फोटो फ्रॉम हिस्ट्री / संजय गांधी पीएम तो नहीं थे, पर उससे कम भी नहीं थे, किताब में दावा- इंदिरा को मारे थे 6 चांटे



कांग्रेसी नेताओं के साथ होली खेलते संजय। फोटो: रघु राय कांग्रेसी नेताओं के साथ होली खेलते संजय। फोटो: रघु राय
X
कांग्रेसी नेताओं के साथ होली खेलते संजय। फोटो: रघु रायकांग्रेसी नेताओं के साथ होली खेलते संजय। फोटो: रघु राय

Dainik Bhaskar

Apr 17, 2019, 07:40 AM IST

वह पीढ़ी जिसने आपातकाल देखा है, संजय गांधी का नाम, चेहरा कभी नहीं भूल सकती। 25 जून 1975 की रात प्रधानमंत्री इंदिरा गांधी ने आपातकाल का ऐलान कर दिया। इमरजेंसी के दौर में देश ने संजय गांधी का शक्ति प्रदर्शन देखा। जबरन नसबंदी, झुग्गियों पर बुलडोजर, अखबारों पर सेंसरशिप...सब क्रूरता से लागू करवाया गया।

 

जब देश में आपातकाल लगा, तब पुलित्जर पुरस्कार विजेता पत्रकार लुईस एम सिमंस ‘द वॉशिंगटन पोस्ट’ के संवाददाता के रूप में दिल्ली में तैनात थे। उसी दौरान अमेरिका के इस अखबार में सिमंस की यह खबर छपी कि आपातकाल से ठीक पहले एक डिनर पार्टी के दौरान संजय गांधी ने अपनी मां इंदिरा को कई थप्पड़ मारे। इंदिरा को बेटे के हाथों छह थप्पड़ की कहानी का जिक्र वरिष्ठ पत्रकार कुलदीप नैयर ने अपनी किताब-इमरजेंसी की इनसाइड स्टोरी में किया है।

COMMENT

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना