• Hindi News
  • National
  • Vaccines For Children । Coronavirus । Covid 19 । Pfizer And Zydus Vaccines

कोराेना के बीच राहत की खबर:AIIMS डायरेक्टर ने कहा- भारत में सितंबर से बच्चों को मिल सकती है वैक्सीन, चेन तोड़ने में मिलेगी मदद

नई दिल्ली3 महीने पहले
  • कॉपी लिंक

भारत में सितंबर से बच्चों को कोरोना वैक्सीन दी जा सकती है। दिल्ली AIIMS के डायरेक्टर डॉ. रणदीप गुलेरिया ने बताया कि तीन कंपनियों की वैक्सीन को अगस्त-सितंबर तक अप्रूवल मिलने की उम्मीद है। इससे बच्चों को संक्रमण के खतरे से बचाया जा सकता है। इससे वायरस की ट्रांसमिशन चेन तोड़ने में मदद मिलेगी।

NDTV के हवाले से डॉ गुलेरिया ने कहा कि, जायडस ने ट्रायल पूरे कर लिए हैं और इमरजेंसी ऑथराइजेशन का इंतजार है। भारत बायोटेक के कोवैक्सिन ट्रायल भी अगस्त-सितंबर तक पूरे हो जाने की उम्मीद है। तब तक इस वैक्सीन को अप्रूवल भी मिल जाएगा। फाइजर वैक्सीन को अमेरिका के फूड एंड ड्रग एडमिनिस्ट्रेशन (FDA) ने पहले ही अप्रूव कर दिया है। ऐसे में उम्मीद है कि सितंबर से हम बच्चों को वैक्सीन लगाना शुरू कर देंगे।

भारत में अब तक 42 करोड़ वैक्सीन डोज लगाई गईं
देश में अब तक वैक्सीन की 42 करोड़ डोज लगाई गई हैं। सरकार का लक्ष्य है कि इस साल के अंत तक सभी युवाओं को वैक्सीन लगा दी जाए। हालांकि, तीसरी लहर के बीच अभी यह तय नहीं है कि बच्चों के लिए कौन सी वैक्सीन चुनी जाएगी।

बच्चों से बड़ों को संक्रमण फैलने का खतरा
‘द लैंसेट’ ने इस हफ्ते की शुरुआत में एक स्टडी पब्लिश की थी, जिसके मुताबिक, 11 से 17 साल के बच्चों के साथ रहने पर बुजुर्गों को संक्रमण का खतरा 18% से 30% बढ़ जाता है। यही एक बड़ी वजह है कि लोग बच्चों को स्कूल भेजने को लेकर चिंतित हैं।

खबरें और भी हैं...