चोरी के आरोप में बच्चे की बेरहमी से पिटाई, VIDEO:जबलपुर में SAF जवान ने मासूम को लात-घूंसे मारे, फिर स्कूटी पर बैठाकर ले गए

जबलपुरएक महीने पहले

मध्य प्रदेश के जबलपुर में एक बच्चे के साथ मारपीट का वीडियो वायरल हो रहा है। घटना 12 अगस्त के दोपहर की है। वायरल वीडियो में देखा जा सकता है कि दो शख्स अपनी स्कूटी से उतरकर एक घर के किनारे बच्चे के पास आते हैं और उसे लात-घूंसे मारना शुरू कर देते हैं। वीडियो में बच्चे को जमीन में पटककर उसे बेरहमी से पीटते हुए दिखाई दे रहे हैं। कुछ पड़ोसी बच्चे को बचाने की कोशिश करते हैं, लेकिन उन्हें भी धक्का देकर हटा दिया।

इतना ही नहीं मासूम को पैरों से कुचलने और पटककर पीटने के बाद उनमें से एक शख्स उसे स्कूटी पर बैठाकर ले गया। 9 साल के बच्चे पर 6वीं वाहिनी आवासीय कैंपस से एक साइकिल चुराने का आरोप था। पूरी घटना रांझी थाना क्षेत्र के मस्ताना चौक के पास लगे सीसीटीवी में कैद हो गई। मारपीट करने वाला शख्स SAF की 6वीं बटालियन का जवान बताया जा रहा है। उसके खिलाफ हुई पुलिस FIR की जानकारी SAF के सीनियर अधिकारियों को भेज दी गई है। जहां विभागीय कार्रवाई भी होगी।

फोटो में दिख रहा शख्स (हरा टी-शर्ट) SAF की 6वीं बटालियन का जवान है। साइकिल चोरी के आरोप में उसने बच्चे को बेरहमी से पीटा।
फोटो में दिख रहा शख्स (हरा टी-शर्ट) SAF की 6वीं बटालियन का जवान है। साइकिल चोरी के आरोप में उसने बच्चे को बेरहमी से पीटा।

पुलिस ने जांच के आदेश दिए
सोशल मीडिया पर मारपीट का वीडियो वायरल होने के बाद पुलिस हरकत में आई। एसपी सिद्धार्थ बहुगुणा ने केस दर्ज करने के निर्देश दिए। पुलिस ने मारपीट की सामान्य धाराओं समेत बाल संरक्षण अधिनियम 2015 के तहत FIR दर्ज की है। इस मामले में पुलिस ने सिर्फ इसमें SAF जवान शोक थापा को ही आरोपी बनाया है, जबकि घटना में शामिल अन्य दो आरोपियों पर पुलिस ने किसी तरह का एक्शन नहीं लिया है।

गरीबी के चलते गलत रास्ते पर चला बच्चा
वहीं, जानकारी के मुताबिक पीड़ित बच्चा बेहद ही गरीब घर से है। वह पढ़ाई करना चाहता है, लेकिन गरीबी गरीबी के कारण वह स्कूल नहीं जा सका और गलत रास्ते पर चल पड़ा। बच्चे की मां काफी वक्त पहले अपने पति का साथ छोड़ चुकी है। पिता भी नशा करता है। जिसके चलते उसके घर की आर्थिक हालत बेहद खराब है।