• Hindi News
  • National
  • Rajnath Singh In Russia, Defence Minister Rajnath Singh Russia Visit News Updates On Reciprocal Logistics Support

दौरा / राजनाथ सिंह रूस पहुंचे, सैन्य सहयोग बढ़ाने और रक्षा उत्पादों की साझेदारी के लिए समझौते पर चर्चा करेंगे

राजनाथ सिंह। राजनाथ सिंह।
X
राजनाथ सिंह।राजनाथ सिंह।

  • राजनाथ सिंह रूस में अपने समकक्ष सर्गेई शोइगु के साथ एग्रीमेंट ऑन रेसिप्रोकल लॉजिस्टिक पर बातचीत करेंगे
  • इसके तहत दोनों देश माल ढुलाई और रसद-ईधन की जरूरतों के लिए एक दूसरे के सैन्य ठिकाने इस्तेमाल कर सकेंगे
  • राजनाथ मॉस्को में भारत-रूस डिफेंस इंडस्ट्री कोऑपरेशन कॉन्फ्रेंस का भी उद्घाटन करेंगे

दैनिक भास्कर

Nov 05, 2019, 11:30 AM IST

मॉस्को. रक्षा मंत्री राजनाथ सिंह मंगलवार को तीन दिवसीय दौरे पर रूस के मॉस्को पहुंचे। यहां वे रूस के रक्षा मंत्री जनरल सर्गेई शोइगु के साथ सैन्य सहयोग पर आधारित 19वीं भारत-रूस सरकारी आयोग की बैठक में हिस्सा लेंगे। बताया गया है कि राजनाथ यहां दोनों देशों के बीच रक्षा उत्पादों की साझेदारी के लिए ‘एग्रीमेंट ऑन रेसिप्रोकल लॉजिस्टिक’ (एआरएलएस) समझौते पर भी चर्चा करेंगे। 

 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक, नए समझौते के तहत भारत और रूस एक दूसरे के सैन्य ठिकानों को रसद और ईधन के जरूरतों के लिए इस्तेमाल कर सकेंगे। इससे दोनों देशों के बीच माल ढुलाई और सैन्य ऑपरेशंस में सहयोग बढ़ेगा। इससे बड़ा फायदा भारतीय नौसेना को होगा जो बड़े स्तर पर रूसी मूल के शिप्स का इस्तेमाल करती है। समझौते के बाद ये शिप्स सप्लाई और ईधन की जरूरतों के लिए रूस के बंदरगाहों का इस्तेमाल कर सकेंगे। इनमें आर्कटिक महासागर से जुड़े बंगरगाह भी शामिल होंगे। साझा सैन्य अभ्यासों के लिहाज से यह भारत के लिए अहम डील होगी। समझौते का लाभ भारतीय एयरफोर्स को भी होगा जो विमानों को रूसी एयरबेस भेज सकेगी। 

 

भारत ऐसा समझौता अमेरिका-फ्रांस के साथ कर चुका है

इसी साल व्लादिवोस्तोक में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी और रूसी राष्ट्रपति व्लादिमीर पुतिन के बीच हुई बैठक में भारत और रूस के बीच ऐसा समझौता तैयार करने पर सहमति बनी थी। भारत इससे पहले अमेरिका के साथ अगस्त 2016 में लॉजिस्टिक एक्सचेंज एमओयू पर हस्ताक्षर कर चुका है। इसके अलावा पिछले साल फ्रांस के साथ भी भारत ने एक ऐसा ही समझौता किया है। 

 

रूस के साथ ट्रांसफर ऑफ टेक्नोलॉजी पर बात होगी
भारत-रूस के बीच रक्षा उत्पादों का सहयोग बढ़ाने के लिए राजनाथ यहां सर्गेई शोइगु के साथ ‘भारत-रूस डिफेंस इंडस्ट्री कोऑपरेशन कॉन्फ्रेंस’ का उद्घाटन करेंगे। इस कॉन्फ्रेंस के जरिए दोनों देश रक्षा क्षेत्र में ट्रांसफर ऑफ टेक्नोलॉजी और मेक इन इंडिया के तहत भारत में निवेश की संभावनाओं पर चर्चा करेंगे। 

आज का राशिफल

पाएं अपना तीनों तरह का राशिफल, रोजाना