत पर चल रहे आर्यन खान ने शुक्रवार को (नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो) NCB के दफ्तर पहुंचकर हाजिरी लगाई। आर्यन के साथ उनके बॉडीगॉर्ड रवि सिंह भी मौजूद रहे। आर्यन दोपहर 12 बजकर 12 मिनट पर पहुंचे थे और 1.30 बजे वहां से बाहर निकले। आर्यन के वकील आधे घंटे पहले ही NCB दफ्तर पहुंच गए थे।

NCB के जोनल अधिकारी समीर वानखेड़े भी मौजूद थे। उनकी उपस्थिति में अपने वकील के साथ आर्यन खान ने NCB की डायरी में अपनी अटेंडेंस लगाई। आर्यन से किसी तरह की पूछताछ नहीं की गई। आर्यन के निकलते ही मुनमुन धमीचा और अरबाज मर्चेंट NCB ऑफिस पहुंचे। वे करीब 3.30 बजे वहां से निकले।

बॉम्बे हाईकोर्ट ने आर्यन को 14 शर्तों के साथ जमानत दी है। इसमें एक शर्त यह भी है कि हर शुक्रवार दोपहर 11 से 2 बजे के बीच NCB ऑफिस पहुंचकर उन्हें हाजिरी लगानी होगी। आर्यन खान 30 अक्टूबर को जेल से बाहर आए थे।

वो 14 शर्तें, जो आर्यन को पूरी करनी हैं

1. आर्यन की ओर से 1 लाख का पर्सनल बॉन्ड जमा करना था, जो उन्होंने कर दिया।

2. कम से कम एक या ज्यादा जमानती देने थे, यह भी हो चुका।

3. NDPS कोर्ट की अनुमति के बिना देश नहीं छोड़ सकते।

4. इन्वेस्टिगेशन ऑफिसर की अनुमति के बिना मुंबई नहीं छोड़ सकते।

5. ड्रग्स जैसी किसी एक्टिविटी में मिलने पर जमानत तुरंत रद्द कर दी जाएगी।

6. इस केस को लेकर मीडिया या सोशल मीडिया में कोई बयान नहीं देना है।

7. हर शुक्रवार को नारकोटिक्स कंट्रोल ब्यूरो के ऑफिस में सुबह 11 से दोपहर 2 बजे के बीच आना होगा।

8. केस की तय तारीखों पर अदालत में मौजूद होना होगा।

9. किसी भी समय पर बुलाए जाने पर NCB ऑफिस जाना होगा।

10. मामले के दूसरे आरोपियों या व्यक्ति से संपर्क या बातचीत नहीं करेंगे।

11. एक बार ट्रायल शुरू होने के बाद इसमें किसी तरह की देरी नहीं करेंगे।

12. आरोपी ऐसा कोई काम नहीं करेंगे जो कोर्ट की कार्यवाही या आदेशों पर विपरीत असर डालती हो।

13. आरोपी निजी तौर पर या फिर किसी और से गवाहों को धमकाने, प्रभावित करने या सबूतों से छेड़छाड़ का प्रयास नहीं करेगा।

14. अगर आवेदक/आरोपी इनमें से कोई भी नियम तोड़ता है तो NCB के पास यह अधिकार है कि वह उसकी जमानत अर्जी खारिज करने के लिए अदालत का रुख कर सकती है।

जूही चावला ने भरा था आर्यन का बेल बॉन्ड
बॉलीवुड एक्ट्रेस जूही चावला ने जेल पहुंचकर आर्यन के लिए बेल बॉन्ड भरा था। वे सेशंस कोर्ट में आर्यन के लिए कटघरे में खड़ी हुईं थीं और उनकी जमानती बनने की बात कही थी। एक्ट्रेस की ओर से उनके वकील सतीश मानशिंदे ने कोर्ट को बताया था कि उनका नाम पासपोर्ट पर दर्ज है। उनका आधार कार्ड भी जोड़ा गया है। वे आर्यन खान के लिए श्योरिटी दे रहीं हैं। वह आर्यन के पिता की प्रोफेशनल सहयोगी हैं और आर्यन को उनके जन्म से जानती हैं। जज ने जूही के सारे डॉक्युमेंट्स वैरिफाई किए थे और आर्यन का बेल बॉन्ड जारी कर दिया था।