RBI नियम : 16 अक्टूबर से बंद हो सकता है आपका डेबिट और क्रेडिट कार्ड... ATM से नहीं निकलेंगे पैसे, ऑनलाइन ट्रांजेक्शन भी नहीं होगा; कुछ कंपनियां नहीं मान रहीं RBI का ये नियम / RBI नियम : 16 अक्टूबर से बंद हो सकता है आपका डेबिट और क्रेडिट कार्ड... ATM से नहीं निकलेंगे पैसे, ऑनलाइन ट्रांजेक्शन भी नहीं होगा; कुछ कंपनियां नहीं मान रहीं RBI का ये नियम

Dainikbhaskar.com

Oct 13, 2018, 12:01 AM IST

आपका डेबिट या क्रेडिट कार्ड बंद हो, उससे पहले बैंक जाकर करें ये जरूरी काम

Debit And Credit Card Might Be Blocked Due To Rbi Directive

न्यूज डेस्क। 16 अक्टूबर से मास्टरकार्ड, वीजा समेत 16 कंपनियों के कार्ड बंद होने की खबर पूरी तरह गलत है। RBI के CGM जोस कट्टूर ने बताया कि लोग इस तरह की खबरों पर ध्यान न दें। ये सिर्फ अफवाह हैं। आपके पास इन कंपनियों का डेबिट कार्ड है तो आप पैसे निकाल पाएंगे और ऑनलाइन ट्रांजेक्शन भी कर सकेंगे।

दरअसल, ऐसी खबरें चल रही हैं कि रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया (RBI) ने कार्ड बनाने वाली कंपनियों को कहा है कि भारतीय यूजर्स का डाटा भारत में स्टोर करना होगा। इस पर वीजा और मास्‍टरकार्ड समेत 16 पेमेंट कंपनियों स्‍टोरेज से लागत का खर्च बढ़ने के चलते मना कर रही हैं।

क्या है पूरा मामला?

RBI ने अप्रैल में नोटिफिकेशन जारी करके कार्ड कंपनियों को 6 महीने का टाइम दिया था। जो 15 अक्टूबर को पूरा हो रहा है। RBI का कहना है कि विदेशी कंपनियां भारतीय यूजर्स का डाटा भारत में ही स्टोर करेंगी। इस पर अमेजन, व्हॉट्सऐप, अलीबाबा जैसी ई-कॉमर्स कंपनियां समेत कुल 62 कंपनियां तैयार हो गई। वहीं मास्टरकार्ड, वीजा समेत 16 कंपनियों ने RBI का नियम को मानने से इनकार कर दिया। उन्होंने फाइनेंस मिनिस्ट्री को भी इस मामले में जुड़ने के लिए कहा है। इधर, RBI ने नया टाइम देने से मना कर दिया है।

RBI ने दी ये जानकारी

इस पूरे मामले पर RBI से जुड़े सूत्रों ने बताया कि RBI कभी भी लोगों को परेशान नहीं करता। इस तरह की बातों पर ध्यान नहीं दिया जाना चाहिए। सबकुछ जैसे चल रहा है वैसे ही चलता रहेगा। अगस्त 2018 तक देश में 98 करोड़ डेबिट कार्ड और 4 करोड़ क्रेडिट कार्ड होल्डर हो चुके हैं। यदि आगे कोई कदम उठाया भी जाता है तब उसकी जानकारी दी जाएगी। वैसे भी, RBI और कंपनियों के इस मामले में लोगों को किसी तरह की परेशानी नहीं होगी।

X
Debit And Credit Card Might Be Blocked Due To Rbi Directive
COMMENT