पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • COWIN Registration Time Slot Latest Update; On site Appointment Not Required For 18 44 Years Age

वैक्सीनेशन के लिए बड़ी सुविधा:18-44 के एजग्रुप के लिए ऑनलाइन अपॉइंटमेंट जरूरी नहीं, सरकारी वैक्सीनेशन सेंटर पर भी रजिस्ट्रेशन हो सकेगा

नई दिल्लीएक महीने पहले

सरकार ने वैक्सीनेशन के नियमों में बदलाव किया है। इससे 18-44 एज ग्रुप के लोगों को काफी राहत मिलेगी। अब इस एज ग्रुप के लिए ऑनलाइन अपॉइंटमेंट की जरूरत नहीं। नए नियम के मुताबिक, ये लोग वैक्सीनेशन सेंटर्स पर जाकर अपना रजिस्ट्रेशन करवा सकेंगे और अपॉइंटमेंट ले सकेंगे। ये सुविधा फिलहाल सरकारी वैक्सीनेशन सेंटर्स पर दी जाएगी।

केंद्र ने ये नोटिफिकेशन सभी राज्यों को भेजा है और उनसे ऑन-साइट यानी मौके पर ही रजिस्ट्रेशन की सुविधा शुरू करने को कहा है। यह राज्यों पर है कि वे अपने यहां ये सुविधा शुरू करते हैं या नहीं।

वेस्टेज रोकने के लिए किया फैसला
सरकार ने पहले वैक्सीनेशन सेंटर पर भीड़ को नियंत्रित करने के लिए ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन जरूरी कर दिया था, लेकिन ऑनलाइन रजिस्ट्रेशन में दो तरह की परेशानी आ रही थी। पहला, यह कि गांव के लोग जिनके पास स्मार्टफोन नहीं थे उन्हें स्लॉट बुक करने में दिक्कतें आ रही थीं।

इसके अलावा कई राज्यों से ऐसी खबरें भी आ रही थी कि लोग स्लॉट बुक कराने के बाद भी वैक्सीनेशन के लिए सेंटर पर नहीं पहुंच रहे हैं। लिहाजा ऐसे हालात में वैक्सीन की बर्बादी हो रही थी, लेकिन अब बिना रजिस्ट्रेशन के पहुंचने वाले लोगों को बची हुई वैक्सीन लगाई जाएगी।

राज्यों को ऑनसाइट रजिस्ट्रेशन शुरू करने का आदेश
स्वास्थ्य मंत्रालय ने सभी राज्यों को आदेश दिया है कि वे जिला प्रशासन से ऑनसाइट रजिस्ट्रेशन की सुविधा को लागू करने का काम करें। साथ ही मंत्रालय ने राज्यों से यह भी कहा कि सेंटर पर इस बात का ध्यान रखा जाए कि ऑनसाइट रजिस्ट्रेशन के दौरान कोई भीड़ जमा न हो।

भारत में फिलहाल 3 वैक्सीन उपलब्ध
फिलहाल भारत में सीरम इंस्टीट्यूट ऑफ इंडिया में तैयार कोवीशील्ड और भारत बायोटेक की बनाई कोवैक्सिन का इस्तेमाल किया जा रहा है। इसके अलावा कुछ राज्यों में रूस की स्पूतनिक-5 भी उपलब्ध है।

वैक्सीन का गणित
भारत सरकार ने अब तक राज्यों/ केंद्र शासित प्रदेशों को 21.80 करोड़ से ज्यादा टीके दिए हैं। 23 मई 2021 तक 20 करोड़ डोज की खपत हुई है। यह आंकड़ा 24 मई सुबह 8 बजे तक का है। 1.80 करोड़ से ज्यादा डोज अब भी राज्यों/केंद्र शासित प्रदेशों के पास हैं, जिन्हें लगाया जाना है।

अब तक एक करोड़ से ज्यादा 18+ के लोगों को टीका लगा
देश में अब तक एक करोड़ से ज्यादा 18 से 44 साल के उम्र के लोगों को कोरोना का टीका लगाया जा चुका है। हेल्थ मिनिस्ट्री के मुताबिक, देश में अब तक एक करोड़ 6 लाख 21 हजार 235 डोज इस एजग्रुप के लोगों को दी जा चुकी हैं। वैक्सीनेशन ड्राइव के तीसरे फेज के तहत एक मई से इस एजग्रुप के लोगों का टीकाकरण शुरू किया गया था।

वर्कप्लेस पर वैक्सीनेशन को मंजूरी दी थी
इससे पहले केंद्र सरकार ने शनिवार को वैक्सीनेशन पर एक कदम और बढ़ाते हुए निजी और सरकारी ऑफिसों में इसकी मंजूरी दी थी। इसके मुताबिक, सरकारी और निजी ऑफिस में इम्प्लाॅई के साथ उसके परिवार वालों को भी टीका लग सकेगा। ज्यादा से ज्यादा लोगों का वैक्सीनेशन हो सके, इसके लिए कंपनियां अस्पतालों के जरिए सीधे निर्माता से वैक्सीन खरीद सकेंगी

खबरें और भी हैं...