• Hindi News
  • National
  • Budget 2019, Union Budget 2019 Nirmala Sitharaman Key Announcements; Gaon Gareeb Kisan, Affordable Housing, education

बजट / 45 लाख तक का घर खरीदने पर लोन पर 1.50 लाख का अतिरिक्त ब्याज कर मुक्त, सुपर-रिच टैक्स बढ़ा



Budget 2019, Union Budget 2019 Nirmala Sitharaman Key Announcements; Gaon Gareeb Kisan, Affordable Housing, education
Budget 2019, Union Budget 2019 Nirmala Sitharaman Key Announcements; Gaon Gareeb Kisan, Affordable Housing, education
Budget 2019, Union Budget 2019 Nirmala Sitharaman Key Announcements; Gaon Gareeb Kisan, Affordable Housing, education
Budget 2019, Union Budget 2019 Nirmala Sitharaman Key Announcements; Gaon Gareeb Kisan, Affordable Housing, education
Budget 2019, Union Budget 2019 Nirmala Sitharaman Key Announcements; Gaon Gareeb Kisan, Affordable Housing, education
Budget 2019, Union Budget 2019 Nirmala Sitharaman Key Announcements; Gaon Gareeb Kisan, Affordable Housing, education
X
Budget 2019, Union Budget 2019 Nirmala Sitharaman Key Announcements; Gaon Gareeb Kisan, Affordable Housing, education
Budget 2019, Union Budget 2019 Nirmala Sitharaman Key Announcements; Gaon Gareeb Kisan, Affordable Housing, education
Budget 2019, Union Budget 2019 Nirmala Sitharaman Key Announcements; Gaon Gareeb Kisan, Affordable Housing, education
Budget 2019, Union Budget 2019 Nirmala Sitharaman Key Announcements; Gaon Gareeb Kisan, Affordable Housing, education
Budget 2019, Union Budget 2019 Nirmala Sitharaman Key Announcements; Gaon Gareeb Kisan, Affordable Housing, education
Budget 2019, Union Budget 2019 Nirmala Sitharaman Key Announcements; Gaon Gareeb Kisan, Affordable Housing, education

  • 50 करोड़ से ज्यादा टर्नओवर वाली कंपनियों और उनके ग्राहकों को डिजिटल पेमेंट पर अतिरिक्त शुल्क नहीं देना होगा
  • जिनके पास पैन नहीं, वे आधार कार्ड से इनकम टैक्स रिटर्न भर सकेंगे
  • पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी और रोड-इन्फ्रास्ट्रक्चर सेस 1-1 रुपए प्रति लीटर बढ़ाया, पेट्रोल-डीजल ढाई रुपए तक महंगा
  • 75 आइटम्स पर कस्टम ड्यूटी बढ़ाई गई; लग्जरी कारें और एसी महंगे हो सकते हैं
  • 2 करोड़ से 5 करोड़ की सालाना टैक्सेबल इनकम वालों को 39% टैक्स और 5 करोड़ से ज्यादा सालाना आय वालों को 42.62% टैक्स देना होगा
  • यानी अब भारत में सुपर-रिच टैक्स अमेरिका से भी ज्यादा होगा, अभी अमेरिका में अमीरों पर 40% टैक्स 

Dainik Bhaskar

Jul 06, 2019, 04:40 PM IST

नई दिल्ली. वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने शुक्रवार को मोदी सरकार के दूसरे कार्यकाल का पहला बजट पेश किया। बजट भाषण की शुरुआत करते हुए उन्होंने कहा कि हमारा उद्देश्य मजबूत देश के लिए मजबूत नागरिक है। 45 लाख तक का घर खरीदने पर होम लोन पर 1.50 लाख का अतिरिक्त ब्याज कर मुक्त रखा गया है, यानी 3.50 लाख तक ब्याज के भुगतान पर टैक्स में छूट मिलेगी। टैक्स स्लैब या दरों में कोई बदलाव नहीं किया गया है। 75 आइटम्स पर कस्टम ड्यूटी बढ़ाई गई है। गोल्ड, लग्जरी कारें और एसी महंगे हो सकते हैं।

