• Hindi News
  • National
  • Coronavirus Vaccine Private Hospital Dose Status; Government Data Latest Updates

वैक्सीनेशन में बड़ी लापरवाही:मई में 1 करोड़ से ज्यादा वैक्सीन इस्तेमाल नहीं कर पाए निजी अस्पताल; 1.29 करोड़ डोज मिले, 22 लाख ही लगा पाए

नई दिल्ली4 महीने पहले

देशभर में वैक्सीन की भारी कमी के बीच प्राइवेट अस्पतालों में इसके स्टॉक को लेकर बड़ा खुलासा हुआ है। हेल्थ मिनिस्ट्री के आंकड़ों के मुताबिक, पिछले महीने निजी अस्पतालों ने अपने वैक्सीन की स्टॉक में से केवल 17% डोज का ही इस्तेमाल किया था।

हेल्थ मिनिस्ट्री की 4 जून को जारी रिपोर्ट के मुताबिक, मई में देशभर में वैक्सीन की कुल 7.4 करोड़ डोज उपलब्ध कराई गई थीं, इसमें से 1.85 करोड़ डोज प्राइवेट अस्पतालों के लिए तय की गईं। प्राइवेट अस्पतालों ने इसमें से 1.29 करोड़ डोज की खरीदी की, लेकिन उन्होंने केवल 22 लाख डोज का ही इस्तेमाल किया। यानी मई में इनके पास 1.07 करोड़ डोज का स्टॉक मौजूद था।

राज्यों को 25.87 करोड़ से अधिक वैक्सीन की डोज दी गईं
केंद्र सरकार ने शनिवार को बताया कि राज्यों और केंद्र शासित प्रदेश को अब तक 25.87 करोड़ से अधिक वैक्सीन की डोज सप्लाई की गई है। इसमें से 24.76 करोड़ टीके का इस्तेमाल किया जा चुका है। राज्यों और केंद्रशासित प्रदेशों के पास अब भी टीके की 1.12 करोड़ से अधिक खुराक उपलब्ध हैं।

केंद्र सरकार के मुताबिक, वैक्सीन की 10.81 लाख से ज्यादा खुराक प्रोसेस में हैं और अगले तीन दिनों में राज्यों/केंद्रशासित प्रदेशों को प्रदान कर दी जाएंगी।

नहीं हैक हुआ CoWin पोर्टल, डेटा सुरक्षित
सरकार ने CoWin पोर्टल को हैक करने और आंकड़े लीक होने के दावों को शनिवार को खारिज करते हुए इसे निराधार बताया है। स्वास्थ्य मंत्रालय ने एक बयान में कहा कि इलेक्ट्रॉनिक और सूचना प्रौद्योगिकी मंत्रालय की कम्प्यूटर इमरजेंसी रिस्पॉन्स टीम CoWin प्रणाली को कथित तौर पर हैक करने के मामले की जांच कर रही है।

वैक्सीन एडमिनिस्ट्रेशन के इम्पावर्ड ग्रुप के चेयरमैन डॉ. आरएस शर्मा ने स्पष्ट किया कि CoWin प्रणाली को कथित तौर पर हैक करने और आंकड़े लीक होने से संबंधित डार्क वेब पर तथाकथित हैकरों के दावे निराधार हैं। हम यह सुनिश्चित करने के लिए समय-समय पर आवश्यक कदम उठाते रहेंगे कि CoWin पर लोगों के आंकड़े सुरक्षित रहें। को-विन पोर्टल कोविड-19 टीकाकरण अभियान का अहम हिस्सा है।

खबरें और भी हैं...