• Hindi News
  • National
  • Pakistan India | Rajnath Singh Statement As India's Accidental Missile Firing Into Pakistan

पाकिस्तान में मिसाइल गिरने पर संसद में रक्षामंत्री का जवाब:राजनाथ बोले- भारत का मिसाइल सिस्टम सुरक्षित और भरोसेमंद; यह हाई लेवल सिक्योरिटी से लैस

3 महीने पहले

रक्षामंत्री राजनाथ सिंह ने संसद में पाकिस्तान पर अनजाने में फायर हुई मिसाइल पर अपना पक्ष रखा। उन्होंने कहा- हम अपने आर्टिलरी सिस्टम को हाई लेवल सिक्योरिटी देते हैं। अगर इसमें कोई कमी मिलती है तो उसे तुरंत दूर किया जाएगा। मैं आश्वस्त करता हूं कि हमारा मिसाइल सिस्टम विश्वसनीय और सुरक्षित है।

भारतीय सेना की बिना हथियारों वाली यह मिसाइल 9 मार्च को पाकिस्तान में 261 किलोमीटर अंदर बसे शहर चन्नू मियां के पास जा गिरी थी। चूंकि इसमें हथियार नहीं थे, इसलिए कोई नुकसान नहीं हुआ था।

पूरी खबर पढ़ने से पहले इस मामले पर अपनी राय जरूर दें...

जांच में पता चलेगा गलती क्यों हुई
राजनाथ सिंह ने आगे कहा- यह घटना मिसाइल की जांच करते वक्त हुई। मिसाइल यूनिट शाम लगभग 7 बजे रेग्युलर मेंटेन्स का काम कर रही थी। तभी गलती से एक मिसाइल छूट गई। बाद में पता चला कि मिसाइल पाकिस्तान के इलाके में गिरी थी। घटना खेदजनक है। लेकिन राहत की बात है कि कोई नुकसान नहीं हुआ।

सरकार ने इस मामले को बहुत गंभीरता से लिया है और उच्च स्तरीय जांच के लिए आदेश दिए गए हैं। घटना के सही कारणों का पता जांच से ही चल पाएगा। हथियारों के मेंटेनेन्स से जुड़ी प्रोसेस की भी समीक्षा की जा रही है।

पाकिस्तान एयरफोर्स के डिप्टी चीफ और दो मार्शल बर्खास्त
भारत की ओर से लॉन्च मिसाइल ट्रैक न कर पाने पर पाकिस्तानी एयरफोर्स के 3 अफसरों को नौकरी से हटा दिया गया है। इनमें डिप्टी चीफ और दो एयर मार्शल शामिल हैं।हालांकि पाकिस्तान में डर बैठ गया है कि भारत रूस के नक्शेकदम पर न चल पड़े। यह अंदेशा भारत में पाकिस्तान के एम्बेसडर रह चुके डॉ. अब्दुल बासित ने जताया है।

कोर्ट ऑफ इंक्वायरी के आदेश जारी
भारत ने अपनी गलती मानते हुए हाईलेवल कोर्ट ऑफ इन्क्वॉयरी के ऑर्डर जारी कर दिए थे। पाकिस्तान के एक जर्नलिस्ट मोहम्मद इब्राहिम काजी ने सोशल मीडिया पर दावा किया था कि भारत से छोड़ी गई मिसाइल का नाम ब्रह्मोस है। इसकी रेंज 290 किलोमीटर है। इंडियन एयरफोर्स इसका स्टॉक राजस्थान के श्रीगंगानगर में रखती है। हालांकि, पाकिस्तानी फौज का दावा है कि यह मिसाइल हरियाणा के सिरसा से दागी गई।

पाक PM इमरान ने दी थी धमकी
पाकिस्तान के प्रधानमंत्री इमरान खान ने 9 मार्च को भारत की तरफ से गलती से चली मिसाइल का मामला उठाते हुए एक तरह से धमकी दी है। रविवार को एक भाषण में खान ने कहा- आप सब जानते हैं कि 9 मार्च को क्या हुआ। भारत की तरफ से हमारे देश पर एक मिसाइल दागी गई। हम चाहते तो उसी वक्त इसका जवाब दे सकते थे, लेकिन हमने होश से काम लिया।
उधर, अमेरिका ने भी कहा है कि भारत से मिसाइल दागा जाना महज एक हादसा है। इसके अलावा कोई संकेत नहीं हैं।

पाकिस्तान के NSA मोईद युसूफ ने उठाए थे सवाल
पाकिस्तान के राष्ट्रीय सुरक्षा सलाहकार मोईद युसूफ ने भारत सरकार की सेंसिटिव टेक्नोलॉजी संभालने की क्षमता पर सवाल उठाए। एक सोशल मीडिया पोस्ट में उन्होंने कहा- दिल्ली को यह कबूल करने में दो दिन से ज्यादा वक्त लगा था कि यह उनकी मिसाइल थी, जो गलती से फायर हो गई। इस हादसे से भारत की सेंसिटिव टेक्नोलॉजी संभालने की काबिलियत पर सवाल खड़े होते हैं।