• Hindi News
  • National
  • Captain Reached Delhi Amid Sidhu's Resignation, Said I Am Not Meeting Any Leader, Have Come To Vacate The House

पंजाब का सियासी ड्रामा:सिद्धू के इस्तीफे के बीच कैप्टन दिल्ली पहुंचे, कहा- मैं किसी नेता से नहीं मिल रहा, घर खाली करने आया हूं

नई दिल्ली21 दिन पहले

नवजोत सिंह सिद्धू के पंजाब प्रदेश के कांग्रेस अध्यक्ष पद से इस्तीफा दिए जाने के बीच पंजाब के पूर्व मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह दिल्ली पहुंचे। दिल्ली एयरपोर्ट पर जब मीडिया ने उनसे पूछा कि आगे आपका क्या प्लान है? इस पर अमरिंदर ने कहा- 'मैं किसी नेता से नहीं मिल रहा, घर खाली करने आया हूं।'

18 सितंबर को मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा देने के बाद कैप्टन पहली बार दिल्ली पहुंचे। इसी दौरान सिद्धू के भी इस्तीफे की खबर आ गई। इस पर कैप्टन ने ट्वीट कर कहा, 'मैंने आपसे कहा था.. वह स्थिर इंसान नहीं है और बॉर्डर पर लगे पंजाब के लिए वह सही नहीं है।'

दिल्ली स्थित अपने घर कपूरथला हाउस पहुंचे कैप्टन अमरिंदर सिंह।
दिल्ली स्थित अपने घर कपूरथला हाउस पहुंचे कैप्टन अमरिंदर सिंह।

समान इकट्ठा करूंगा और पंजाब वापस चला जाऊंगा
कैप्टन अमरिंदर सिंह ने दिल्ली पहुंचने पर भी इस बयान को दोहराया। साथ ही उन्होंने राजनीतिक मुलाकातों की अटकलों को खारिज करते हुए कहा कि मैं किसी भी नेता से मुलाकात नहीं करुंगा। सिंह ने कहा कि यहां से मैं घर (कपूरथला हाउस) जाऊंगा। समान इकट्ठा करूंगा और पंजाब वापस चला जाऊंगा। उन्होंने सीएम पद से इस्तीफे को लेकर किए गए सवाल पर कहा कि आप कांग्रेस से पूछिए।

भाजपा की चुटकी-घर खाली करने का मतलब समझिए
इधर, कैप्टन के घर खाली करने वाले बयान को लेकर राजनीतिक मायने भी निकाले जाने लगे। भाजपा ने इस बयान पर चुटकी लेते हुए कहा- घर खाली करने का मतलब समझ जाइए। भाजपा के राष्ट्रीय प्रवक्ता डॉ. सुधांशु त्रिवेदी ने कैप्टन के बयान पर कहा- अमरिंदर सिंह घर खाली करने की बात कर रहे हैं। आज एक 30 साल से अधिक उम्र का छात्र (कन्हैया) 50 साल से अधिक उम्र के युवा (राहुल) के साथ मिले। दो भटके नौजवान कांग्रेस में आए और एक जवान (सिद्धू) कांग्रेस में आकर भटक गया। इसके मायने समझिए।

कांग्रेस के हुए कॉमरेड कन्हैया, जिग्नेश अभी नहीं आए

कन्हैया कुमार कांग्रेस में शामिल हो गए। कार्यक्रम में राहुल गांधी नहीं आए।
कन्हैया कुमार कांग्रेस में शामिल हो गए। कार्यक्रम में राहुल गांधी नहीं आए।

वाम नेता कन्हैया कुमार भी मंगलवार को कांग्रेस में शामिल हो गए। उनहें पार्टी महासचिव केसी वेणुगोपाल ने पार्टी की सदस्यता दिलाई। राहुल गांधी कार्यक्रम में नहीं पहुंचे। इस दौरान गुजरात के निर्दलीय विधायक जिग्नेश मेवाणी भी मौजूद थे। मेवाणी भी कांग्रेस में शामिल होने वाले थे, लेकिन तकनीकी कारणों से वो नहीं हो सके। हालांकि ये कारण क्या हैं ये अभी तक सामने नहीं आया है। मेवाणी ने कहा कि वे वैचारिक रूप से कांग्रेस के साथ हैं। अगला चुनाव पार्टी के बैनर तले ही लड़ेंगे। कुछ तकनीकी वजहों से अभी वे सदस्यता की प्रक्रिया पूरी नहीं कर पा रहे हैं। लेकिन जल्द ही वे इसे पूरा करेंगे।

खबरें और भी हैं...