• Hindi News
  • National
  • Narendra Modi: Bharat Drone Mahotsav 2022 Delhi Pragati Maidan Updates | Delhi News

ड्रोन फेस्टिवल में मोदी:PM बोले- पिछली सरकारों ने तकनीक को गरीब विरोधी बताया; अब यही उन्हें अपना हक दिला रहा

नई दिल्ली3 महीने पहले

दिल्ली के प्रगति मैदान में देश के सबसे बड़े ड्रोन महोत्सव का आयोजन किया जा रहा है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भारत ड्रोन महोत्सव 2022 का उद्घाटन किया। इस दौरान PM ने कहा- पिछली सरकारों में तकनीक को समस्या का हिस्सा समझा गया, उसको गरीब विरोधी साबित करने की कोशिशें हुईं।

इस वजह से 2014 से पहले गवर्नेंस में टेक्नोलॉजी के उपयोग को लेकर उदासीनता का माहौल रहा। इसका सबसे अधिक नुकसान गरीब, वंचितों, मिडिल क्लास को हुआ। मैंने केदारनाथ डेवलपमेंट प्रोजेक्ट पर ड्रोन से नजर रखी। अब यही तकनीक लाखों किसानों की मददगार बनेगी।

देश का किसान तकनीक के साथ अधिक सहज

महोत्सव के दौरान ड्रोन उड़ाते दिखे PM।
महोत्सव के दौरान ड्रोन उड़ाते दिखे PM।

प्रधानमंत्री ने कहा कि ड्रोन तकनीक को लेकर भारत में जो उत्साह देखने को मिल रहा है, वह अद्भुत है। यह भारत में ड्रोन सर्विस और ड्रोन आधारित इंडस्ट्री की लंबी छलांग को दर्शाता है। यह भारत में रोजगार के एक उभरते हुए बड़े सेक्टर की संभावनाएं दिखाती है। आज देश का किसान तकनीक के साथ कहीं ज्यादा सहज है, उसे ज्यादा से ज्यादा अपना रहा है।

ड्रोन तकनीक हमारे कृषि सेक्टर को अब दूसरे स्तर पर ले जाने वाली है। स्मार्ट तकनीक आधारित ड्रोन इसमें बहुत काम आ सकते हैं। पहले के समय में टेक्नोलॉजी और उससे हुए अविष्कार एलीट क्लास के लिए माने जाते थे। आज हम टेक्नोलॉजी को सबसे पहले जनता को उपलब्ध करा रहे हैं। ड्रोन तकनीक भी इसका उदाहरण है। हमने बहुत कम समय में ही ड्रोन पर लगने वाली पाबंंदियां हटा दी है।

2 दिन तक चलेगा ड्रोन महोत्सव

ड्रोन महोत्सव में सरकारी, निजी कंपनियों और ड्रोन स्टार्टअप के 1600 से अधिक प्रतिनिधि हिस्सा ले रहे हैं।
ड्रोन महोत्सव में सरकारी, निजी कंपनियों और ड्रोन स्टार्टअप के 1600 से अधिक प्रतिनिधि हिस्सा ले रहे हैं।

ड्रोन महोत्सव 27 से 28 मई तक आयोजित किया जाएगा। उद्घाटन से पहले प्रधानमंत्री ने किसान ड्रोन ऑपरेटर्स से बातचीत की। उन्होंने डिजिटल तौर पर 150 ड्रोन पायलट सर्टिफिकेट लॉन्च किया। महोत्सव में सरकारी अफसर, विदेशी डिप्लोमेट्स, सशस्त्र बलों, केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों के प्रतिनिधि हिस्सा ले रहे हैं।

साथ ही सरकारी, निजी कंपनियों और ड्रोन स्टार्टअप के 1600 से अधिक प्रतिनिधि भी हिस्सा ले रहे हैं। PMO से मिली जानकारी के मुताबिक, प्रधानमंत्री खुले में ड्रोन प्रदर्शन देखेंगे और ड्रोन कंपनियों और स्टार्टअप्स के साथ बातचीत करेंगे।

ड्रोन इंडस्ट्री से 5 लाख रोजगार मिलेंगे

भारत ड्रोन महोत्सव 2022 को संबोधित करते सिविल एविएशन मिनिस्टर ज्योतिरादित्य सिंधिया।
भारत ड्रोन महोत्सव 2022 को संबोधित करते सिविल एविएशन मिनिस्टर ज्योतिरादित्य सिंधिया।

एविएशन मिनिस्टर ज्योतिरादित्य सिंधिया ने कहा कि भारत में ड्रोन का दौर आ चुका है। एक ड्रोन सिक्योरिटी फोर्सेस के काम आ सकता है, तो यह किसानों के लिए लिए भी उपयोगी साबित होगा। साल 2026 तक ड्रोन इंडस्ट्री 15,000 करोड़ रुपए के टर्न ओवर का अनुमान है। आज देश में 270 ड्रोन स्टार्टअप चल रहे हैं। आने वाले 5 साल में ड्रोन उद्योग में 5 लाख रोज़गार के अवसर भी पैदा होंगे।

ड्रोन टैक्सी प्रोटोटाइप का प्रदर्शन
प्रदर्शनी में ड्रोन के इस्तेमाल के 70 से अधिक तरीकों को दिखाया जाएगा। इसमें मेड इन इंडिया ड्रोन टैक्सी प्रोटोटाइप का प्रदर्शन भी किया जाएगा। महोत्सव के दौरान प्रोडक्ट की लॉन्चिंग भी होगी।