• Hindi News
  • National
  • Congress Leader Chidambaram Said Appalled By Harsh Vardhan's Statement That There Is No Shortage Of Oxygen, Vaccines

पूर्व केंद्रीय मंत्री की खरी-खरी:चिदंबरम बोले- सरकार समझती है कि देश के सभी लोग मूर्ख हैं, लोगों को ऐसी सरकार के खिलाफ विद्रोह कर देना चाहिए

नई दिल्ली7 महीने पहले
  • कॉपी लिंक
कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम - Dainik Bhaskar
कांग्रेस नेता पी. चिदंबरम

कांग्रेस के वरिष्ठ नेता पी चिदंबरम ने बुधवार को स्वास्थ्य मंत्री डॉ. हर्षवर्धन के उस बयान की आलोचना की, जिसमें उन्होंने कहा था कि देश में ऑक्सीजन या वैक्सीन की कोई कमी नहीं है। इस पर चिदंबरम ने कहा कि मुझे डॉ. हर्षवर्धन के बयान से हैरानी हो रही है। वे कह रहे हैं कि देश में ऑक्सीजन, वैक्सीन या रेमडेसिविर की कोई कमी नहीं है। यूपी के मुख्यमंत्री कह रहे हैं कि प्रदेश में वैक्सीन की कोई कमी नहीं है।

चिदंबरम ने पूछा कि अगर ऐसा है तो क्या टीवी पर झूठे वीडियो दिखाए जा रहे हैं? अखबारों की खबरें गलत हैं? क्या सभी डॉक्टर झूठ बोल रहे हैं? क्या परिवार के सभी सदस्य गलत बयान दे रहे हैं? क्या सभी विजुअल और फोटो नकली हैं? लोगों को ऐसी सरकार के खिलाफ विद्रोह कर देना चाहिए, जो यह मान रही है कि भारत के सभी लोग मूर्ख हैं।

देश भर में ऑक्सीजन की कमी
देश के अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी होने से केंद्र सरकार सवालों के घेरे में है। इस कमी को दूर करने के लिए कई कदम उठाए गए हैं। बुधवार को ही सरकार ने PM केयर्स फंड से 1 लाख पोर्टेबल ऑक्सीजन कंसंट्रेटर्स और 500 प्रेशर स्विंग एडसोर्पशन (PSA) ऑक्सीजन प्लांट खरीदने का फैसला किया है। PMO के मुताबिक, केंद्र सरकार ने पहले से ही 713 PSA प्लांट के ऑर्डर दिए हुए हैं। बुधवार को फिर 500 प्लांट के नए ऑर्डर दिए गए।

PSA प्लांट से देश के टीयर-2 शहरों खासकर जिला मुख्यालयों में ऑक्सीजन की कमी को दूर किया जा सकेगा। प्रधानमंत्री ने अफसरों से कहा है कि इन ऑर्डर को जल्द से जल्द पूरा कर राज्यों को भेजा जाए, ताकि ऑक्सीजन की हो रही कमी को पूरा किया जा सके।

राहुल ने कहा- लोग वैक्सीन के लिए दुनिया में सबसे ज्यादा कीमत चुकाएंगे
कांग्रेस सांसद राहुल गांधी ने एक बार फिर वैक्सीन की कामतों को लेकर केंद्र सरकार पर हमला बोला है। उन्होंने सोशल मीडिया पर लिखा, कोरोना वैक्सीन डेवलप करने के लिए वैक्सीन कंपनियों को जनता का पैसा दिया गया था। अब केंद्र सरकार की नीतियों के कारण उन्हीं लोगों को टीके के लिए दुनिया में सबसे ज्यादा कीमत चुकानी पड़ेगी। एक बार फिर, फेल सिस्टम के आगे हमारी जनता मोदी-मित्रों के फायदे के आगे नाकाम हो गई है।

खबरें और भी हैं...