--Advertisement--

तमिलनाडु / हाईकोर्ट ने भ्रष्टाचार के मामले में मुख्यमंत्री पलानीस्वामी के खिलाफ सीबीआई जांच के आदेश दिए



अभी पलानीस्वामी के खिलाफ डीएवीसी जांच कर रही थी। अभी पलानीस्वामी के खिलाफ डीएवीसी जांच कर रही थी।
X
अभी पलानीस्वामी के खिलाफ डीएवीसी जांच कर रही थी।अभी पलानीस्वामी के खिलाफ डीएवीसी जांच कर रही थी।
  • द्रमुक का आरोप- पलानीस्वामी 3.5 हजार करोड़ के सड़क निर्माण के ठेके अपने रिस्तेदारों को दिए
  • कोर्ट ने कहा- डीएवीसी की जांच और कार्रवाई से संतुष्ट नहीं

Dainik Bhaskar

Oct 12, 2018, 07:32 PM IST

चेन्नई. मद्रास हाईकोर्ट ने शुक्रवार को मुख्यमंत्री ई पलानीस्वामी के खिलाफ सड़क निर्माण के ठेकों में भ्रष्टाचार के मामले में सीबीआई को जांच करने के आदेश दिए। कोर्ट ने द्रमुक की याचिका पर सुनवाई करते हुए यह फैसला किया। कोर्ट ने कहा- वह डायरेक्टर ऑफ विजिलेंस एंड एंटी करप्शन (डीएवीसी) की जांच और कार्रवाई से संतुष्ट नहीं है।
 

डीएवीसी को एक हफ्ते में सीबीआई को सौंपने होंगे केस से जुड़े दस्तावेज

  1. द्रमुक ने हाईकोर्ट में मुख्यमंत्री के खिलाफ भ्रष्टाचार के मामले में जांच सीबीआई को सौंपने की मांग के लेकर याचिका दायर की। जस्टिस एडी जगदीश चंदिरा ने डीएवीसी को केस से जुड़े सभी दस्तावेज एक हफ्ते के भीतर सीबीआई को सौंपने के आदेश दिए हैं। 
     

  2. जस्टिस चंदिरा ने कहा- सीबीआई को अपनी प्रारंभिक जांच रिपोर्ट तीन महीने के भीतर पूरी करनी होगी। द्रमुक ने सड़कों के निर्माण में भ्रष्टाचार और अनिमितताओं का आरोप लगाया था। द्रमुक के मुताबिक, पलानीस्वामी ने अपने पद का गलत इस्तेमाल करते हुए 3.5 हजार करोड़ के ठेके अपने रिस्तेदारों को दिए। 

  3. शुरुआत में द्रमुक ने मामले की जांच डीएवीसी से कराने की मांग की थी। लेकिन बाद में एक और याचिका दायर कर मामले की जांच स्वतंत्र एजेंसी को सौंपने की मांग की गई। 

  4. कोर्ट ने 12 सितंबर को डीवीएसी को प्रारंभिक जांच की रिपोर्ट हर रोज पेश करने को कहा था। 9 अक्टूबर को सुनवाई के दौरान याचिकाकर्ताओं ने कोर्ट में कहा कि उन्हें डीएवीसी की जांच पर भरोसा नहीं है। साथ ही द्रमुक ने डीएवीसी पर पलानीस्वामी के पक्ष में जांच कराने का आरोप लगाया था।

Bhaskar Whatsapp

Recommended

Click to listen..