• Hindi News
  • National
  • Bangalore CCTV Video Footage; Mother Throws Daugher From Fourth Floor | Karnataka News

बेंगलुरु में मां ने बच्ची को चौथी मंजिल से फेंका:4 साल की मूक-बधिर बच्ची को फेंकने के बाद खुद रेलिंग पर बैठी रही महिला

बेंगलुरु12 दिन पहले
पुलिस ने बताया कि बच्ची मानसिक रूप से अस्वस्थ और बोलने-सुनने में अक्षम थी। इस वजह से महिला परेशान रहती थी। - Dainik Bhaskar
पुलिस ने बताया कि बच्ची मानसिक रूप से अस्वस्थ और बोलने-सुनने में अक्षम थी। इस वजह से महिला परेशान रहती थी।

बेंगलुरु में एक महिला ने अपनी 4 साल की बच्ची को चौथी मंजिल से नीचे फेंक दिया। बच्ची की मौके पर मौत हो गई। इसके बाद महिला खुद बालकनी की रेलिंग पर चढ़कर बैठ गई। उसने पुलिस को बताया कि बच्ची को फेंकने के बाद वह रेलिंग से कूदकर आत्महत्या करने वाली थी। महिला का नाम सुषमा भारद्वाज है, जबकि बच्ची का नाम दृति बालकृष्णन बताया जा रहा है।

वाकया सेंट्रल बेंगलुरु के संपनगिरामानगर में अद्वैत आश्रय अपार्टमेंट की है। पूरी घटना अपार्टमेंट में लगे CCTV कैमरा में कैद हो गई। वीडियो में देखा जा सकता है कि महिला बच्ची को गोद में लेकर बालकनी में आई और कुछ देर बाद उसे नीचे फेंक दिया। इसके बाद उसने मदद के लिए शोर मचाना शुरू किया और खुद भी कूदने की कोशिश की, लेकिन लोगों ने उसे बचा लिया।

करियर में परेशानी होने की वजह से उठाया ऐसा कदम
महिला पेशे से डेंटिस्ट है, जबकि उसका पति किरण बालकृष्ण सॉफ्टवेयर इंजीनियर है। पुलिस ने बताया कि बच्ची मानसिक रूप से अस्वस्थ और बोलने-सुनने में अक्षम थी। इस वजह से महिला परेशान रहती थी। वह अपने करियर में अच्छा नहीं कर पा रही थी और इसके लिए बच्ची को दोषी ठहराती थी। इसलिए उसने बच्ची को मारने का कदम उठाया।

मर्डर चार्ज पर गिरफ्तार हुई महिला
पुलिस ने बताया कि पति ने महिला खिलाफ केस दर्ज कराया है, जिसके बाद मर्डर के आरोप में महिला को गिरफ्तार कर लिया गया है। पुलिस ने कहा कि इस मामले में सभी पहलुओं की पड़ताल की जा रही है। महिला की मेंटल हेल्थ को भी परखा जाएगा। इससे पहले एक बार सुषमा ने अपनी बच्ची को रेलवे स्टेशन पर छोड़ दिया था। जब सुषमा के पति को यह बात पता चली तो वह स्टेशन जाकर बच्ची को ढूंढकर लाया।