• Hindi News
  • National
  • Congress Chintan Shivir: Sonia Gandhi CLP Leader Meeting, Rahul Gandhi's Return As President

2024 के लिए कांग्रेस का ब्लूप्रिंट तैयार:राहुल की लीडरशिप और 50% अहम पोस्ट पर युवा नेता; MSP-जातीय जनगणना पर एग्रेसिव मोड

उदयपुर/नई दिल्ली9 दिन पहले

उदयपुर में जारी चिंतन शिविर के दूसरे दिन कांग्रेस खेमे से बड़ी खबर सामने आई है। राहुल गांधी के नेतृत्व में यूथ ब्रिगेड 2024 के आम चुनावों में उतर सकती है। संगठन से लेकर सत्ता में कांग्रेस 50 साल से कम उम्र के नेताओं को 50% हिस्सेदारी देगी। इसका ब्लूप्रिंट तैयार किया जा रहा है। वहीं, इस बार पार्टी कई मुद्दों को नए सिरे से जनता के पास ले जाएगी। इनमें जातीय जनगणना, MSP की लीगल गारंटी प्रमुख है।

कांग्रेस ने खेती-किसानी पर प्रस्ताव पेश करने के लिए हरियाणा के पूर्व सीएम भूपिंदर सिंह हुड्डा के नेतृत्व में समिति बनाई थी।
कांग्रेस ने खेती-किसानी पर प्रस्ताव पेश करने के लिए हरियाणा के पूर्व सीएम भूपिंदर सिंह हुड्डा के नेतृत्व में समिति बनाई थी।

सूत्रों के मुताबिक- अगस्त में होने वाले कांग्रेस अध्यक्ष के चुनाव में राहुल गांधी को फिर से कमान मिल सकती है। इसका रोड मैप चिंतन शिविर में तैयार किया जा रहा है। शनिवार को सोनिया गांधी सभी महासचिव, प्रदेश प्रभारी, प्रदेश अध्यक्ष और CLP लीडर की बैठक बुलाई थी। इस बैठक में आगामी रणनीति पर चर्चा की गई है। इधर, सचिन पायलट ने अपने एक बयान में कहा कि कांग्रेस में अब युवाओं को हिस्सेदारी मिलेगी। पार्टी इस पर भी काम कर रही है।

जातीय जनगणना और MSP लागू करने की मांग को लेकर संघर्ष
कांग्रेस किसानों के मुद्दे को समाधान करने के लिए एक आयोग बनाएगी। साथ ही किसानों के MSP कानून बनाने और उसके लीगल गारंटी दिलाने की घोषणा करेगी। खेती किसानी समिति के प्रमुख भूपिंदर सिंह हुड्डा ने पिछले दिनों इसको लेकर किसान नेता राकेश टिकैत से मुलाकात की थी।

कांग्रेस के युवा मामलों पर बनाई गई कमेटी में राहुल गांधी शामिल हुए। सूत्रों के मुताबिक युवा नेताओं ने राहुल से कमान संभालने और पार्टी के भीतर हिस्सेदारी देने की बात कही।
कांग्रेस के युवा मामलों पर बनाई गई कमेटी में राहुल गांधी शामिल हुए। सूत्रों के मुताबिक युवा नेताओं ने राहुल से कमान संभालने और पार्टी के भीतर हिस्सेदारी देने की बात कही।

इधर, सामाजिक समिति ने जातीय जनगणना के मुद्दों पर देशभर में लड़ाई छेड़ने का सुझाव दिया है। रविवार को CWC में इसका प्रस्ताव पेश किया जाएगा। जातीय जनगणना की मांग वर्षों से चल रही है, लेकिन सरकार ने पिछले साल इसे खारिज कर दिया था।

चिंतन शिविर में राहुल को कमान देने का रास्ता ऐसे किया जा साफ

  • 2019 में हार के बाद CWC की मीटिंग में राहुल ने अशोक गहलोत और कमलनाथ के बेटे को टिकट दिलवाने का जिक्र किया। राहुल दोनों नेताओं से नाराज थे। कांग्रेस ने चिंतन शिविर में वन फैमिली-वन टिकट का फॉर्मूला लागू कर दिया है।
  • कांग्रेस में G-23 समेत कई नेता लगातार पार्टी फोरम से बाहर जाकर बात रखते हैं। राहुल ने एक रैली में नाराजगी भी जताई थी। अब चिंतन शिविर में कांग्रेस अनुशासन पर सख्त नियम लागू करने जा रही है।
  • आनंद शर्मा समेत कई नेता वर्षों से राज्यसभा के भरोसे सियासी मैदान में है। कांग्रेस के भीतर पेंशनभोगी नेताओं को लेकर राहुल ने नाराजगी जताई थी। अब चिंतन शिविर में कांग्रेस 'राज्यसभा में 2 टर्म' से अधिक नहीं रह सकते का फॉर्मूला लाने जा रही है।
सोनिया गांधी ने शुरुआती संबोधन में कहा कि निजी इच्छाओं का त्याग कर सभी लोग पार्टी के लिए काम करें। ये कर्ज चुकाने का वक्त है।
सोनिया गांधी ने शुरुआती संबोधन में कहा कि निजी इच्छाओं का त्याग कर सभी लोग पार्टी के लिए काम करें। ये कर्ज चुकाने का वक्त है।

जमीन पर काम करने वालों को तरजीह, पैराशूट नेताओं को टिकट नहीं
कांग्रेस 2024 से पहले संगठन में बड़े स्तर पर फेरबदल करने की तैयारी कर रही है। चिंतन शिविर में जिला से लेकर राज्य स्तर पर नेताओं का कार्यकाल फिक्स्ड होगा। साथ ही पैराशूट नेताओं को चुनाव में टिकट नहीं दिया जाएगा। इसके अलावा, संगठन में काम करने वाले नेताओं को सरकार बनने पर तरजीह दी जाएगी।