पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

Install App
  • Hindi News
  • National
  • Corona Vaccination Latest Updates | All India Institute Of Medical Sciences (AIIMS), AIIMS Director, AIIMS Director Randeep Guleria, Vaccination Question Answer

Ads से है परेशान? बिना Ads खबरों के लिए इनस्टॉल करें दैनिक भास्कर ऐप

कोरोना से कब मिलेगी निजात:AIIMS डायरेक्टर बोले- वैक्सीनेशन के बाद 8 महीने तक एंटीबॉडी रहेगी; 50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों का टीकाकरण मार्च से

नई दिल्ली17 दिन पहले
  • कॉपी लिंक
16 जनवरी को टीकाकरण शुरू होने के बाद से भारत में कोविशील्ड और कोवैक्सिन की 75 लाख से ज्यादा खुराकें दी जा चुकी हैं। (सिम्बॉलिक इमेज) - Dainik Bhaskar
16 जनवरी को टीकाकरण शुरू होने के बाद से भारत में कोविशील्ड और कोवैक्सिन की 75 लाख से ज्यादा खुराकें दी जा चुकी हैं। (सिम्बॉलिक इमेज)

ऑल इंडिया इंस्टिट्यूट ऑफ मेडिकल साइंसेज (AIIMS) दिल्ली के डायरेक्टर रणदीप गुलेरिया ने बताया कि वैक्सीन लगाने के बाद कोरोना के खिलाफ एंटीबॉडी 8 महीने या इससे अधिक समय तक रह सकती है। उन्होंने कहा कि वैज्ञानिक लंबे वक्त तक सुरक्षा के लिए तेजी से काम कर रहे हैं। उन्होंने उम्मीद जताई कि 50 साल से ज्यादा उम्र के लोगों के टीकाकरण की शुरुआत मार्च से हो सकती है। कोरोना पर नेशनल टास्क फोर्स के सदस्य गुलेरिया ने सोशल मीडिया पर कई सवालों के जवाब भी दिए।

14 दिनों बाद एंटीबॉडी विकसित होगी
उन्होंने कहा कि दूसरे शॉट् के लगभग 14 दिनों बाद एंटीबॉडी विकसित होगी। यह स्पष्ट नहीं है कि इससे मिली सुरक्षा कितने दिनों तक रहेगी, लेकिन यह माना जाता है कि यह कम से कम 8 महीने या उससे अधिक समय तक प्रभावी होगा। 16 जनवरी को टीकाकरण शुरू होने के बाद से भारत में कोविशील्ड और कोवैक्सिन की 75 लाख से ज्यादा खुराकें दी जा चुकी हैं।

पशु चिकित्सकों को प्राथमिकता नहीं
गुलेरिया ने कहा कि 50 वर्ष से ऊपर की आबादी को मार्च 2021 से टीका मिलना शुरू हो जाएगा। उन्होंने यह भी कहा कि इसमें 20 से 50 साल के बीच की पहले से बीमार आबादी भी शामिल होगी। पशु चिकित्सकों को उच्च जोखिम वाले वर्कर्स की सूची में शामिल नहीं किए जाने से जुड़े सवाल पर उन्होंने कहा कि ऐसा इसलिए है क्योंकि वे कोरोना के मरीजों का इलाज नहीं कर रहे हैं।

गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लोगों को भी वैक्सीन मिलेगी
गुलेरिया ने कहा कि उम्र आधार पर अधिक गंभीर बीमारियों से ग्रस्त लोगों को वैक्सीन मिलेगी। सरकार अन्य देशों को वैक्सीन सप्लाई कर के अपनों को उससे क्यों वंचित कर रही है? इस सवाल पर गुलेरिया ने कहा कि चूंकि लोग यात्रा करते हैं और वायरस के वाहक बनते हैं, इसलिए प्रसार को नियंत्रित करने के लिए सभी को विश्व स्तर पर टीका लगाया जाना चाहिए। इसलिए, सभी देशों को टीकों का अपना हिस्सा प्राप्त करने की आवश्यकता है।

खबरें और भी हैं...

आज का राशिफल

मेष
Rashi - मेष|Aries - Dainik Bhaskar
मेष|Aries

पॉजिटिव- इस समय ग्रह स्थितियां पूर्णतः अनुकूल है। सम्मानजनक स्थितियां बनेंगी। विद्यार्थियों को कैरियर संबंधी किसी समस्या का समाधान मिलने से उत्साह में वृद्धि होगी। आप अपनी किसी कमजोरी पर भी विजय हासिल...

और पढ़ें