पाएं अपने शहर की ताज़ा ख़बरें और फ्री ई-पेपर

डाउनलोड करें
  • Hindi News
  • National
  • Cyclone Tauktae; Delhi NCR Weather Latest Update| IMD Says Delhi NCR, Parts Of North India To Receive Rains

ताऊ ते तूफान का असर:दिल्ली-NCR और उत्तर भारत के कुछ हिस्सों में बारिश की चेतावनी, 50-60 किमी प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलेगी

नई दिल्लीएक महीने पहले
  • कॉपी लिंक
ताऊ ते तूफान की वजह से गुजरात के अहमदाबाद में भारी बारिश हुई है। - Dainik Bhaskar
ताऊ ते तूफान की वजह से गुजरात के अहमदाबाद में भारी बारिश हुई है।

अरब सागर से उठा तूफान ताऊ ते गुजरात से राजस्थान की ओर बढ़ रहा है। यह तूफान जिन राज्यों से गुजरा, वहां तो तबाही मचाई ही है, इसके असर से दूसरे राज्यों का मौसम भी बदल गया है। मध्यप्रदेश के जबलपुर और भोपाल में तेज बारिश हुई है। कई राज्यों में तेज गर्मी वाले मई में आसमान में बादल छाए हैं।

तूफान के असर से मध्यप्रदेश के जबलपुर में मौसम बदल गया। यहां मंगलवार को बारिश हुई।
तूफान के असर से मध्यप्रदेश के जबलपुर में मौसम बदल गया। यहां मंगलवार को बारिश हुई।

मौसम विभाग ने मंगलवार को बताया कि ताऊ ते तूफान के कारण अगले दो दिनों में दिल्ली-NCR सहित उत्तर भारत के कई हिस्सों में बारिश होगी। IMD के रीजनल मेटियोरोलिजकल सेंटर के हेड कुलदीप श्रीवास्तव ने कहा कि चक्रवात की वजह से दक्षिणी राजस्थान में बारिश हो रही है। अब यह उत्तर भारत की ओर बढ़ रहा है।

श्रीवास्तव ने कहा कि बुधवार को यह राजस्थान से हरियाणा तक फैलेगा। इसके कारण, पूर्वी और पश्चिमी उत्तर प्रदेश, पूर्वी राजस्थान, दिल्ली-एनसीआर क्षेत्र में हल्की बारिश होगी। दिल्ली के कुछ हिस्सों में भारी बारिश की आशंका है।

दिल्ली में मंगलवार को दिन भर बादल छाए रहे। बुधवार को यहां भारी बारिश हो सकती है।
दिल्ली में मंगलवार को दिन भर बादल छाए रहे। बुधवार को यहां भारी बारिश हो सकती है।

उत्तर भारत में दो वेदर सिस्टम
मौसम विभाग ने बुधवार के लिए NCR में ऑरेंज कलर कोडेड वॉर्निंग जारी की है। इसके तहत 50-60 किलोमीटर प्रति घंटे की रफ्तार से हवा चलने और बारिश का अनुमान है। विभाग के मुताबिक, कमजोर चक्रवाती हवाओं का क्षेत्र उत्तराखंड की ओर बढ़ेगा और अगले दो दिनों के दौरान हिमाचल प्रदेश के साथ राज्य में भी बारिश कराएगा। एक वेस्टर्न डिस्टर्बेंस उत्तर भारत के कुछ हिस्सों को भी प्रभावित कर रहा है। दो वेदर सिस्टम की वजह से यहां भी बारिश होने की उम्मीद है।