 

टैक्स।

‘5 साल में अर्थव्यवस्था में एक ट्रिलियन डॉलर जोड़े’

 

  • वित्त मंत्री सीतारमण ने कहा, ‘‘पिछले पांच साल में हमने जो मेगा प्रोजेक्ट्स शुरू किए थे, उन्हें अब आगे बढ़ाने का वक्त है। चाणक्य नीति में कहा गया है कि दृढ़ संकल्प हो तो उद्देश्य पूरा होता है। उर्दू में एक शेर है- ‘‘यकीन हो तो कोई रास्ता निकलता है, हवा की ओट लेकर भी चराग जलता है।’’ 
  • ‘‘हमारी अर्थव्यवस्था पांच वर्ष में 2.7 ट्रिलियन डॉलर तक पहुंची है। हमारा मकसद है- मिनिमम गवर्नमेंट, मैक्सिमम गवर्नेंस। 5 ट्रिलियन इकोनॉमी हासिल करने के लिए हमारे कुछ उद्देश्य हैं। इस वित्त वर्ष में हमने 3 ट्रिलियन डॉलर का लक्ष्य रखा है। हम दुनिया की छठी सबसे बड़ी अर्थव्यवस्था हैं। हमने कई ढांचागत सुधार किए हैं और अभी कई और सुधार करने हैं।’’
  • ‘‘हमने पांच साल में अर्थव्यवस्था में एक ट्रिलियन डॉलर जोड़े हैं। हमने 10 लक्ष्य निर्धारित किए हैं। पहला लक्ष्य भौतिक संरचना का विकास। दूसरा- डिजिटल इंडिया को अर्थव्यवस्था के हर क्षेत्र तक पहुंचाना। तीसरा- हरित मातृभूमि और प्रदूषण मुक्त भारत। चौथा- एमएसएमई, स्टार्टअप, डिफेंस, ऑटो और हेल्थ सेक्टर पर जोर। पांचवां- जल प्रबंधन और स्वच्छ नदियां। छठा- ब्लू इकोनॉमी। सातवां- गगनयान और चंद्रयान मिशन। आठवां- खाद्यान्न। नौवां- स्वस्थ समाज, आयुष्मान भारत और सुपोषित महिलाएं-बच्चे। 10वां- जनभागीदारी, न्यूनतम सरकार और अधिकतम शासन।’’

 

निवेश

  • सीतारमण के मुताबिक, ‘‘भारत को हर साल 20 लाख करोड़ रुपए के निवेश की जरूरत है। एविएशन, मीडिया एनिमेशन और इंश्योरेंस में एफडीआई आना चाहिए। इंश्योरेन्स इंटरमीडिएटरीज सेक्टर में 100% एफडीआई को अनुमति दी जाएगी।’’
  • ‘‘2018 से 2030 के बीच रेलवे इन्फ्रास्ट्रक्चर में 50 लाख करोड़ निवेश की जरूरत है। पीपीपी मॉडल का इस्तेमाल त्वरित विकास और यात्री भाड़े से जुड़ी सेवाओं के विकास में किया जाएगा।’’
  • ‘‘मार्च 2019 में देश में ट्रांसपोर्ट के लिए नेशनल कॉमन मोबिलिटी कार्ड लॉन्च किया गया। यह देश का पहला स्वदेशी पेमेंट सिस्टम है। इसके जरिए लोग कई तरह के ट्रांसपोर्ट चार्ज का पेमेंट कर सकते हैं।’’
  • ‘‘फ्रेश या इन्क्रिमेंटल लोन पर सभी जीएसटी रजिस्टर्ड एमएसएमई को 2% अनुदान के लिए 350 करोड़ रु. का प्रावधान किया गया है। 1.5 करोड़ के टर्नओवर वाले खुदरा दुकानदारों को प्रधानमंत्री कर्मयोगी मानधन योजना के तहत पेंशन दी जाएगी। इसके तहत 3 करोड़ अतिरिक्त दुकानदारों को पेंशन का लाभ मिलेगा।’’
  • ‘‘मैं सोशल स्टॉक एक्सचेंज बनाने का प्रस्ताव रखती हूं ताकि सामाजिक कल्याण के क्षेत्र में काम कर रहे उद्यम और संगठन पूंजी इकट्ठा कर सकें। यह स्टॉक एक्सचेंज सेबी के तहत काम करेगा।’’

