भारतीय सेना का दावा:अरुणाचल से लापता हुआ लड़का चीन की आर्मी को मिला, वापस लाने की प्रक्रिया शुरू

नई दिल्ली4 महीने पहले

इंडियन आर्मी ने दावा किया है कि अरुणाचल प्रदेश से लापता हुआ लड़का चीन की पीपुल्स लिबरेशन आर्मी (PLA) को मिल गया है। इस नाबालिग लड़के की पहचान 17 वर्षीय मिरम तरोन के रूप में हुई है। इससे पहले पीएलए पर तरोन को अरुणाचल के सियुंग्ला के लुंगटा जोर इलाके से अगवा करने का आरोप लगा था।

तेजपुर के डिफेंस पीआरओ ले. कर्नल हर्षवर्धन पांडे ने रविवार को कहा कि तरोन अपने गांव जिदो से लापता हो गया था और अब ये PLA को मिल गया है। चीन की आर्मी ने इस बारे में हमें इन्फॉर्म किया है और बताया है कि तरोन को भारत को सौंपने की प्रक्रिया का पालन किया जा रहा है।

5 दिन पहले हुआ था लापता तरोन 18 जनवरी को लापता हुआ था। अरुणाचल के सांसद तापिर गाओ ने आरोप लगाया था कि चीन की आर्मी ने भारतीय क्षेत्र से तरोन का अपहरण कर लिया है। सांसद ने अपने ट्वीट में यह दावा किया था। गाओ ने बताया था कि त्सांगपो नदी जहां से भारत में प्रवेश करती है, उसी जगह यह घटना हुई थी।

हॉटलाइन के जरिए पीएलए से किया कॉन्टैक्ट
लड़के के लापता होने की सूचना मिलने पर भारतीय सेना ने PLA से उसको ढूंढने में मदद मांगी थी। भारतीय सेना ने तुरंत हॉटलाइन के जरिए पीएलए से संपर्क किया। भारतीय सेना ने पीएलए को बताया कि जड़ी-बूटी इकट्ठा कर रहा एक लड़का रास्ता भटक गया है और मिल नहीं रहा है।

सांसद ने की रिहाई की अपील
सांसद गाओ ने इस मामले की जानकारी स्‍थानीय अधिकारियों और गृहराज्य मंत्री एन प्रमाणिक को दी। इसके साथ ही उन्होंने भारत सरकार की सभी एजेंसीज से लड़के की रिहाई के लिए जरूरी कदम उठाने का अनुरोध किया था।