• Hindi News
  • National
  • CEOs Of Oil Companies From All Over The World Join, Modi Invites India To Partner

महंगे पेट्रोल-डीजल पर PM की हाइलेवल मीटिंग:दुनियाभर के तेल कंपनियों के CEO शामिल हुए, मोदी ने भारत से साझेदारी के लिए दिया न्योता

नई दिल्ली3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

देश में पेट्रोलियम पदार्थों की बढ़ती कीमतों के बीच प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने बुधवार को एक हाईलेवल मीटिंग की। वीडियो कॉन्फ्रेंसिंग के जरिए हुई इस मीटिंग में दुनियाभर की तेल कंपनियों के CEO और एक्सपर्ट्स शामिल हुए।

बैठक में प्रधानमंत्री ने पिछले 7 साल में तेल और गैस क्षेत्र में सुधारों पर चर्चा की। इसमें लाइसेंस नीति, गैस मार्केटिंग, कोल बेड मीथेन पर नीतियां, कोयला गैसीकरण और भारतीय गैस एक्सचेंज के हालिया सुधार पर बातचीत हुई। बता दें कि ये बैठक 2016 में शुरू की गई थी, जो हर साल होती है।

रेवेन्यू के साथ प्रोडक्शन बढ़ाने पर जोर दिया
तेल क्षेत्र पर बातचीत करते हुए प्रधानमंत्री ने रेवेन्यू के साथ प्रोडक्शन बढ़ाने पर जोर दिया। उन्होंने कच्चे तेल के लिए भंडारण सुविधाओं को बढ़ाने की आवश्यकता के बारे में भी बताया। उन्होंने आगे कहा कि देश को प्राकृतिक गैस की सख्त जरूरत है। उन्होंने पाइपलाइनों, शहरी गैस वितरण और LNG रीगैसीफिकेशन टर्मिनलों सहित वर्तमान और संभावित गैस बुनियादी ढांचे के विकास पर चर्चा की।

भारत से साझेदारी के लिए एक्सपर्ट्स को दिया न्योता
प्रधानमंत्री ने बताया है कि तेल और गैस क्षेत्र की चुनौतियों का सामना करने के लिए इस मीटिंग के सुझाव सभी देशों के लिए महत्वपूर्ण हैं। उन्होंने कहा कि भारत खुलेपन, आशावाद और अवसरों, नए विचारों, दृष्टिकोणों और नवाचारों से भरा हुआ देश है। उन्होंने सीईओ और विशेषज्ञों को तेल और गैस क्षेत्र में भारत के साथ साझेदारी करने के लिए आमंत्रित किया।

इन कंपनियों के CEO हुए शामिल
प्रधानमंत्री के साथ इस बैठक में रूस की रोसनेफ्ट के चेयरमैन और CEO डॉ. आइगोर सेचिन, सऊदी अरब की सऊदी अरामको के प्रेसिडेंट और CEO अमीन नासिर, ब्रिटेन की ब्रिटिश पेट्रोलियम के CEO बर्नार्ड लूनी, अमेरिका की श्लमबर्जर लिमिटेड के CEO ओलिवर ली पेच, UOP की हनीवैल के प्रेसिडेंट और CEO ब्रायन ग्लोवर, रिलायंस इंडस्ट्रीज के चेयरमैन और MD मुकेश अंबानी और वेदांता लिमिटेड के चेयरमैन अनिल अग्रवाल शामिल हुए। सभी ने तेल और गैस क्षेत्र में खासकर नवीनीकरण ऊर्जा के क्षेत्र में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी के किए गए प्रयासों की सराहना की।