 

गांव-गरीब

 

  • वित्त मंत्री ने कहा, ‘‘गांधीजी ने कहा था कि भारत की आत्मा गांवों में रहती है। हमारे सभी प्रयासों के मूल में अंत्योदय का भाव है। हमने गांव-गरीब-किसान को हमारी योजनाओं के केंद्र में रखा है। जो इच्छुक नहीं हैं, उन्हें छोड़कर ग्रामीण क्षेत्र के हर एक परिवार को बिजली मिलेगी।’’
  • ‘‘2022 तक हमने सभी के लिए आवास का लक्ष्य रखा है। 2019-20 से 2022 तक 1.95 करोड़ मकानों का निर्माण किया जाएगा। इनमें टॉयलेट, बिजली और रसोई गैस कनेक्शन दिए जाएंगे।’’
  • ‘‘प्रति मकान निर्माण का लक्ष्य 314 की जगह 114 दिन किया गया है। 97% लोगों को हर मौसम में सड़क मिलेगी।’’
  • ‘‘अगले 5 साल में प्रधानमंत्री ग्राम सड़क योजना के तहत 1.25 लाख किमी सड़कों निर्माण होगा। इस पर 80250 करोड़ रुपए खर्च किए जाएंगे।’’
  • ‘‘2022 तक हर घर में बिजली और घरेलू गैस पहुंच जाएगी।’’
  • ‘‘जीरो बजट खेती पर जोर दिया जाएगा। खेती के बुनियादी तरीकों पर लौटना इसका उद्देश्य है। इसी से किसानों की आय दोगुनी करने का लक्ष्य पूरा होगा।’’
  • ‘‘35 करोड़ एलईडी बल्ब उजाला योजना के तहत बांटे गए। इससे करीब 18 हजार 341 करोड़ रु. की बचत हुई। ये बचत सालाना है।’’
  • ‘‘जलशक्ति मंत्रालय सरकार के साथ मिलकर जल-जीवन मिशन पर काम करेगा। इसके तहत 2024 तक हर ग्रामीण घर में पानी पहुंचाया जाएगा।’’

 

स्टार्टअप्स-महिलाएं-प्रवासी

 

  • सीतारमण के मुताबिक, सरकार स्टडी इन इंडिया योजना लॉन्च करेगी। इसके तहत विदेशी छात्रों को भारत में उच्च शिक्षा दी जाएगी। 5 साल पहले विश्व के टॉप 200 विश्वविद्यालय में भारत की एक भी यूनिवर्सिटी नहीं थी और अब इस लिस्ट में भारत के 3 विश्वविद्यालय शामिल हैं।
  • ‘‘स्टार्टअप्स के लिए एक्सक्लूसिव टीवी चैनल शुरू होगा। स्फूर्ति और एस्पायर योजनाओं का विस्तार होगा।’’
  • "नारी तू नारायणी योजना लॉन्च होगी। विवेकानंद ने कहा था कि दुनिया तब तक खुशहाल नहीं हो सकती, तब तक महिलाओं की स्थिति में सुधार नहीं होता। एक चिड़िया एक पंख से उड़ान नहीं भर सकती। भारत की विकास गाथा में ग्रामीण अर्थव्यवस्था में महिलाओं की भागीदारी एक सुनहरी गाथा है। मैं एक कमेटी का प्रस्ताव रखती हूं, जो इस भागीदारी को बढ़ाने पर अपने सुझाव रखे।’’
  • ‘‘भारतीय पासपोर्ट रखने वाले प्रवासी भारतीयों को भारत में आते ही आधार मिल सकेगा। उन्हें 180 दिन इंतजार नहीं करना होगा।’’
  • ‘‘भारत के बढ़ते प्रभाव और नेतृत्व को बढ़ावा देने के लिए कुछ और देशों में भारतीय दूतावास और उच्चायोग खोले जाएंगे। 2019-20 में चार नए दूतावास खोले जाएंगे।’’

