• Hindi News
  • National
  • Rahul Gandhi Narendra Modi | Pulwama Attack: Rahul Gandhi On BJP Government Over Pulwama Attack Anniversary, PM Narendra Modi pays tribute to Pulwama bravehearts

पुलवामा की पहली बरसी / मोदी बोले- देश शहीदों का बलिदान कभी नहीं भूलेगा; राहुल ने पूछा- हमले से किसे फायदा मिला?

14 फरवरी 2019 को जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर हुए हमले में 40 सीआरपीएफ जवानों की जान गई थी 14 फरवरी 2019 को जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर हुए हमले में 40 सीआरपीएफ जवानों की जान गई थी
X
14 फरवरी 2019 को जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर हुए हमले में 40 सीआरपीएफ जवानों की जान गई थी14 फरवरी 2019 को जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर हुए हमले में 40 सीआरपीएफ जवानों की जान गई थी

  • राहुल गांधी ने शहीद सीआरपीएफ के जवानों को याद किया और इस घटना को लेकर सरकार से तीन सवाल पूछे
  • रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी ट्वीट कर शहीदों को याद किया, कहा- भारत उनके बलिदान को कभी नहीं भूलेगा 

दैनिक भास्कर

Feb 14, 2020, 01:04 PM IST

नई दिल्ली. पुलवामा हमले की पहली बरसी के मौके पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने आज शहीदों को नमन किया। उन्होंने ट्वीट किया, “पिछले साल पुलवामा हमले में शहीद हुए बहादुर जवानों को मेरी श्रद्धांजलि। वे असाधारण व्यक्ति थे, जिन्होंने हमारे राष्ट्र की सेवा और रक्षा के लिए अपना जीवन समर्पित कर दिया। भारत उनकी कुर्बानी को कभी नहीं भूलेगा।” वहीं, राहुल गांधी ने भी शहीद सीआरपीएफ के जवानों को याद किया और इसके बाद सरकार की प्रगति को लेकर सवाल उठाए।

राहुल ने हमले को लेकर तीन सवाल पूछे। पहला, इस हमले से सबसे ज्यादा किसे फायदा मिला? दूसरा, हमले के बाद हुई जांच का परिणाम क्या निकला और तीसरा, भाजपा सरकार ने इस हमले को लेकर हुई चूक के लिए किसे जिम्मेदार ठहराई है? वहीं, रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह ने भी ट्वीट कर शहीदों को याद किया और कहा कि भारत उनके बलिदान को कभी नहीं भूलेगा। दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने भी पुलवामा घटना की बरसी पर ट्वीट किया, “पुलवामा में आतंकवादी हमले में आज ही के दिन शहीद हुए जवानों को भावपूर्ण श्रद्धांजलि।”

सीआरपीएफ कैंप में शहीदों को श्रद्धांजलि

श्रीनगर में सीआरपीएफ के लेथपोरा कैंप में शहीद 40 जवानों को स्मारक पर श्रद्धांजलि दी गई। इस मौके पर महाराष्ट्र के उमेश गोपीनाथ जाधव मुख्य अतिथि थे। जाधव पुलवामा हमले में शहीद सभी 40 जवानों के घर गए थे। साथ ही जाधव जवानों के अंतिम संस्कार स्थल की मिट्‌टी को इकट्‌ठा करके लाए थे। इसके लिए उन्होंने देश भर में 61 हजार किमी की यात्रा की। इस मौके पर सीआरपीएफ के महानिदेशक जुल्फिकार हसन ने कहा, “एनआईए ने इस संबंध में जांच पूरी कर चुकी है। हमने इस दिशा में काफी प्रगति की है। हम शहीदों के परिवारों का ध्यान रखने की बेहतर कोशिश कर रहे हैं।” उन्होंने कहा, “पुलवामा हमले के साजिशकर्ता को हमले के कुछ महीने बाद ही मार गिराया गया था। जिन लोगों ने हमले को अंजाम दिया था, उसका हिसाब चुकता किया जा चुका है।” 

श्रीनगर में सीआरपीएफ के लेथपोरा कैंप में शहीद 40 जवानों को स्मारक पर श्रद्धांजलि दी गई।

स्मृति ईरानी ने कहा- वीर सपूतों को शत्-शत् नमन 

भाजपा अध्यक्ष जेपी नड्‌डा ने भी ट्वीट किया, “पिछले वर्ष जम्मू-कश्मीर के पुलवामा में हुए आतंकी हमले में शहीद होने वाले हमारे सीआरपीएफ के जवानों को नमन करता हूं। देश हमारे वीर जवानों की शहादत सदैव स्मरण रखेगा। हम सभी एकजुट होकर आतंकवाद को मूल से समाप्त करने के लिए प्रतिबद्ध हैं।” कांग्रेस प्रवक्ता रणदीप सिंह सुरजेवाला ने ट्वीट किया, “जो शहीद हुए है उनकी, जरा याद करो कुर्बानी’ पुलवामा में हुए आतंकी हमले में देश के लिए जान न्यौछावर करने वाले अमर शहीदों को शत शत नमन।” स्मृति ईरानी ने ट्वीट किया, “जम्मू कश्मीर के पुलवामा में आतंकी हमले में वीर गति को प्राप्त करने वाले माँ भारती के वीर सपूतों को शत् शत् नमन एवं विनम्र श्रद्धांजलि।”

हमले के बाद भारत ने बालाकोट स्ट्राइक में 200-300 आतंकी मार गिराए थे

पुलवामा हमले की आज पहली बरसी है। 14 फरवरी 2019 को जम्मू-श्रीनगर हाईवे पर हुए हमले में 40 सीआरपीएफ जवानों की जान गई थी। जांच में यह सामने आया था कि इस हमले के तार पाकिस्तान से जुड़े थे। इसके बाद 26 फरवरी 2019 को भारतीय वायु सेना के बारह मिराज 2000 जेट्स ने नियंत्रण रेखा पार की और बालाकोट में जैश-ए-मोहम्मद संचालित आतंकवादी शिविर पर हमला किया। सरकार के मुताबिक, इसमें  200-300 आतंकवादी मारे गए।
 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना