• Hindi News
  • National
  • Coronavirus Second Wave Alert Udpate; NITI Aayog Dr VK Paul On Schools Reopening And Vaccination

जिंदगी का टीका:सरकार ने कहा- वैक्सीन की दोनों डोज लेने पर कोरोना से मौत का खतरा 97% कम; एक डोज भी 96% सुरक्षा देती है

एक महीने पहले

वैक्सीन का पहला डोज लगने के बाद मौत की संभावना 96.6% तक कम हो जाती है। वहीं, दूसरे डोज के बाद आशंका 97.5% तक कम हो जाती है। सरकार ने गुरुवार को यह जानकारी सार्वजनिक की है। स्वास्थ्य मंत्रालय की तरफ से बताया गया कि यह जानकारी अप्रैल से अगस्त के बीच डेटा पर हुई रिसर्च के आधार पर जारी किया गया है।

डेटा का अध्ययन करने के बाद यह सामने आया है कि दूसरी लहर में अप्रैल से मई के बीच संक्रमण से मरने वालों में ज्यादातर वह लोग थे, जिन्होंने वैक्सीन का एक भी डोज नहीं लिया था। कोविड टास्क फोर्स के प्रमुख वीके पॉल ने कहा कि वैक्सीनेशन संक्रमण के खिलाफ एक बड़ा हथियार है। देश में वैक्सीन भरपूर मात्रा में है। हम लोगों से अपील करते हैं कि वे वैक्सीन जरूर लगवाएं।

स्कूलों को फिर से खोलने के लिए वैक्सीनेशन जैसी कोई शर्त नहीं
नीति आयोग के सदस्य स्वास्थ्य डॉ. वीके पॉल ने मीडिया ब्रीफ में बताया कि स्कूलों को फिर से खोलने के लिए बच्चों का टीकाकरण कोई शर्त नहीं है। पॉल ने कहा कि स्कूल स्टाफ को वैक्सीन लेना अनिवार्य किया गया है। हालांकि, सरकार बच्चों के वैक्सीन को लेकर गंभीर है और इसकी तैयारियां जोरो पर हैं।

देश में वैक्सीनेशन का आंकड़ा 72 करोड़ के पार
पॉल ने आगे बताया कि देश में वैक्सीनेशन 72 करोड़ का आंकड़ा पार कर गया है। 18 साल से अधिक उम्र के 58% लोगों को सिंगल डोज दी जा चुकी है। इसे 100 प्रतिशत पर ले जाना जरूरी है। ये हर्ड इम्यूनिटी के लिए भी आवश्यक है। हमें इसका ध्यान रखना है कि वैक्सीनेशन से कोई भी न छूटे।

त्योहारी सीजन को लेकर दी चेतावनी
इधर, केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि देश में कोरोना की दूसरी लहर खत्म नहीं हुई है। त्योहारी सीजन शुरू होने से पहले केंद्रीय स्वास्थ्य मंत्रालय ने गुरुवार को एक बार फिर से लोगों को सतर्क रहने और लापरवाही न बरतने की चेतावनी दी है।

औसतन 78 लाख लोगों को रोज लग रहा टीका
भूषण ने आगे बताया कि देश में वैक्शीनेशन तेजी से बढ़ रही है। मई में जहां औसतन 20 लाख लोगों को प्रतिदिन टीका लगाया जा रहा था, वह सितंबर में 78 लाख हो गई है। हमने मई के 30 दिनों की तुलना में सितंबर के पहले 7 दिनों में अधिक टीके लगाए हैं। पिछले 24 घंटों में 86 लाख खुराक दी गई। हमें त्योहारों से पहले टीकाकरण की गति बढ़ानी है। उम्मीद है इसमें जल्द ही और तेजी आएगी।

कुल संक्रमितों के 68% मामले अकेले केरल से
भूषण ने प्रेस कॉन्फ्रेंस में कहा कि देश में पिछले 24 घंटे में संक्रमण के 43,263 मामले दर्ज किए गए हैं। केरल में 32 हजार से भी ज्यादा मामले सामने आए हैं। देश में पिछले हफ्ते आए कुल संक्रमितों के 68% मामले केरल में ही रिपोर्ट किए गए थे। केंद्रीय स्वास्थ्य सचिव राजेश भूषण ने बताया कि कोरोना की पहली लहर के दौरान मामलों में गिरावट की दर 50% थी, जो इस लहर में इससे थोड़ी कम है। हम अभी भी मामलों में उछाल देख रहे हैं, यह बढ़ोतरी अभी खत्म नहीं हुई है।

खबरें और भी हैं...