 

बैंकिंग

 

  • सीतारमण ने कहा, ‘‘आईबीसी और दूसरे प्रयासों से 4 लाख करोड़ रुपए की रिकॉर्ड रिकवरी हुई।’’
  • ‘‘कमर्शियल बैंकों में एनपीए एक लाख करोड़ से ज्यादा घटा है। डोमेस्टिक क्रेडिट ग्रोथ 13.8% तक बढ़ी है। सरकारी बैंकों की कर्ज क्षमता बढ़ाने के लिए 70 हजार करोड़ रुपए दिए जाएंगे।’’
  • ‘‘सार्वजनिक क्षेत्र के बैंकों को 70 हजार करोड़ रुपए अतिरिक्त दिए जाएंगे।’’
  • ‘‘सेल्फ हेल्प ग्रुप में काम करने वाली किसी एक महिला को मुद्रा स्कीम के तहत 1 लाख रुपए का कर्ज मिल सकेगा।’’
  • ‘‘100 लाख करोड़ का निवेश बुनियादी सुविधाओं के लिए अगले 5 साल में किया जाएगा।’’
  • ‘‘एक दो, पांच, दस, और बीस रुपए के नए सिक्के जारी किए गए। बहुत जल्द ये लोगों के लिए उपलब्ध होंगे।’’
  • ‘‘देश के हर करदाता जिम्मेदार नागरिक बनने के लिए धन्यवाद। जीडीपी के मुकाबले विदेशी कर्ज 5% से नीचे है, यह दुनिया में सबसे कम है।’’

 

टैक्सेशन

  • वित्त मंत्री ने कहा, ‘‘प्रत्यक्ष कर संग्रह 2013-14 में 6.38 लाख करोड़ से बढ़कर 2018-19 में 11.37 लाख करोड़ रुपए हो गया। बढ़ोतरी 78% की हुई है।’’
  • ‘‘सालाना 250 करोड़ रुपए के टर्नओवर वाली कंपनियों के लिए कॉर्पोरेट टैक्स अभी 25% है। अब 400 करोड़ रुपए के टर्नओवर वाली कंपनियां भी 25% कॉर्पोरेट टैक्स के दायरे में आ जाएंगी। यानी 99.3% कंपनियां 25% कॉर्पोरेट टैक्स के दायरे में होंगी। सिर्फ 0.7% कंपनियां इस स्लैब से बाहर होंगी।’’
  • ‘‘इलेक्ट्रिक व्हीकल खरीदने के लिए अगर कर्ज लिया गया है तो उसका ब्याज चुकाने पर आयकर में 1.5 लाख रुपए की अतिरिक्त छूट मिलेगी।’’
  • ‘‘स्टार्टअप और उनके द्वारा जुटाए गए फंड के मामले में आयकर किसी तरह की जांच नहीं करेगा।’’
  • ‘‘45 लाख तक का घर खरीदने पर होम लोन पर 1.50 लाख का अतिरिक्त ब्याज कर मुक्त रखा गया है, यानी 3.50 लाख तक ब्याज के भुगतान पर टैक्स में छूट मिलेगी। पहले छूट की सीमा 2 लाख रुपए थी।’’ यह छूट 31 मार्च 2020 तक खरीदे जाने वाले घर के लिए है।
  • ‘‘120 करोड़ से ज्यादा लोगों के पास आधार कार्ड है। जिनके पास पैन नहीं है, वे आधार कार्ड से इनकम टैक्स रिटर्न भर सकते हैं।’’
  • ‘‘कैश में बिजनेस पेमेंट्स करने की प्रवृत्ति को रोकने के लिए एक बैंक खाते से साल में 1 करोड़ से ज्यादा निकालने पर 2% का टीडीएस लगेगा।’’
  • दो करोड़ रुपए से 5 करोड़ रुपए की सालाना आय वालों के लिए सरचार्ज 15% से बढ़ाकर और 25% और 5 करोड़ से ज्यादा की सालाना आय वालों के लिए सरचार्ज 15% से बढ़ाकर 37% किया गया है। वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण के मुताबिक  सरचार्ज बढ़ने से 2-5 करोड़ रुपए आय वालों की प्रभावी टैक्स दर में 3% और 5 करोड़ से ज्यादा आय वालों की प्रभावी टैक्स दर में 7% का इजाफा होगा। 
  • इससे 2 करोड़ से 5 करोड़ की सालाना टैक्सेबल इनकम वालों को कुल 39% टैक्स और 5 करोड़ से ज्यादा सालाना आय वालों को 42.62% टैक्स देना होगा। यानी अब भारत में सुपर-रिच टैक्स अमेरिका से भी ज्यादा होगा। अभी अमेरिका में अमीरों पर 40% टैक्स है।
  • "50 करोड़ से ज्यादा टर्नओवर वाली कंपनियां डिजिटल पेमेंट के लो-कॉस्ट मोड को ऑफर कर सकती हैं। ऐसे में उन्हें या उनके ग्राहकों को कोई अतिरिक्त शुल्क (एमडीआर) नहीं देना होगा।"
  • ‘‘पेट्रोल-डीजल पर एक्साइज ड्यूटी और रोड-इन्फ्रास्ट्रक्चर सेस 1-1 रुपए प्रति लीटर लगाया जाएगा। गोल्ड और बेशकीमती रत्नों पर कस्टम ड्यूटी 10% से बढ़ाकर 12.5% की जाएगी।’’ मध्य प्रदेश में पेट्रोल-डीजल 4.50 रु. तक महंगा हो गया।

