उप्र / भद्दी टिप्पणी पर आजम ने कहा- अगर दोषी पाया गया तो चुनाव नहीं लड़ूंगा; एफआईआर दर्ज



Azam says I will not contest polls if proved guilty FIR Registered Updates
X
Azam says I will not contest polls if proved guilty FIR Registered Updates

  • आजम ने कहा- मैंने किसी का नाम लेकर बेइज्जती नहीं की, यह साबित हो जाए तो चुनाव नहीं लड़ूंगा
  • सुषमा स्वराज ने मुलायम से कहा- भीष्म की तरह मौन साधने की गलती मत कीजिए  

Dainik Bhaskar

Apr 15, 2019, 10:27 AM IST

नई दिल्ली/लखनऊ.  हेट स्पीच के मामले में सुप्रीम कोर्ट की फटकार के बाद चुनाव आयोग सोमवार को एक्शन में आया। आयोग ने योगी आदित्यनाथ, बसपा प्रमुख मायावती, सपा नेता आजम खान और भाजपा नेता मेनका गांधी के चुनाव प्रचार पर रोक लगा दी। योगी-आजम 3-3 और माया-मेनका 2-2 दिन चुनाव प्रचार नहीं कर सकेंगे। दरअसल, एक याचिका की सुनवाई के दौरान सुप्रीम कोर्ट ने आयोग से पूछा था कि हेट स्पीच के मामलों में आपने क्या कदम उठाया। इस पर आयोग ने जवाब दिया था कि हमारे अधिकार सीमित हैं और हम नोटिस भेजकर नेताओं से जवाब ही मांग सकते हैं।

 

  • पिछले दिनों देवबंद में सपा-बसपा-रालोद गठबंधन की रैली में मायावती ने कहा था कि मुस्लिम मतदाताओं को भावनाओं में बहकर अपने वोट बंटने नहीं देना है। वहीं, योगी ने बजरंग बली और अली का जिक्र करके मायावती पर निशाना साधा था।
  • आजम ने सपा नेता आजम खान ने विवादास्पद बयान दिया है। माना जा रहा है कि उनका इशारा अभिनेत्री और रामपुर से भाजपा प्रत्याशी जयाप्रदा की तरफ था। हालांकि बाद में आजम ने सफाई देते हुए कहा कि अगर मैं दोषी पाया गया तो चुनाव नहीं लड़ूंगा।
  • मेनका गांधी ने एक चुनावी रैली में कहा था कि यदि मुस्लिम उन्हें वोट नहीं देते हैं तो वे उन्हें नौकरी नहीं दे सकेंगी। उनको यह बिल्कुल अच्छा नहीं लगेगा कि वे मुस्लिमों के सहयोग के बिना यह चुनाव जीतें। 

'जिसकी उंगली पकड़कर हम रामपुर लाए'

  1. आजम ने रविवार को रामपुर में कहा, "मैं सवाल करता हूं कि क्या राजनीति इतनी गिर जाएगी। 10 बरस जिसने रामपुर के लोगों का लहू पिया, जिसकी उंगली पकड़कर हम रामपुर लेकर आए। रामपुर की गलियां और सड़कों की पहचान कराई। उसके शरीर से किसी का कंधा नहीं लगने दिया, आप गवाही दोगे। छूने नहीं दिया, गंदी बात नहीं करने दी। आपने 10 साल अपना प्रतिनिधित्व कराया। लेकिन आप और मुझमें क्या फर्क है। रामपुर वालो, उत्तरप्रदेश और हिंदुस्तान वालो, उसकी असलियत समझने में आपको 17 बरस लग गए, मैं 17 दिन में पहचान गया। उनका...खाकी है।"

  2. सोमवार को सफाई में कहा, "किसी भी आदमी को पहचानने में वक्त लगता है। मैंने यह बात एक आदमी के संदर्भ में कही थी। एक बार उसने कहा था कि वह अपने साथ 150 राइफल लेकर आया। उसने कहा कि अगर मुझे सामने देखा तो गोली मार देगा। मेरे नेताओं ने भी गलती की। अब यह पता चला है कि वह संघ का पैंट पहने हुए था।"

  3. आजम के बयान को लेकर सुषमा स्वराज ने मुलायम सिंह यादव से कार्रवाई करने की अपील की। सुषमा ने ट्वीट किया, "मुलायम भाई - आप पितामह हैं समाजवादी पार्टी के। आपके सामने रामपुर में द्रौपदी का चीर हरण हो रहा हैं। आप भीष्म की तरह मौन साधने की गलती मत करिये।"

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना