• Hindi News
  • National
  • Before Leaving, Rahul Gandhi Did Not Take Permission From The Ministry Of External Affairs, The Government Disclosed

राहुल की विदेश यात्रा विवादों में:लंदन जाने से पहले कांग्रेस सांसद ने विदेश मंत्रालय से नहीं ली अनुमति, कांग्रेस पार्टी ने किया बचाव

दिल्लीएक महीने पहले

कांग्रेस सांसद राहुल गांधी की लंदन यात्रा को लेकर राजनीतिक घमासान मच गया है। सूत्रों के मुताबिक राहुल गांधी ने लंदन यात्रा से पहले विदेश मंत्रालय से परमिशन नहीं ली थी। सूत्रों ने विदेश मंत्रालय के हवाले से इसकी जानकारी दी है।

बता दें कि राहुल गांधी ने लंदन के कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में 'आइडियाज फॉर इंडिया' सम्मेलन में केंद्र सरकार पर जमकर निशाना साधा था। उन्होंने आरोप लगाया कि भारत में स्थिति ठीक नहीं है। भाजपा ने देशभर में केरोसिन छिड़क रखा है। सिर्फ एक चिंगारी देश को सांप्रदायिक हिंसा की आग में झाेंक सकती है।

सांसदों को सरकार से लेनी होती है अनुमति
किसी भी सांसद को विदेश यात्रा करने से पहले विदेश मंत्रालय से परमिशन लेना अनिवार्य होता है। यात्रा के कम से कम 3 हफ्ते पहले पूरी जानकारी मंत्रालय की वेबसाइट पर डालना जरुरी होता है।

इतना ही नहीं सांसदों को विदेशी सरकारों, संस्थाओं आदि से मिलने वाले निमंत्रण विदेश मंत्रालय के माध्यम से मिलने चाहिए। अगर किसी सांसद को निजी तौर पर निमंत्रण मिलता है, तो भी उसे मंत्रालय की जानकारी में लाकर मंजूरी लेनी पड़ती है।

आइडिया फॉर इंडिया कार्यक्रम में राहुल गांधी ने कहा था कि भारत का लोकतंत्र खतरे में है।
आइडिया फॉर इंडिया कार्यक्रम में राहुल गांधी ने कहा था कि भारत का लोकतंत्र खतरे में है।

कांग्रेस ने किया बचाव
राहुल गांधी की यात्रा को लेकर कांग्रेस प्रवक्‍ता रणदीप सुरजेवाला ने कहा कि सांसदों को प्रधानमंत्री या सरकार से राजनीतिक मंजूरी की जरूरत नहीं है, जब तक कि वे आधिकारिक प्रतिनिधिमंडल का हिस्‍सा न हों। सुरजेवाला ने आगे कहा कि कृपया टीवी चैनलों को भेजे गए पीएमओ के व्‍हाट्सएप सुझावों का आंखें मूंदकर पालन न करें।

सांसद मनोज झा ने भी नहीं ली परमिशन
सूत्रों के मुताबिक लंदन में आयोजित इस कार्यक्रम में राष्ट्रीय जनता दल के सांसद मनोज झा भी शामिल हुए थे। उन्होंने भी मंजूरी के लिए सरकार के पास आवेदन नहीं दिया था। मनोज झा ने राहुल गांधी के एक दिन बाद कैंब्रिज यूनिवर्सिटी में अपना भाषण दिया था।

कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में सलमान खुर्शीद, सीताराम येचुरी, महुआ मोइत्रा, मनोज झा और तेजस्वी यादव भी शामिल हुए।
कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में सलमान खुर्शीद, सीताराम येचुरी, महुआ मोइत्रा, मनोज झा और तेजस्वी यादव भी शामिल हुए।

लंदन में राहुल ने मोदी सरकार पर साधा था निशाना
लंदन के कैम्ब्रिज यूनिवर्सिटी में 'आइडियाज ऑफ इंडिया' सेमिनार में राहुल गांधी ने केंद्र सरकार पर बड़ा आरोप लगाया था। राहुल ने कहा था कि चीन ने लद्दाख और डोकलाम में यूक्रेन जैसे हालात कर दिए हैं, लेकिन सरकार इस पर एक्शन नहीं ले रही है। राहुल ने आगे कहा था कि सरकार इस मसले पर बोलने से भी डरती है।

पूर्व कांग्रेस अध्यक्ष ने भाजपा पर हमला बोलते हुए कहा था- भाजपा देश में ध्रुवीक्ररण का केरोसिन छिड़क रही है। बस आपको एक चिंगारी लगाने की जरूरत है, फिर देश खुद जलने लगेगा। उन्होंने कहा था कि कांग्रेस समेत समूचे विपक्ष की लड़ाई सबसे पहले इसे रोकने की है। पढ़े पूरी खबर...