छात्र

  • ‘‘शिक्षा व्यवस्था को बदलने के लिए राष्ट्रीय शिक्षा नीति बनाई जाएगी। 400 करोड़ रुपए से विश्व स्तरीय संस्थान बनाए जाएंगे।’’ 
  • ‘‘नेशनल रिसर्च फाउंडेशन बनाने का प्रस्ताव, इसके जरिए विभागों के झगड़े सुलझाए जाएंगे। राष्ट्रीय हित की रिसर्च को प्राथमिकता दी जाएगी। साथ ही तय किया जाएगा कि रिसर्च का डुप्लिकेशन न हो सके।’’

परंपरा तोड़कर फोल्डर में बजट लेकर पहुंचीं सीतारमण

अब तक वित्त मंत्री एक ब्रीफकेस में ही बजट लेकर संसद पहुंचते थे। मुख्य आर्थिक सलाहकार कृष्णमूर्ति सुब्रमणियन ने फोल्डर में बजट ले जाने पर कहा कि यह भारतीय परंपरा है। यह पश्चिमी मानसिकता की गुलामी से बाहर आने का प्रतीक है। इसे आप बजट नहीं बल्कि बही खाता कह सकते हैं। 

 

बूगेट से बजट तक
बजट शब्द फ्रेंच शब्द बूगेट से निकला है। इसका मतलब है- चमड़े का थैला। बजट ब्रीफकेस का प्रचलन ब्रिटेन में शुरू हुआ। ब्रिटेन में एक ही बजट ब्रीफकेस को एक मंत्री दूसरे को सौंपता है। जबकि भारत में वित्त मंत्रियों ने अलग-अलग ब्रीफकेसों का इस्तेमाल किया। 


1860 में ब्रिटेन के बजट चीफ विलियम ग्लैडस्टन ने बजट रखने के लिए लाल ब्रीफकेस का इस्तेमाल किया था। इस पर क्वीन का मोनोग्राम लगा हुआ था। इसे ग्लैडस्टन बॉक्स नाम दिया गया। भारत का पहला बजट ब्रिटिश संसद में जेम्स विल्सन ने 18 फरवरी 1869 को पेश किया था। विल्सन इंडिया काउंसिल में फाइनेंस मेंबर थे। परंपरानुसार विल्सन भी बजट दस्तावेजों को एक चमड़े के थैले (बूगेट) में ही लेकर गए थे।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना