• Hindi News
  • National
  • Chief economic advisor K Subramanian India Inc must desist from tendency to grab profit and socialise losses

मंदी / मुख्य आर्थिक सलाहकार ने कहा- प्राइवेट सेक्टर मदद मांगने की बजाय अपने पैरों पर खड़ा होना सीखे



कृष्णमूर्ति सुब्रमणियन। कृष्णमूर्ति सुब्रमणियन।
X
कृष्णमूर्ति सुब्रमणियन।कृष्णमूर्ति सुब्रमणियन।

  • मुनाफे को दबाने, घाटे को सामाजिक मुद्दा बनाने की मानसिकता बदलने की जरूरत: सुब्रमणियन
  • कहा- पिछली सरकार ने पर्याप्त सुधार नहीं किए, मौजूदा सरकार का मजबूती से ग्रोथ पर फोकस

Dainik Bhaskar

Aug 22, 2019, 06:02 PM IST

मुंबई. मुख्य आर्थिक सलाहकार कृष्णमूर्ति सुब्रमणियन ने बुधवार को एक इवेंट में कहा कि प्राइवेट सेक्टर को सरकार से मदद मांगने की बजाय अपने पैरों पर खड़ा होना सीखना चाहिए। 1991 से सुधारों की प्रक्रिया से प्राइवेट सेक्टर को सबसे ज्यादा फायदा हुआ है। वह अब परिपक्व हो चुका है। वह कोई बच्चा नहीं जो पिता से मदद मांगता रहे। सुब्रमणियन ने यह भी कहा कि मुनाफे को दबाने और घाटे को सामाजिक मुद्दा बनाने की मानसिकता बदलने की जरूरत है।

 

सुब्रमणियन के मुताबिक खपत से नहीं बल्कि निवेश से अर्थव्यवस्था बढ़ेगी। सुब्रमणियन ने अर्थव्यवस्था की मौजूदा हालत के लिए यूपीए सरकार को भी जिम्मेदार ठहराया। उन्होंने कहा कि पिछली सरकार ने पर्याप्त सुधार नहीं किए। लेकिन, मौजूदा सरकार मजबूती से ग्रोथ पर फोकस कर रही है। सुब्रमणियन का बयान ऐसे समय आया है जब कई कारोबारी और अर्थशास्त्री इकोनॉमी की मुश्किलों को लेकर सरकार की निंदा कर रहे हैं। ऑटो जैसे कई सेक्टर मदद भी मांग रहे हैं।

 

DBApp

 

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना