फेस्टिव सीजन / त्योहारी दिनों में ऑटो सेक्टर 40% तक बढ़ सकता है, टीवी-फ्रिज जैसे उपकरण की बिक्री 15% तक बढ़ेगी



Auto sector may grow up to 40% on festive season
X
Auto sector may grow up to 40% on festive season

  • रक्षा बंधन से शुरू हो रहा देश में पर्व, बेहतर मानसून होने के कारण बाजार गुलजार रहने की उम्मीद
  • जानें- कैसा रहेगा इन प्रमुख सेक्टर्स में बाजार? नवंबर के पहले मुहूर्त में 31 हजार शादियों की उम्मीद

Dainik Bhaskar

Aug 11, 2019, 08:36 AM IST

मुंबई (विनोद यादव). अगले सप्ताह रक्षा बंधन के साथ देश में त्योहारी सीजन शुरू हो जाएगा। लंबे समय से मंदी में चल रहे ऑटो सेक्टर को इस सीजन में काफी उम्मीद है। विशेषज्ञ बता रहे हैं कि इस बार इस सेक्टर में 30 से 40 फीसदी तक ग्रोथ देखने को मिलेगी। हालांकि गोल्ड का भाव लगातार बढ़ने के कारण फिलहाल प्रमुख बाजारों में सन्नाटा है, लेकिन ज्वेलर्स को नवंबर महीने से शुरू होने वाले शादियों के सीजन से उम्मीदें हैं।

 

शुगर मिल्स एसोसिएशन (इस्मा) के निदेशक संजय बनर्जी बताते हैं कि इस फेस्टिवल सीजन में चीनी के दाम बढ़ने की गुंजाइश नहीं के बराबर है। भले ही सरकार ने पिछले महीने की तुलना में इस अगस्त महीने में करीब 14 लाख 99 हजार मीट्रिक टन कम चीनी रिलीज करने की अनुमति दी है। देश में चीनी का स्टॉक बहुत है। यदि अगले साल प्रोडक्शन कम भी होता है, तो भी चीनी मिलों के पास भंडार के कारण मांग पूरी हो जाएगी।

 

कैसा रहेगा इन प्रमुख सेक्टर्स में बाजार?

 

होम अप्लायन्सेस सेक्टर: 10 हजार करोड़ का बिजनेस होगा
कंज्यूमर इलेक्ट्रॉनिक्स एंड अप्लायन्सेज मैन्युफैक्चरर्स एसोसिएशन के अध्यक्ष कमल नंदी कहते हैं कि अप्लायन्सेज इंडस्ट्रीज का बाजार करीब 35 हजार करोड़ रुपए का है। उम्मीद है कि इस सीजन में करीब 10 हजार करोड़ का बिजनेस होगा। हमें 10-15 प्रतिशत के ग्रोथ की उम्मीद है। पिछले साल के फेस्टिवल सीजन में महज 5-6 प्रतिशत की ग्रोथ थी।

 

इस बार वह दोगुनी होने की उम्मीद है, क्योंकि मौसम विभाग की जो रिपोर्ट आ रही है, उसके अनुसार अब तक देश में अच्छी बारिश हुई और बचे समय में भी मानसून अच्छा रहने वाला है। इसके अलावा आरबीआई द्वारा रेपो रेट और बैंकों द्वारा इंटरेस्ट रेट घटाने से लोगों के हाथ में इस बार खर्च करने के लिए त्योहारी मौसम में ज्यादा पैसे रहने वाले हैं।

 

गोल्ड मार्केट: मंदी रहेगी, लेकिन शादियों से उम्मीद
मुंबई ज्वेलर्स एसोसिएशन के कुमार जैन बताते हैं कि 10 ग्राम सोना 38 हजार रु. का हो गया है। पिछले साल रक्षा बंधन पर कीमत 27-28 हजार रु. थी। दुकानों पर 80% ग्राहक कम हो गए हैं। पिछले साल शादी के 61-62 मुहूर्त थे, जबकि इस बार 75-78 मुहूर्त हैं। नवंबर में शादी के पहले मुहूर्त के दिन देश में 30-31 हजार शादियां हैं।

 

हमें शादियों में राहत की उम्मीद है। ज्वेलर्स ने रक्षा बंधन जैसे त्योहार को ध्यान में रखकर छोटी ज्वेलरी बनाई है। वर्ल्ड गोल्ड काउंसिल के भारत में प्रबंध निदेशक सोमसुंदरम पीआर कहते हैं कि हमें उम्मीद है कि दाम बढ़ने के बावजूद मांग में अधिक गिरावट नहीं आने वाली है।

 

ऑटो मोबाइल सेक्टरः 6 माह बाद वाहन महंगे होने हैं
फेडरेशन ऑफ ऑटोमोबाइल डीलर्स एसोसिएशन (फाडा) के अध्यक्ष आशीष काले बताते हैं कि आरबीआई ने चौथी बार अपना रेपो रेट इस फेस्टिवल सीजन के शुरू होने से पहले ही कम किया है। जिसकी वजह से एसबीआई ने अपनी ब्याज दर में 0.15 प्रतिशत की कटौती की है। और भी बैंक इंटरेस्ट रेट को घटा रहे हैं। इस बार बारिश अच्छी हो रही है।

 

लिहाजा, ग्राहकों को खरीदारी करने का इससे अच्छा मौका नहीं मिलने वाला है। वैसे भी छह महीने बाद बीएस-6 इंजन आने वाला है, जिसके चलते गाड़ियों के दाम भी बढ़ने वाले हैं।  सरकार ने बजट में फाइनेंस की उपलब्धता भी आसान कर दी है। उम्मीद है इस बार इस सेक्टर में 30-40 फीसदी ग्रोथ देखने को मिलेगी।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना