• Hindi News
  • National
  • Case Registered Against 1100 People Including Akali Leader Virsa Singh Valtoha, Punjab Government Effigy Burnt In Case Of Poisonous Liquor

पंजाब सरकार के खिलाफ प्रदर्शन पर कार्रवाई:अकाली नेता विरसा सिंह वल्टोहा समेत 1100 पार्टी वर्कर्स पर महामारी एक्ट में एफआईआर

तरनतारनएक वर्ष पहले
  • कॉपी लिंक
तरनतारन में खेमकरण के विधायक सुखपाल सिंह भुल्लर के खिलाफ प्रदर्शन में शामिल अकाली नेता प्रो. विरसा सिंह वल्टोहा और अन्य। - फाइल - Dainik Bhaskar
तरनतारन में खेमकरण के विधायक सुखपाल सिंह भुल्लर के खिलाफ प्रदर्शन में शामिल अकाली नेता प्रो. विरसा सिंह वल्टोहा और अन्य। - फाइल
  • पंजाब में जहरीरी शराब से मौतों पर शुक्रवार को अकाली दल ने खेमकरण के विधायक सुखपाल सिंह भुल्लर का पुतला फूंककर प्रदर्शन किया था
  • प्रदर्शन के दौरान अकाली वर्कर्स ने न तो सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा और न ही उन्होंने चेहरे पर मास्क पहन रखा था

तरनतारन में पुलिस ने शिरोमणि अकाली दल के नेता प्रो. विरसा सिंह वल्टोहा समेत 1100 लोगों के खिलाफ महामारी एक्ट में केस दर्ज किया है। दो दिन पहले शिअद नेताओं ने पंजाब में जहरीली शराब से हुई मौताें को लेकर सरकार के खिलाफ प्रदर्शन किया था। मास्क न लगाने और सोशल डिस्टेंसिंग तोड़ने के आरोप में प्रो. विरसा सिंह वल्टोहा, उनके बेटे गौरव दीप, पीए संदीप सिंह, पार्टी के उप प्रधान भाई मनजीत सिंह समेत 84 को नामजद किया गया है। बाकी पार्टी वर्कर्स की भीड़ को भी आरोपी बनाया गया है।

शुक्रवार को अकाली दल की तरफ से खेमकरण के विधायक सुखपाल सिंह भुल्लर का पुतला फूंककर प्रदर्शन किया गया था। इस रोष प्रदर्शन के दौरान 1100 के करीब अकाली वर्कर्स ने न तो सोशल डिस्टेंसिंग का ध्यान रखा और न ही मास्क पहना हुआ था। जब पुलिस ने प्रदर्शनकारियों को रोका तो दोनों पक्षों में झड़प हो गई थी।

इन्हीं आरोपों को लेकर पुलिस ने सख्त कार्रवाई करते हुए सोशल डिस्टेंसिंग तोड़ने पर आईपीसी की धारा 188, 269 और 51 बीडीएम एक्ट के तहत केस दर्ज किया है। प्रो. वल्टोहा का कहना है कि खेमकरण के कांग्रेस विधायक सुखपाल सिंह भुल्लर घटिया राजनीति पर उतर आए हैं। ऐसे मुकदमे दर्ज करके कांग्रेस सरकार जनता की आवाज को दबा नहीं पाएगी।

खबरें और भी हैं...